breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविभिन्न खबरेंविश्व
Trending

पाकिस्तान को मिली बड़ी राहत ,FATF द्वारा ब्लैक लिस्ट होने से बचा पाक

पाक को मिला फरवरी 2020 तक का टाइम, करने होंगे उसे सभी 27 टारगेट पूरे

pakistan-finally-escapes-being-blacklisted-by-fatf

नई दिल्ली (समयधारा) : FATF ने पाकिस्तान को आज बड़ी राहत देते हुए उसे फरवरी 2020 तक अपने सभी टारगेट को पूरा करने का वक्त दिया है l

पिछले कई दिनों से कयास लगाये जा रहे थे की दिए गए 27 टारगेट में से पाकिस्तान सिर्फ छह टारगेट ही पूरा कर पाया l

इस वजह से उसे ब्लैक लिस्ट में डाले जाने की संभावना थी l

पर  आज पाकिस्तान को बड़ी राहत मिली वह ग्लोबल टेरर वॉचडॉग Financial Action Task Force (FATF) की ब्लैकलिस्ट में जाने से बच गया है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान संगठन की ओर से दिए गए 27 टारगेट को पूरा नहीं कर पाया था, लेकिन इसके बावजूद उसे फिलहाल ब्लैकलिस्ट नहीं किया है।

लेकिन FATF ने पाकिस्तान को चेतावनी दी है और सभी टारगेट पूरे करने और टेरर फंडिंग को रोकने के लिए फरवरी 2020 का वक्त दिया है।

FATF ने कहा है कि अगर पाकिस्तान ने तयशुदा वक्त तक अपनी धरती पर टेरर फंडिंग,

मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकियों को फलने-फूलने से नहीं रोकता है, तो उसपर गंभीर कार्रवाई की जाएगी।

इस मीटिंग में पाकिस्तान के आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अज़हर ने बताया कि,

पाकिस्तान ने टेरर फंडिंग को रोकने के लिए दिए 27 पैरामीटर्स में से 20 को लागू कर दिया गया है। FATF कमिटी में चीन, तुर्की और मलेशिया हैं,

संभावना थी कि इन देशों से पाकिस्तान को सहयोग मिलेगा। बैठक में तीनों देशों ने पाकिस्तान के उठाए गए कदमों पर उसका समर्थन किया।

pakistan-finally-escapes-being-blacklisted-by-fatf

 पेरिस में 12 से 18 अक्टूबर तक चले FATF के सालाना बैठक में शुक्रवार को पाकिस्तान की ओर से अब तक उठाए गए कदमों पर रिव्यू मीटिंग की गई। 

जून में हुई FATF की पिछली बैठक में पाकिस्तान को 27 पॉइंट्स का एक एक्शन प्लान दिया गया था,

और इसे पूरा करने के लिए अक्टूबर तक यानी अगली बैठक तक की डेडलाइन दी गई थी।

लेकिन पिछले हफ्ते आई रिपोर्ट में सामने आया कि पाकिस्तान इन 27 शर्तों में से बस छह ही पूरा कर पाया था।

बैठक में पाकिस्तान ने 20 शर्तों के पूरा करने का दावा किया था l 

pakistan-finally-escapes-being-blacklisted-by-fatf

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: