ईरान, इराक, इजरायल, अमेरिका व अलीबाबा की ख़बरें

विश्व की सभी प्रमुख ख़बरें जाने बस एक क्लिक में

world-breaking-just-oneclick-allthe-major-news-inthe-world

(A) इराक : ईरान के वाणिज्य दूतावास दर्जनभर प्रदर्शनकारी घुस आए और इमारत में आग लगा दी 

(B) विश्व की सबसे बड़ी  ई-कॉमर्स कंपनी ‘अलीबाबा’ के सहसंस्थापक जैक मा रिटायर होंगे

(C) ईरान ने अपने वाणिज्य दूतावास पर हुए हमले की निंदा की
(D) किम जोंग से मुझे सकारात्मक पत्र मिलने की उम्मीद : ट्रंप

(E) इजरायल का गाजा पर फिर हमला, 2 हमास चौकियों पर हवाई हमला 

 

(A) इराक : ईरान के वाणिज्य दूतावास दर्जनभर प्रदर्शनकारी घुस आए और इमारत में आग लगा दी l 

बगदाद : इराक के दक्षिणी शहर बसरा में शुक्रवार को ईरान के वाणिज्य दूतावास में

दर्जनभर प्रदर्शनकारी घुस आए और इमारत में आग लगा दी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, एक सूत्र ने पहचान उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि

इस हमले से पहले ईरानी कर्मचारियों को इमारत से दूर सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। 

इराक के विदेश मंत्रालय ने बाद में ईरान के वाणिज्य दूतावास पर हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा,

“यह अस्वीकार्य घटना है और देश के राजनयिक मिशनों के लिए आतिथ्य के अनुरूप नहीं है।”

इराक के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अहमद माहजूब ने कहा,

“राजनयिक मिशनों को निशाना बनाना इराक के अन्य देशों से संबंधों को नुकसान पहुंचाता है

और यह प्रदर्शनकारियों की नारेबाजी और पानी जैसी उनकी जरूरतों की मांग से संबद्ध नहीं है।”

सूत्र के मुताबिक, प्रदर्शनकारी अमेरिकी वाणिज्य दूतावास की ओर भी बढ़े थे

लेकिन चाकचौबंद सुरक्षा इंतजाम की वजह से वे इस प्रयास में सफल नहीं हुए।

सूत्र ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने ईरान समर्थित असेब अहल अल-हक गुट के मुख्यालय पर भी हमला किया

और मध्य बसरा के बारेहा क्षेत्र में इसकी इमारत में आग लगा दी।

(B) विश्व की सबसे बड़ी  ई-कॉमर्स कंपनी ‘अलीबाबा’ के सहसंस्थापक जैक मा रिटायर होंगे

न्यूयॉर्क :  चीन की ई-कॉमर्स कंपनी ‘अलीबाबा’ के सहसंस्थापक और कार्यकारी अध्यक्ष जैक मा का कहना है कि

वह सोमवार को रिटायर हो जाएंगे। वह शिक्षा क्षेत्र में मानव सेवा में जुट जाएंगे। 

न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए विशेष साक्षात्कार में शुक्रवार को जैक मा ने कहा कि उनकी

सेवानिवृत्ति एक युग का अंत नहीं है बल्कि एक युग की शुरुआत है।

उन्होंने कहा, “मुझे शिक्षा पसंद है। मैं अपना अधिक समय और पैसा इसी क्षेत्र में लगाऊंगा।”

वह अंग्रेजी के शिक्षक रह चुके हैं और उन्होंने 17 और लोगों के साथ मिलकर 1999 में

चीन के झेजियांग के हांगझू में अपने अपार्टमेंट में अलीबाबा की स्थापना की थी।

जैक मा को चीन के कई घरों में पूजा तक जाता है।

कई घरों में आप उनकी तस्वीरों को देख सकते हैं, जहां उन्हें भगवान के समान पूजा जाता है।

हालांकि, जैक मा अलीबाबा के निदेशक मंडल के सदस्य बने रहेंगे और कंपनी के प्रबंधन को देखेंगे।

जैक मा सोमवार को 54 वर्ष के होने जा रहे हैं, इस दिन चीन में राष्ट्रीय अवकाश होता है

और इसे चीन में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

अलीबाबा की सालाना कमाई लगभग 250 अरब युआन (40 अरब डॉलर) है।

(C) ईरान ने अपने वाणिज्य दूतावास पर हुए हमले की निंदा की

तेहरान :  ईरान के विदेश मंत्रालय ने इराक के बसरा शहर में वाणिज्य दूतावास पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, हमलावरों ने शुक्रवार को

ईरान के वाणिज्य दूतावास में आग लाग दी, जिससे काफी नुकसान पहुंचा।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम कासेमी ने कहा कि हालांकि किसी भी कर्मचारी को चोट नहीं पहुंची है। 
ईरान के प्रवक्ता ने मांग की कि इराकी सरकार ईरान के राजनयिक मिशनों की सुरक्षा की जिम्मेदारी ले

और इस गंभीर अपराध के पीछे जिम्मेदार लोगों की पहचान कर उन्हें दंड़ित करे।

(D) किम जोंग से मुझे सकारात्मक पत्र मिलने की उम्मीद : ट्रंप

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि उन्हें उन्हें

उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन से सकारात्मक पत्र मिलने की उम्मीद है।

ट्रंप ने एयरफोर्स वन पर शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया,

“मैं जानता हूं कि किम जोंग उन की ओर से एक निजी पत्र मुझे भेजा जा रहा है।”

उन्होंने कहा, “इसे कल सीमा पर सौंप दिया गया। यह वास्तव में बेहतर तरीका है

और मुझे लगता है कि यह पत्र सकारात्मक ही होगा। माइक पोम्पियो मुझे यह पत्र देंगे।”

गौरतलब है कि जून में ट्रंप और किम जोंग के बीच हुई ऐतिहासिक बैठक में एक संयुक्त बयान जारी किया गया था,

जिसमें दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों की बहाली और चिरस्थाई शांति बहाली के लिए मिलकर काम करने पर जोर दिया था।

(E) इजरायल का गाजा पर फिर हमला, 2 हमास चौकियों पर हवाई हमला 

जेरूसलम :  इजरायल सुरक्षाबल (आईडीएफ) का कहना है कि इजरायली सैन्य विमान ने

हमास से जुड़ी दो निगरानी चौकियों को निशाना बनाकर हमला किया।

पहला हवाई हमला उत्तरी गाजा में हुआ। इसके बाद आईडीएफ जवानों की ओर ग्रेनेड फेंका गया।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, दक्षिणी गाजा में हमास की एक

और निगरानी चौकी को निशाना बनाकर हमला किया गया। 

गाजा स्वास्थय मंत्रालय के मुताबिक, शुक्रवार को फिलीस्तीनी प्रदर्शनकारियों

और आईडीएफ जवानों के बीच झड़पों में 17 साल के फिलीस्तीनी किशोर की गोली लगने से मौत हो गई थी।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close