breaking_news Home slider अन्य ताजा खबरें

मोदी पहुंचे मुंबई, शिवाजी स्मारक के लिए की जल पूजा; कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने नजरबंद रखने का लगाया आरोप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुंबई तट के करीब अरब सागर में छत्रपति शिवाजी महाराज के भव्य स्मारक के लिए 'जल पूजा' की (Photo: IANS/PIB)

मुंबई, 24 दिसम्बर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय वायुसेना के एक विमान से महाराष्ट्र के दिनभर के दौरे पर यहां पहुंचे। यहां वह दिनभर कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया मोदी छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर दोपहर पहुंचे, जहां महाराष्ट्र के राज्यपाल सी. विद्यासागर राव, मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस और कई अन्य शीर्ष अधिकारियों ने उनकी अगुवाई की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुंबई तट के करीब अरब सागर में छत्रपति शिवाजी महाराज के भव्य स्मारक के लिए ‘जल पूजा’ की। वह भारतीय तट रक्षक के एक होवरक्राफ्ट से पूजा करने पहुंचे। इस स्मारक के निर्माण में 3,600 करोड़ रुपये की लागत आएगी। ‘शिव स्मारक’ का निर्माण अरब सागर में मुंबई तट से 1.5 किलोमीटर दूर होगा।

इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ राज्यपाल सी.विद्यासागर राव, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस तथा अन्य लोग मौजूद थे।

भारतीय तट रक्षक का होवरक्राफ्ट शनिवार दोपहर गिरगाउम चौपाटी से रवाना हुआ, जिसमें महान मराठा योद्धा के वंशज उदयन राजे भोसले तथा शंभाजी राजे भोसले भी अन्य गणमान्य लोगों के साथ मौजूद थे।

परियोजना के लिए अरब सागर में चिन्हित जगह पर मोदी ने जल पूजा के लिए तांबे के एक पात्र से जल छिड़का और कुछ मिट्टी रखी।

बाद में गिरगाउम चौपाटी लौटने पर उनका पारंपरिक महाराष्ट्रीयन बैंड द्वारा स्वागत किया गया, जहां उन्होंने बिगुल व तुतड़ी के बीच स्मारक के लिए एक अन्य ‘भूमि पूजा’ की।

महाराष्ट्र कांग्रेस ने मोदी के दौरे के दौरान नोटबंदी के विरोध में अपनी शांतिपूर्ण रैली को रोके जाने को लेकर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)-शिवसेना की कड़ी आलोचना की।

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरूपम ने एक बयान में कहा कि शुक्रवार रात से ही उन्हें पुलिस ने नजरबंद कर दिया था और अंधेरी स्थित अपने घर से निकलने की अनुमति नहीं दी।

उन्होंने कहा, “यह क्या है, प्रधानमंत्री मोदी? हम लोकतांत्रिक राष्ट्र में रहते हैं, यह तो हिटलर-राज की तरह है। हमें अपनी समस्याओं को शांतिपूर्ण तरीके से भी उठाने की अनुमति नहीं दी गई।”

निरूपम ने कहा, “मीडिया को मुझसे मिलने से रोका गया और मुझे नजरबंद रखा गया।”

वहीं, महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा, “इससे स्पष्ट हो गया है कि भाजपा सरकार बुरी तरह डरी हुई व क्षुब्ध है। यह एक शांतिपूर्ण प्रदर्शन को भी स्वीकार करने लायक नहीं रह गई है।”

सावंत ने कहा, “हम संजय निरूपम को नजरबंद करने की निंदा करते हैं। यह भारतीय लोकतंत्र के लिए काला दिन है। यह कदम इस बात की पुष्टि करता है कि भाजपा सरकार परपीड़क तथा फासीवादी मानसिकता की है, जो नागरिकों के शांतिपूर्ण तरीके से विरोध-प्रदर्शन करने के मौलिक व संवैधानिक अधिकार प्रदान करने से इंकार करती है।”

जल पूजन तथा भूमि पूजा करने के बाद मोदी कई और कार्यक्रमों में शिरकत करने के लिए मध्य मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स के लिए रवाना हो गए।

–आईएएनएस

 

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment

अन्य ताजा खबरें