breaking_newsये क्या
Trending

जो चाहोगे वो मिलेगा…रात के इस समय मांगी…आपकी हर इच्छा होगी पूरी!

अब आप सोचोगे कि वो दिन का वो कौन सा वक्त या टाइम है जब आपकी मांगी हर इच्छा या मुराद पूरी हो सकती है?

नई दिल्ली,13 जुलाई:Lucky time-Your all wishes come true- दोस्तों कई बार आपने खुद भी देखा होगा कि किसी को मन में याद किया

और तुरंत ही वो व्यक्ति या तो आपके घर आ गया या फिर उसका फोन आ गया।

बहुत बार शायद आपने इस चीज को भी महसूस किया कि देर से ही सही लेकिन

आपकी बोली या कही गई कुछ बातें अक्सर सच साबित हो जाती है।

ये सब कोई इत्तेफाक नहीं है। बल्कि कहा जाता है कि दिन के चौबीस घंटों में कोई न कोई ऐसा वक्त होता है

जब मां सरस्वती आपकी जुबान पर बैठ जाती है और आपकी बोली या सोची हर बात सच साबित हो जाती है।

फिर चाहे वो बात बुरी हो या अच्छी। इसलिए कहा भी जाता है कि हमेशा अच्छा सोचो और अच्छा बोलो

खैर, ये तो लौकिक जगत में प्रचलित बात हुई।

लेकिन क्या आपको पता है कि इस बात में पूरी सच्चाई है कि दिन में एक ऐसा वक्त सच (Lucky time-Your all wishes come true) में आता है

जब आप जो भी मांगोगे और चाहोगो वो आपको मिल ही जाता है। 

अब आप सोचोगे कि वो दिन का वो कौन सा वक्त या टाइम है जब आपकी मांगी हर इच्छा या मुराद पूरी हो सकती है?

तो चलिए प्रचलित मान्यताओं के आधार पर आज हम आपको बता ही देते है कि

दिन का वो कौन सा वक्त है जब आपकी मांगी गई हर मुराद या इच्छा पूरी हो ही(Lucky time-Your all wishes come true) जाएगी।

इस समय मांगे अपनी हर मुराद या इच्छा-Lucky time-Your all wishes come true

कहा जाता है कि दिनभर में कोई एक वक्त पर मां सरस्वती हमारी जुबान पर बैठ जाती है

इसलिए हमेशा सकारात्मक सोचो और बोलो लेकिन कितना ही अच्छा हो अगर ये समय आपको पता हो।

तो अब हम आपको बता रहे है कि वो कौन सा समय है जब आप जो मांगोगे वो आपको मिल जाएगा।

मध्यरात्रि 3:10 से 3: 20 मिनट यानि 10 मिनट का ये समय वो समय होता है

जब आप अपने इष्टदेव से सच्चे मन से जो भी मांगोगे वो आपको मिल ही जाएगा।

बस कुछ बातों का आपको खास ध्यान रखना है।

ऐसे पूरी करें अपनी हर इच्छा-Lucky time-Your all wishes come true

1.दोस्तों अपनी हर इच्छा पूरी करने के लिए सबसे पहले आपको मध्यरात्रि 3:10 से 3: 20 मिनट

के दौरान एक पेपर पर अपनी इच्छा लिखी है।

2.जो भी आप जिंदगी से चाहते हो या जो भी आपकी इच्छा है उसे आपको एक पेपर पर लिखना है।

3.इसके बाद ऊपर बताएं गए दस मिनट के दौरान ही आपको एक ऊनी आसन को जमीन पर बिछाकर बैठ जाना है।

4.ध्यान रहें ये ऊनी आसन नया होना चाहिए। घर में रखा पुराना नहीं।

आप घर के पुराने कपड़े इस्तेमाल नहीं कर सकते।

5.अब इस विधि को शुरू करने से पहले इस बात का विशेष ख्याल रखें कि आप जहां भी अपने

ईश्वर का ध्यान करने जा रहे है वहां कोई आपको देख न रहा हो या आपको किसी प्रकार की टोक न लगाएं।

6.ऊनी आसन को जमीन पर बिछाकर बैठ जाएं और पेपर पर लिखी अपनी इच्छा को

मन में 3:10 से 3:20 मिनट तक बोले और साथ ही महसूस करें कि जो भी आपकी इच्छा है वो पूरी हो गई है।

7.ध्यान रहें जब आप ध्यान में बैठे तो किसी प्रकार का दुख,तकलीफ या बातें अपने दिमाग में न लाएं।

ये सब किसी चमत्कार से नहीं बल्कि आपकी ही अंदरूनी ताकत के कारण होगा।

8.जब आप पूरी शिद्दत से अपने मन को केवल इन दस मिनटों में एकाग्र कर लेंगे और अपनी

मनचाही मुराद या इच्छा को अपने ईश्वर को बताएंगे तो यकीनन आपकी हर इच्छा पूरी होगी।

9.अगर आप किसी की बर्बादी या किसी को तबाह करने या फिर धोखा देने की इच्छा रखते है

और इन दस मिनटों का इस्तेमाल करते है तो आपकी बोली गई इच्छा कभी भी सच नहीं होगी।

10.दरअसल, ये टेक्नीक ब्रह्मांड में हमारे द्वारा भेजी गई पॉजिटिव सोच पर काम करती है।

बस रात के 3:10 से 3:20 तक का समय वो समय होता है जब ब्रह्मांड में हमारी भेजी गई पॉजिटिव एनर्जी

तेजी से जाती है और हम जो भी पॉजिटिव चाहते है वहीं हमें मिल जाता है।

11.अक्सर ध्यान लगाने में सबसे बड़ी परेशानी यह होती है कि मस्तिष्क में बातें चलती रहती है,

लेकिन आपको इन्हें ही कंट्रोल करके पूरी एकाग्रता के साथ अपनी इच्छा बोलनी है।

12.अपने मन को कंट्रोल करने के लिए ऊनी आसन को जमीन पर बिछाकर पहले तो बैठ जाएं

फिर कुछ देर अपनी सांस को अंदर रोककर बाहर छोड़े।

13.इस क्रिया को करने से आप एक प्रकार का मेडिटेशन करेंगे और बहुत रिलैक्स फील करेंगे।

14.ऐसा करने के कुछ ही क्षण बाद आप देखेंकि दिमाग में चल रहा दुख या बातें गुम हो गई है

और केवल आप अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी इच्छा या मुराद या विश को याद रखे हुए है।

15.रात के इन दस मिनटों में बस आपको अपनी पेपर पर लिखी ये इच्छा 21 दिनों तक बोलनी है

और इसी तरह ऊनी आसन पर बैठकर 21 रातों तक ये काम करना है।

16. 21 दिन बाद आप अपने जीवन में खुद देखेंगे कि चमत्कार होने लगा है और

आपने जो चाहा वो आपको मिल गया है।

17. ध्यान रहें कि अपनी इच्छा मांगने के दौरान गलती से भी कोई बुरी बात या

बुरा ख्याल या कोई दुख अपने मन में न लाएं

केवल और केवल पूरा ध्यान आपकी मनचाही मुराद को पूरा करने पर होना चाहिए।

 

 

 

 

 

 

नोट: उपरोक्त बताई गई विधि प्रचलित लौकिक मान्यता के आधार पर लिखी गई है। समयधारा इसकी सटीकता या प्रमाणिकता की पुष्टि नहीं करती।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: