breaking_news Home slider अन्य खेल खबरें अन्य ताजा खबरें खेल

प्रो-कबड्डी लीग सीजन-5 : हजारों दर्शक व भारत माता की जय के साथ शानदार आगाज

साभार आईएएनएस

हैदराबाद, 28 जुलाई :  बालीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने राष्ट्रगान के बाद तीन बार- भारत माता की जय का नारा लगाया और गचीबावली स्टेडियम में मौजूद पांच हजार के करीब दर्शकों ने जोरदार उत्साह के साथ उनका साथ दिया। इसी के साथ देश में कबड्डी का पर्याय बन चुके वीवो प्रो-कबड्डी लीग सीजन-5 का शुक्रवार को आगाज हुआ। सफेद रंग के बंद गले के कोट में ‘मिस्टर खिलाड़ी’ ने उत्साह के साथ स्टेडियम में प्रवेश किया और फिर मैट के मध्य में रखी ट्राफी के पास मौजूद मेजबान तेलुगू टाइटंस और पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की मालिकना हक वाली नवप्रवेशी टीम तमिल थालाइवाज के खिलाड़ियों के पास आकर राष्ट्रगान गाया।

इससे पहले, सचिन तेंदुलकर, दक्षिण के सुपरस्टार चिरंजीवी ने मैट पर आकर दर्शकों का अभिवादन स्वीकार किया। सचिन ने कहा कि कबड्डी फैन तो वह बचपन से ही थे लेकिन अब कबड्डी टीम के मालिक बनकर वह काफी खुश हैं।

उद्घाटन समारोह की शुरुआत कलाकारों द्वारा पेश किए गए आधुनिक नृत्य से हुई। इसके बाद ट्राफी मैट के मध्य में लाई गई। फिर सभी 12 टीमों के कप्तान मैट पर पहुंचे। जब मेजबान टीम के कप्तान राहुल चौधरी की बारी आई तो पूरा स्टेडियम राहुल-राहुल के नारे से गुंजायमान हो गया।

अपनी आगामी फिल्म ‘टॉयलेट : एक प्रेम कथा’ की रिलीज का इंतजार कर रहे अक्षय कुमार और सचिन के अलावा उद्घाटन समारोह में ‘बाहुबली’ के भल्लालदेव राणा दग्गुबाती, दक्षिण भारतीय फिल्म के लोकप्रिय अभिनेता अल्लु अर्जुन, राम चरण तथा फिल्म निर्माता एवं वितरक अल्लु अरविंद आकर्षण का केंद्र रहे।

उद्घाटन समारोह में खेल जगत से कई जाने-माने लोग शामिल हुए। इनमें हाल ही में इंडोनेशिया ओपन और सिंगापुर ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट जीत कर सुर्खियां बटोरने वाले बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत, उनके गुरु और दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद, बी. साई प्रणीत और 2008 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले बैडमिंटन खिलाड़ी गुरु साईदत्त भी उपस्थित रहे।

आईसीसी महिला विश्व कप-2017 के फाइनल में पहुंचने वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज भी समारोह में मौजूद थीं।

लीग का नया सीजन नए रूप में सबके सामने है। इस बार आठ नहीं, बल्कि 12 टीमें एक दूसरे से अगले सवा तीन माह तक प्रतिस्पर्धा करती नजर आएंगी। इस साल कुल 138 मैच खेले जाने हैं।

–आईएएनएस