breaking_news Home slider अन्य ताजा खबरें

दो दिनों तक ‘भंडाफोड़’ अभियान के साथ राष्ट्रीय राजधानी की जनता के बीच जाएगी कांग्रेस

New Delhi: Congress workers led by Delhi party Chief Ajay Maken stage a demonstration against Prime Minister Narendra Modi in New Delhi on Dec 27, 2016. (Photo: IANS)

नई दिल्ली, 28 दिसंबर:  कांग्रेस की दिल्ली इकाई अगले दो दिनों तक ‘भंडाफोड़’ अभियान के साथ राष्ट्रीय राजधानी की जनता के बीच जाएगी, जिसमें पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भ्रष्टाचार की कथित स्वीकारोक्ति का खुलासा करेगी। कांग्रेस के अनुसार, मोदी ने गुजारत का मुख्यमंत्री रहते हुए रिश्वत लेने की बात स्वीकार की है।

चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन पर अभियान की शुरुआत करते हुए दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति (डीपीसीसी) के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि मोदी कहते हैं कि ‘ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा’, लेकिन अब उन पर आदित्य बिरला समूह और सहारा समूह से 65 करोड़ रुपये का रिश्वत स्वीकार करने का आरोप है।

माकन ने कहा, “वह इस मुद्दे पर आखिर चुप क्यों हैं? पूरा देश मोदी के 65 करोड़ रुपये के रिश्वत घोटाले पर मोदी की सफाई का इंतजार कर रहा है।”

माकन ने कहा कि मोदी को स्पष्ट करना होगा कि उन्हें यह रुपये पार्टी के नाम पर लिए या खुद के लिए।

कांग्रेस नेता ने कहा, “मोदी ने अब तक लोकपाल की नियुक्ति नहीं की है, क्योंकि उन्हें डर है कि लोकपाल द्वारा अपने खिलाफ स्वतंत्र जांच से उनके भ्रष्टाचार की पोलपट्टी खुल जाएगी।”

माकन ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) में बड़ी संख्या में गुजरात काडर के अधिकारियों की नियुक्ति पर भी सवाल खड़े किए।

उन्होंने कहा, “वह ऐसा इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि यदि सर्वोच्च न्यायालय उनके खिलाफ सीबीआई जांच का आदेश दो तो वे अधिकारी उन्हें बचा लें।”

ज्ञात हो कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने 21 दिसंबर को गुजरात के मेहसाणा में एक जनसभा के दौरान मोदी पर दोनों उद्योग समूहों से रिश्वत लेने का आरोप लगाया था।

हालांकि भाजपा ने इन आरोपों से इनकार किया है।

–आईएएनएस

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment