मुलायम की सख्त ख़ामोशी संकेत है यूपी में आनेवाले राजनीतिक तूफान का

लखनऊ, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)| समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने पार्टी में जारी घमासान पर रविवार को कुछ कहने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि वह सोमवार को इस पर सार्वजनिक रूप से अपनी बात रखेंगे। पार्टी नेताओं के साथ एक आपात बैठक के बाद मुलायम ने कहा कि वह पार्टी के सभी विधायकों, पूर्व विधायकों और वरिष्ठ पार्टी सहयोगियों से बातचीत के बाद ही कुछ कहेंगे।

अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि मुलायम रविवार को दिन भर चले घटनाक्रम से बेहद आहत हैं। उन्होंने अपने भाई शिवपाल सिंह यादव और तीन अन्य मंत्रियों को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा मंत्रिमंडल से बर्खास्त करने को गंभीरता से लिया है।

उन्होंने अपने भाई और पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव को अखिलेश के समर्थन में पत्र लिखने के कारण पार्टी से छह साल के लिए निकाल दिया।
शिव सेना, गोवा सुरक्षा मंच के साथ गठबंधन कर राज्य विधानसभा चुनाव लड़ने वाली है। इस मंच के संरक्षकों में वेलिंगकर और आरएसएस के अन्य बागी नेता और क्षेत्रीय भाषा के लिए लड़ाई लड़ने वाले शामिल हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close