Home sliderअन्य ताजा खबरेंक्रिकेटखेल

जब छाए भारत का जादू…. कोई बच न पाए….

धर्मशाला, 16 अक्टूबर : हाल ही में टेस्ट श्रृंखला में न्यूजीलैंड को 3-0 से मात देने के बावजूद भारतीय टीम पांच मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला में कीवी टीम के खिलाफ आज हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) स्टेडियम में अपने पहले मैच में पूरी तैयारी के साथ उतरेगी। महेंद्र सिंह धौनी की टीम मेहमान टीम की शक्तियों से पूरी तरह वाकिफ है। एचपीसीए स्टेडियम की पिच तेज गेंदबाजों के लिए काफी कारगार है। कीवी टीम को भी अपने तेज गेंदबाजों पर भरोसा रहा है। इनकी बदौलत उसने अपने पांच में से पिछले चार मुकाबले जीते हैं। हाल ही में उसने आस्ट्रेलिया को भी हराया है और इसी कारण भारत को एकदिवसीय सीरीज अपने नाम करने के लिए काफी मेहनत करनी होगी।

एकदिवसीय श्रृंखला के लिए इस बार कीवी टीम के कप्तान केन विलियमसन के पास अच्छे खिलाड़ी हैं। टीम में तेज गेंदबाज टिम साउदी और हरफनमौला खिलाड़ी कोरी एंडरसन की वापसी हुई है, जो न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी कर सकते हैं।

विलियमसन को हालांकि उनके दो अनुभवी बल्लेबाजों रॉस टेलर और मार्टिन गुप्टिल से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। टेस्ट श्ऱृंखला में इन दोनों बल्लेबाजों का प्रदर्शन खास नहीं रहा।

भारत के खिलाफ खेली गई टेस्ट श्रृंखला में छह पारियों में गुप्टिल ने कुल 159 रन ही बनाए। हालांकि, इसका प्रभाव वह एकदिवसीय श्रृंखला पर नहीं पड़ने देंगे। सलामी बल्लेबाज का क्रिकेट खेल के छोटे प्रारूप में स्ट्राइक रेट 43.25 की औसत के साथ 86.08 का रहा है और वह विश्व के पांच बल्लेबाजों में से एक हैं, जिन्होंने 50 ओवरों में दोहरा शतक जड़ा है।

न्यूजीलैंड के पास इस बार भारत के खिलाफ पहली एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय श्रृंखला जीतकर इतिहास रचने का सुनहरा अवसर है और इसके लिए कीवी टीम पूरी तरह से विलियमसन पर निर्भर रहेगी।

न्यूजीलैंड के कप्तान को इस बार अपनी टीम में स्थिरता को बनाए रखने और अधिक से अधिक रन बनाने की जरूरत है।

भारतीय टीम के लिए टेस्ट श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जड़ेजा को एकदिवसीय श्रृंखला के लिए आराम दिया गया है और इस कारण कीवी टीम ने थोड़ी राहत की सांस ली है।

एकदिवसीय श्रृंखला के पहले तीन मुकाबले भारतीय टीम के लिए थोड़े मुश्किल साबित हो सकते हैं, क्योंकि अश्विन, जड़ेजा के साथ-साथ तेज गेंदबाज मोहम्मद समी को भी आराम दिया गया है। वहीं, लोकेश राहुल, भुवनेश्वर कुमार और शिखर धवन के चोटिल होने के कारण मनदीप सिंह, मनीष पांडे, अक्षर पटेल और धवल कुलकर्णी को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला है।

भारतीय टीम में न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के लिए सुरेश रैना को भी जगह दी गई है। हालांकि, वह बीमार होने के कारण पहले मुकाबले में नहीं खेल पाएंगे।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ इंडिया-ए दौरे पर अच्छा प्रदर्शन करने वाले मनीष को हार्दिक पंड्या के साथ कीवी टीम के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के लिए भारतीय टीम में जगह मिली है और इस कारण कप्तान धौनी मध्यम क्रम में कोहली के साथ मैदान पर उतर सकते हैं। वहीं, अजिंक्य रहाणे को रोहित के साथ भारतीय पारी की शुरुआत का मौका मिल सकता है। केदार जाधव को टीम के लिए खेलने का अवसर मिलने की संभावना है।

धर्मशाला के बाद 20 अक्टूबर को दूसरी एकदिवसीय मुकाबला दिल्ली में, तीसरा मोहाली में 23 अक्टूबर को, रांची में 26 अक्टूबर को चौथा और विशाखापत्तनम में 29 अक्टूबर को पांचवा एकदिवसीय मुकाबला खेला जाएगा।

टीमें :

भारत : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान-विकेटकीपर), रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली, मनीष पांडे, सुरेश रैना, हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, जयंत यादव, अमित मिश्रा, जसप्रीत बुमराह, धवल कुलकर्णी, उमेश यादव, मनदीप सिंह और केदार जाधव ।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), कोरी एंडरसन, ट्रेंट बाउल्ट, डोग ब्रेसवैल, एंटोन डेविक, मार्टिन गुप्टिल, मैट हेनरी, टॉम लाथम, जेम्स नीशम, ल्यूक रोंची (विकेटकीपर), मिशेल सेंटनर, ईश सोढी, टिम साउदी, रौस टेलर और बी.जे.वॉटलिंग (विकेटकीपर)

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: