Trending

खशोगी मामला : अमेरिका ने सऊदी अरब के 17 अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया

वाशिंगटन, 16 नवंबर : खशोगी मामला : अमेरिका ने सऊदी अरब के 17 अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया l 

अमेरिकी सरकार ने पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या में कथित रूप से शामिल

सऊदी अरब के 17 अधिकारियों पर गुरुवार को प्रतिबंध लगा दिया।

खशोगी को अंतिम बार दो अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्यिक दूतावास में जाते देखा गया था।

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, अमेरिकी वित्त विभाग द्वारा प्रतिबंधित अधिकारियों में सऊदी के

क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के मुख्य सलाहकारों में से एक सऊद अल-कहतनी भी शामिल हैं।

एक प्रेस विज्ञप्ति ने अमेरिकी वित्त मंत्री स्टीवन नुचिन के हवाले से बताया,

“हम सऊदी अरब के जिन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, वे जमाल खशोगी की हत्या में शामिल हैं।

"हम सऊदी अरब के जिन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, वे जमाल खशोगी की हत्या में शामिल हैं।
“हम सऊदी अरब के जिन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा रहे हैं, वे जमाल खशोगी की हत्या में शामिल हैं।

अमेरिका में रह चुके और काम कर चुके एक पत्रकार की नृशंस हत्या में शामिल इन लोगों को इनके कुकृत्यों की सजा मिलेगी।”

उन्होंने आगे कहा, “सऊदी अरब सरकार को राजनीतिक प्रतिद्वंदियों और पत्रकारों पर

हमलों को रोकने के लिए उचित कदम उठाने होंगे।”

अमेरिकी वित्त विभाग ने अल-कहतनी पर खशोगी की हत्या की योजना बनाने

और उसे अमलीजामा पहनाने में सहयोग करने का आरोप लगाया।

अन्य प्रतिबंधित लोगों में सऊदी अरब के महावाणिज्य दूत मोहम्मद अल-ओतैबी,

योजना बनाने और उसमें शामिल होने के आरोपी अल-कहतनी के अधीनस्थ

महेर मुतरेब और हत्या में कथित रूप से शामिल 14 अन्य लोग भी हैं।

अभी तक क्या-क्या हुआ जाने… 

खशोगी की ह्त्या के बाद उसका बेटा और परिवार सऊदी अरब छोड़ अमेरिका रवाना

खाशोगी मौत मामला : सऊदी अरब अपने बयान से पलटा कहा हत्या ‘पूर्वनियोजित’

पत्रकार खाशोगी की हत्या अमेरिका के बिना संभव नहीं : रूहानी

खाशोगी की मौत ‘आकस्मिक’ नहीं, उनकी हत्या सुनियोजित तरीके से हुई : एर्दोगन

सऊदी के लापता पत्रकार खाशोग्गी की हत्या पर ट्रंप का बयान: शैतान हत्यारों ने मर्डर किया होगा

विश्व की सभी प्रमुख ख़बरें जाने एक क्लिक में

आईएएनएस

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close