breaking_newsअन्य खेल खबरेंअन्य ताजा खबरेंखेल
Trending

पीवी सिंधु की ऐतिहासिक जीत, वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं

पीवी सिंधु को इस ऐतिहासिक जीत पर पीएम मोदी, खेल मंत्री रिजिजू और विपक्षी नेता राहुल गांधी ने बधाई दी है

बासेल (स्विट्जरलैंड), 26 अगस्त : PV Sindhu win gold at BMW World Championships- भारतीय बैडमिंटन स्टार खिलाड़ी पीवी सिंधु ने ऐतिहासिक जीत हासिल की (PV Sindhu creates history) है।

पीवी सिंधु वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने (PV Sindhu win gold at BMW World Championships) वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन (become first Indian winner) गई है।

उन्होंने यह जीत अपनी मां के जन्मदिन पर हासिल की है और इसे अपने कोच का आशीर्वाद माना है और अपनी मां को समर्पित किया है।

24 वर्षीय पीवी सिंधु उन धुरंधर खिलाड़ियों में सर्वोपरि है जिन्होंने वर्ल्ड लेवल पर भारत को गौरवान्वित किया है।

वर्ष 2013 और 2014 में पीवी सिंधु ने कांस्य पदक और रजत पदक वर्ष 2017 और 2018 में जीता था।

बस बीते दो बार से सिंधु गोल्ड मेडल जीतने से चूक रही थी लेकिन इसकी भरपाई भी आखिरकार इस

वर्ष 2019 में पीवी सिंधु ने  स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच ही (PV Sindhu win gold at BMW World Championships) दिया।

पीवी सिंधु को इस ऐतिहासिक जीत पर पीएम मोदी, खेल मंत्री रिजिजू और विपक्षी नेता राहुल गांधी ने बधाई दी है।

 

सिंधु ने इस बार और कुशल तैयारी की और वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में उतरी।

क्वार्टर में उन्होंने पूर्व वर्ल्ड चैंपियन ताई जू यिंग को हराया। फिर सेमीफाइनल में सिंधु ने केवल

40 मिनट में अपनी चीनी कांप्टिटर शेन यू फेई को हरा दिया था। 

इसके बाद  पी वी सिंधू (PV Sindhu) रविवार को बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप (BMW World Championships) के एकतरफा फाइनल में जापान की प्रतिद्वंद्वी

नोजोमी ओकुहारा को हराकर स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय बन (PV Sindhu win gold at BMW World Championships, become first Indian winner) गईं

फाइनल मुकाबले में रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी ने 38 मिनट में 21-7 21-7 से आसान जीत दर्ज की।

सिंधू ने इसके साथ ही दो साल पहले इस टूर्नामेंट के फाइनल में ओकुहारा से मिली हार का बदला भी ले लिया।

विश्व चैम्पियनशिप में सिंधू का यह पांचवां पदक है। पदकों की संख्या के मामले में सिंधू ने चीन की

पूर्व ओलंपिक चैम्पियन झांग निंग की रिकॉर्ड की बराबरी की। सिंधू ने दो कांस्य पदक के साथ टूर्नामेंट

के पिछले दो सत्र में दो रजत पदक भी हासिल किया है।

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: