breaking_newsअन्य ताजा खबरेंक्रिकेटखेल
Trending

Live Score 1st T20 : भारत का टॉस जीत गेंदबाजी का फैसला उल्टा, NZ- 85/0 (8.0)

वेलिंग्टन, 6 फरवरी : 

भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने बुधवार को यहां वेस्टपैक स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टी-20 मैच में

न्यूजीलैंड के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। भारत ने वनडे सीरीज में न्यूजीलैंड को 4-1 से मात दी थी।

वह इस तीन मैचों की टी-20 सीरीज में भी अपने विजयी क्रम को बरकरार रखना चाहेगा। 

वहीं किवी टीम वनडे में शर्मनाक हार की भरपाई टी-20 में जीत हासिल कर करना चाहेगी। टी-20 में किवी टीम भारत पर हावी रही है।

दोनों टीमों के बीच अभी तक कुल नौ टी-20 मैच खेले गए हैं जिसमें से छह में न्यूजीलैंड ने बाजी मारी है

तो वहीं दो में भारत ने जीत हासिल की है जबकि एक मैच का परिणाम नहीं निकल सका। 

भारत के लिए चिंता की बात यह है कि उसने अभी तक न्यूजीलैंड की जमीन पर उसके खिलाफ एक भी टी-20 नहीं जीता है।

भारत ने दोनों टी-20 मैच अपने घरे में ही जीते हैं। 

युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत को टीम में चुना गया है। वहीं भारत ने इस मैच में तीन हरफनमौला खिलाड़ियों के साथ उतरने का फैसला किया है।

टीम में विजय शंकर, हार्दिक और क्रूणाल पांड्या को चुना गया है। केदार जाधव को टीम में जगह नहीं मिली है। 

न्यूजीलैंड के लिए डार्ली मिशेल पदार्पण कर रहे हैं। 

टीम : 

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, ऋषभ पंत, विजय शंकर, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर),

हार्दिक पांड्या, क्रूणाल पांड्या, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार और खलील अहमद। 

न्यूजीलैंज : केन विलियम्सन (कप्तान), कोलिन मनुरो, टिम सेइफेर्ट (विकेटकीपर), रॉस टेलर, डार्ली मिशेल,

कोलिन डी ग्रांडहोम, मिशेल सैंटनर, स्कॉट कगलेजिन, टिम साउदी, ईश सोढ़ी, लॉकी फग्र्यूसन। 

आईएएनएस

 

Tags

समयधारा

समयधारा एक तेजी से उभरती हिंदी न्यूज पोर्टल है। जिसका उद्देश्य सटीक, सच्ची और प्रामाणिक खबरों व लेखों को जनता तक पहुंचाना है। समयधारा ने अपने लगभग महज चार साल के सफर में बिना मूल्यों से समझौता किए क्वांटिटी से ज्यादा क्वालिटी कंटेंट पर हमेशा ज़ोर दिया है। एक आम मध्मय वर्गीय परिवार से निकली लड़की रीना आर्य के सपनों की साकार डिजिटल मूर्ति है- समयधारा। रीना आर्य समयधारा की फाउंडर, एडिटर-इन-चीफ और डायरेक्टर भी है। उनके साथ समयधारा को संपूर्ण बनाने में अहम भूमिका निभाई है समयधारा के को-फाउंडर-धर्मेश जैन ने। एक आम मध्यमवर्गीय परिवार में जन्में धर्मेश जैन पेशे से बिजनेसमैन रहे है और लेखन में अपने जुनूूून के प्रति उन्होंने समयधारा की नींव रखने में अहम रोल अदा किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: