अफ्रीका को हरा इंग्लैंड ने रखा फाइनल में कदम

ब्रिस्टल, 18 जुलाई : मेजबान इंग्लैंड ने मंगलवार को आईसीसी महिला विश्व कप के पहले सेमीफाइनल मैच में दक्षिण अफ्रीका को रोमांचक मुकाबले में दो विकेटों से मात देते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया है। इंग्लैंड ने पहले शानदार गेंदबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट पर 218 रनों पर ही सीमित कर दिया और फिर इस लक्ष्य को दो गेंद शेष रहते हुए आठ विकेट खोकर हासिल कर लिया।

इंग्लैंड की टीम फाइनल में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच खेले जाने वाले दूसरे सेमीफाइनल मैच की विजेता से भिड़ेगी। दूसरा सेमीफाइनल गुरुवार को खेला जाएगा।

इंग्लैंड की तरफ से प्लेयर ऑफ द मैच सारा टेलर ने सर्वाधिक 54 रन बनाए। अंत में जैनी गन का 27 गेंदों का योगदान भी इंग्लैंड की जीत में अहम साबित हुआ।

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड को लॉरन विनफील्ड (20) और टैमी बेयुमोंट (15) ने सधी हुई शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 42 रन जोड़े। यह दोनों खिलाड़ी 62 के कुल स्कोर तक पवेलियन लौट चुकी थीं। 

इंग्लैंड थोड़े दवाब में थी, लेकिन टेलर और हीथर नाइट (30) ने तीसरे विकेट के लिए 78 रनों की साझेदारी करते हुए दबाव से बाहर निकाला। इस जोड़ी ने किसी तरह की जल्दबाजी नहीं की और समय लेते हुए रन बनाए। दोनों ने 19.1 ओवरों में 4.06 की औसत से रन जोड़े। 

76 गेंदों का सामना कर सात चौके मारने वाली सारा 139 के कुल स्कोर पर रन आउट हो गईं। कप्तान नाइट भी तीन रन बाद आउट होकर पवेलियन लौट गइर्ं। नताली स्काइवर तीन रनों का ही योगदान दे सकीं। उनके रूप में 145 के कुल स्कोर पर इंग्लैंड का पांचवां विकेट गिरा। 

यहां एक बार फिर इंग्लैंड पर संकट था। फ्रान विल्सन (30) और कैथरीन ब्रंट (12) ने टीम को जीत के करीब ले जाने की कोशिश की, लेकिन यह साझेदारी 173 के कुल स्कोर पर टूट गई। ब्रंट, मोसेलिने डेनियल्स की गेंद पर बोल्ड होकर पवेलियन लौटीं।

अंत में विल्सन ने गन के साथ मिलकर टीम को मुश्किल समय में बिखरने नहीं दिया और टीम को जीत के करीब पहुंचाया। टीम को जब 13 गेंदों में छह रनों की जरूरत थी तभी विल्सन आउट हो गईं। विल्सन ने 38 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके लगाए। 

गन ने अंत में आकर 27 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से नाबाद पारी खेली। एनया श्रबसोले ने चौका मार टीम की फाइनल में पहुंचाया।

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से अयाबोंगा खाका और सुने लुस ने दो-दो विकेट लिए। शबनम इस्माइल, मारिजाने कैप और डेनियल्स को एक-एक सफलता मिली। एक बल्लेबाज रन आउट हुई।

इससे, पहले इंग्लैंड की गेंदबाजों ने सटीक लाइन लैंग्थ के साथ गेंदबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को बड़ा स्कोर करने से रोका। 

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से मिग्नोन डु प्रीज ने सर्वाधिक नाबाद 76 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज लॉरा वोलवार्डट ने 66 रनों का योगदान दिया। 

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दक्षिण अफ्रीका टीम की शुरुआत खराब रही। उसने 21 रनों पर ही अपना पहला विकेट खो दिया। लिजेली ली (7) छठे ओवर में पवेलियन लौट गई थीं। तृषा चेट्टी ने 15 रनों का योगदान दिया। वह 48 के कुल स्कोर पर आउट हुईं।

यहां से प्रीज और वोलवार्ट ने टीम को संभाला और सौ का आंकड़ा पार कराते हुए तीसरे विकेट के लिए 77 रन जोड़े। 125 के कुल स्कोर पर वोलवार्ट आउट हो गईं। उन्होंने 100 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके लगाए। 

इसके बाद प्रीज अकेली संघर्ष करती रहीं। दूसरे छोर पर साथ न मिल पाने के कारण वह रन गति को बढ़ाने में भी असफल रहीं। उन्होंने 95 गेंदों का सामना किया और पांच चौके लगाए। 

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close