breaking_newsअन्य ताजा खबरेंफैशनफैशनलाइफस्टाइल
Trending

सर्दियों का सबसे बड़ा सरदर्द “जूतों की बदबू”- हो परेशान, तो इन बातों का रखे ध्यान

नई दिल्ली, 2 जनवरी : सर्दियों का सबसे बड़ा सरदर्द “जूतों की बदबू”- हो परेशान, तो इन बातों का रखे ध्यान l 

जूतों की बदबू सबसे बदबूदार होती हैl किसी फंक्शन में जाना हो या किसी के ऑफिस में या मंदिर में जब हमें जूते खोलते है

और अगर उसमे से बदबू आ रही हो तो आस पास वाले सारे लोग हमें बहुत ही अलग नजरो से हीन भावना से नाक सिकोड़ने लगते है l

यह हमारे लिए वहा शर्म की बात होटी है l सर्दियों के मौसम में यह आम बात होती है चलिये आज हम आपको बताते है जूतों की देखभाल के तरीके l

सर्दियों में जूतों को खास देखभाल की जरूरत होती है। जूतों को सुरक्षित रखने वाला स्प्रे या वैक्स आपके जूतों की उम्र बढ़ा सकता है।

रेड चीफ के उप महाप्रबंधक (डिजाइन एंड डिजिटल मार्केटिंग) बरुन प्रभाकर ने सदिर्यो में जूतों को सुरक्षित रखने के संबंध में कुछ सुझाव दिए हैं जो इस प्रकार हैं :

* सर्दियों आने पर जूतों को सुरक्षित रखना आपकी प्राथमिकता होती है। आप जूतों के ऊपर स्प्रे लगाकर उसे सुरक्षित रख सकते हैं।

* घर आते ही जूतों को नमी से बचाने के लिए घोड़े के बालों से बने ब्रश या अखबार के कागज से साफ करें।

* चमड़े के जूतों पर शू वैक्स से पॉलिश करना नहीं भूलें। यह जूतों की चमक बरकरार रखता है अगर आप एक हफ्ते से ज्यादा समय से जूते नहीं पहन रहे हैं तो फिर इसे मोटे कागज या बॉक्स से ढक कर रखें।

* जूतों पर पड़े दाग-धब्बे छुड़ाने के लिए विनेगर (सिरका) का इस्तेमाल कर रूई के फाहे से रगड़कर छुड़ाएं।

* जूतों को पहनने से पहले अपने पैरों को जरूर साफ कर लें क्योंकि नमी से इनके अंदर फफूंद लग सकने या जूते खराब होने की संभावना होती है।

* हल्की नमी होने पर जूतों को रैडिएटर या हीटर से नहीं सुखाना चाहिए क्योंकि इससे जूते फट सकते हैं।

इनकी बदबू भगाने के लिए आप घर आने पर पहले जूतों को अच्छी तरह से कागज डालकर उसके अन्दर की नमी को सोख ले फिर उन्हें अच्छी तरह से साफ़ करके धुप में रखे l जब अंदर की नमी निकल जाए तो उन्हें अन्दर से साफ़ करने के बाद पाउडर डाल दे l इनसे उनके अन्दर की बदबू कम हो जाएगी l

जो मौजे(जूराब) आप पहनते है उन्हें रोज बदले व् साफ़ जुराबे ही पहने इससे उनमे बदबू नहीं लगेगी  l

(इनपुट आईएएनएस से)

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: