breaking_newsअन्य ताजा खबरेंटेक न्यूजटेक्नोलॉजीसोशल मीडिया
Trending

स्मार्ट फोन आपके लिए स्मार्टगिरी या फिर आफत से भरी..!!

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

नई दिल्ली, 25 अप्रैल (समयधारा) : स्मार्ट फोन आपके लिए स्मार्टगिरी या फिर आफत से भरी..!!

मोबाइल एक वरदान या खुशियों का बलिदान l  मोबाइल फोन आधुनिक युग का प्यारा सा खतरा..?

जी हाँ सुनकर चोंक गए न आप कि आपका प्यारा मोबाइल ख़तरा या खतरनाक भी हो सकता है l 

आये दिन आपने सोशल मीडिया में या अख़बारों में इस बारे में पढ़ा होगा और सूना भी होगा l

पर कभी गंभीरता से इसके बारे  कभी सोचा नहीं होगा l

कहते है न इंसान तब तक नहीं जागता जब तक उसे कोई जगाता नहीं ..!

समझदारी उसी में है जब बारिश आने से पहले ही छतरी या उससे बचने का हम इंतजाम न कर दें l

मोबाइल भी आज हमारी लाइफ में उसी तरह एक अलर्ट लेकर आया है l 

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble
smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

UIDAI का नंबर आपके स्मार्टफोन में खुद-ब-खुद हुआ सेव,UIDAI का दावा- फर्जी है हमने नहीं किया

You Tube के इस वीडियो से देश भर में फ़ैल रहा है मौत का खतरनाक खेल.. हो जाए सावधान

जिस तरह बारिश या पानी के बिना जिया नहीं जा सकता ठीक उसी तरह आज मोबाइल के बिना नहीं रहा जा सकता l 

किशोरों व बच्चों के अधिक समय तक फोन पर लगे रहने से उनके मस्तिष्क पर बुरा असर पड़ सकता है

और उनमें अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिस्ऑर्डर (एडीएचडी) के लक्षण उत्पन्न हो सकते हैं।

जामा नामक पत्रिका में हाल ही में प्रकाशित एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ है।

शोध के अनुसार, अक्सर डिजिटल मीडिया उपयोग करने वालों में

एडीएचडी के लक्षण लगभग 10 प्रतिशत अधिक होने का जोखिम दिखाई देता है।

Facebook को बाय बाय कह एलेक्स स्टैमोस स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाएंगे

Microsoft Surface Go – इतनी कम कीमत में वो भी ‘टैबलेट’ विश्वास ही नहीं होता..!

लड़कियों के मुकाबले लड़कों में यह जोखिम अधिक है और उन किशोरों में भी अधिक मिला

जिन्हें पहले कभी डिप्रेशन रह चुका है। एडीएचडी के कारण स्कूल में खराब परफॉर्मेंस

सहित किशोरों पर कई अन्य नकारात्मक प्रभाव हो सकते हैं।

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

इससे जोखिम भरी गतिविधियों में दिलचस्पी, नशाखोरी और कानूनी समस्याओं में वृद्धि हो सकती है।

हार्ट केयर फाउंडेशन (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा,

“स्मार्टफोन की बढ़ती लोकप्रियता के साथ युवाओं में फेसबुक, इंटरनेट,

ट्विटर और ऐसे अन्य एप्लीकेशंस में से एक न एक का आदी होने की प्रवृत्ति आम है।

इससे अनिद्रा और नींद टूटने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble
smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

SAMSUNG का नया सुपर पॉवर स्मार्ट फ़ोन का फर्स्ट लुक आउट, देख के उड़ जायेंगे होश

लोग सोने से पहले स्मार्ट फोन के साथ बिस्तर में औसतन 30 से 60 मिनट बिताते हैं।” 

उन्होंने कहा, “मोबाइल फोन के उपयोग से संबंधित बीमारियों का

एक नया स्पेक्ट्रम भी चिकित्सा पेशे के नोटिस में आया है और यह अनुमान लगाया गया है कि

अब से 10 साल में यह समस्या महामारी का रूप ले लेगी।

इनमें से कुछ बीमारियां ब्लैकबेरी थम्ब, सेलफोन एल्बो, नोमोफोबिया और रिंगजाइटी नाम से जानी जाती हैं।”

एडीएचडी के कुछ सबसे आम लक्षणों में ध्यान न दे पाना

(आसानी से विचलित होना, व्यवस्थित होने में कठिनाई होना या चीजों को याद रखने में कठिनाई होना),

अति सक्रियता (शांत होकर बैठने में कठिनाई), और अचानक से कुछ कर बैठना (संभावित परिणामों को सोचे बिना निर्णय लेना) शामिल हैं।

डॉ. अग्रवाल ने कहा, “गैजेट्स के माध्यम से जानकारी की कई अलग-अलग धाराओं तक पहुंच रखने से मस्तिष्क के ग्रे मैटर के घनत्व में कमी आई है,

जो संज्ञान के लिए जिम्मेदार है और भावनात्मक नियंत्रण रखता है।

इस डिजिटल युग में, अच्छे स्वास्थ्य की कुंजी है पूर्ण संयम, यानी प्रौद्योगिकी का हल्का फुल्का उपयोग होना चाहिए।”

डॉ. अग्रवाल ने कुछ सुझाव देते हुए कहा, “इलेक्ट्रॉनिक कर्फ्यू का मतलब है, 

सोने से 30 मिनट पहले किसी भी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट का उपयोग नहीं करना।

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

पूरे दिन के लिए सप्ताह में एक बार सोशल मीडिया के इस्तेमाल से बचें।

मोबाइल फोन का उपयोग केवल कॉलिंग के लिए करें।

दिन में तीन घंटे से अधिक समय तक कंप्यूटर का उपयोग न करें।

अपने मोबाइल टॉकटाइम को दिन में दो घंटे से अधिक समय तक सीमित करें।

दिन में एक से अधिक बार अपनी मोबाइल बैटरी रिचार्ज न करें।”

smart phone mobile a tech power or Or smart trouble

( इनपुट आईएएनएस से भी )

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: