breaking_newsअन्य ताजा खबरेंकानून की कलम सेकानूनी सलाह
Trending

क्या पार्क में बैठे कपल्स को पुलिस परेशान कर सकती है ? कानून क्या कहता है ?

पार्क में बैठने वाले प्रेमी जोड़ों के पास कोई कानूनी अधिकार होते हैं या नहीं ? ऐसी स्थिति में कोर्ट का क्या मानना है

Is police authorise to disturb couples sitting in park? 

नई दिल्ली 28 मार्च : कई बार ऐसी खबरें देखने-सुनने को मिलती है कि एकांत की तलाश में पार्क में बैठे प्रेमी जोड़ों को पुलिस परेशान करती है या उनके साथ बदतमीजी करने लगते हैं।

कई बार पार्क के सिक्योरिटी वाले भी उन्हें तंग करने लगते हैं। अक्सर प्रेमी जोड़ों को धमकी दी जाती है कि हम तुम्हारे परिवार वालों को बता देंगे या फिर तुम दोनों को थाने में ले चलेंगे।

ऐसे में सवाल उठते हैं कि क्या पुलिस वालों को प्रेमी जोड़ों को परेशान करने का अधिकार है ? पार्क में बैठने वाले प्रेमी जोड़ों के पास कोई कानूनी अधिकार होते हैं या नहीं ? ऐसी स्थिति में कोर्ट का क्या मानना है ? कानून क्या कहता है ?

यह भी पढ़े: क्या आप जानते है क्या फर्क है गारंटी और वारंटी में? दुकानदार न दें तो क्या करें?

पुलिस कब कर सकती है परेशान

भारतीय कानून के अनुसार पुलिस किसी भी कपल्स को कहीं भी बैठने में परेशान नहीं कर सकती है जब तक की वो अश्लीलता न फैलाएं। कोई भी प्रेमी जोड़ा अगर किसी पार्क में अकेले में बैठे हो या फिर बातचीत कर रहे हैं तो पुलिस को कोई अधिकार नहीं होता कि वो उन्हें परेशान करें या धमकाए। हां, अगर ये प्रेमी जोड़े सार्वजनिक स्थल पर कोई अश्लील हरकत करते हो तो उन्हें पुलिस पकड़ सकती है और उन्हें तीन माह तक सजा भी हो सकती है।

अश्लीलता के तहत अश्लील हरकतें करने और अश्लील गीत, गाने बजाना या गाना आता है। किसी भी सार्वजनिक स्थल पर ऐसी हरकत करना कानूनन अपराध की श्रेणी में आता है। ऐसा करने पर 03 महीने की सजा और जुर्माना दोनों का प्रावधान है।

प्रेमी जोड़ों के लिए कानूनी अधिकार

भारत का संविधान हर नगारिक को लाइफ एंड लिबर्टी का अधिकार प्रदान करता है। इसके तहत हर किसी को भी किसी के साथ घूमने, फिरने या बैठने का अधिकार है। ये लोग विपरीत लिंग के भी हो सकते हैं। ऐसे लोगों को पुलिस किसी भी तरह से परेशान नहीं कर सकती है।

यह भी पढ़े: क्या है जमानती और गैर जमानती अपराध..? जानियें विस्तार में

भारतीय संविधान के आर्टिकल 21 के तहत कोई भी बालिग अपने विपरीत लिंग वालों के साथ कहीं भी भ्रमण कर सकता है, बैठ सकता है और शादी कर सकता है। ऐसा करने में किसी भी प्रकार की कोई भी कानूनी अड़चन नहीं है।

गले मिलना नहीं है अश्लीलता

अक्सर पुलिस वाले गले मिलने वाले कपल्स पर भी अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाकर उन्हें परेशान करते हैं। आईपीसी की धारा 294 के अनुसार अगर आप किसी रेस्टोरेंट, होटल, क्लब या फिर किस पार्टी में पैसे अदा कर अपने प्रेमी से गले मिलते हैं तो ये कोई अपराध नहीं है, हां वो स्थान सरकारी नहीं होना चाहिए। कानून स्पष्ट करता है कि दो विपरीत लिंग वाले लोगों का गले मिलना किसी प्रकार की कोई अश्लीलता नहीं है।

क्या करें अगर कोई परेशान करें

 अगर कोई भी पुलिस वाला आपको इस तरह पार्क या किसी सार्वजनिक स्थल पर परेशान करें तो आप तत्काल 100 नंबर पर डायल करें। अगर वहां से कोई कार्रवाई नहीं होती हो तो किसी वरिष्ठ पुलिस पदाधिकारी से शिकायत करें। दोषी पाए जाने पर पुलिसकर्मी सस्पेंड हो सकता है।

यह भी पढ़े: पुलिस एफआईआर(FIR) दर्ज करने से करे इंकार तो क्या करें

अगर आपको भी किसी कानूनी समस्या का समाधान चाहिए, तो आप हमें अपने सवाल नीचे लिखे ईमेल आईडी पर भेज सकते है। आप चाहें तो अपना नाम गुप्त रखने की पेशकश भी कर सकते है। अपनी कानूनी समस्याओं के समाधान के लिए हमें इन ईमेल आईडी पर लिखें:

samaydharadm@gmail.com

contact@samaydhara.com

info@samaydhara.com

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: