breaking_newsअन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजविश्वहेल्थ
Trending

कोरोना काल में पहली बार WHO ने बताया खाने-पीने में क्या-क्या रखनी है सावधानियां

सूक्ष्मजीव बर्तन पोंछने, रसोई के अन्य कपड़ो और कटिंग बोर्ड में आसानी से प्रवेश कर जाते है और....

नई दिल्ली: WHO release COVID-19 food safety guidelines- दिन प्रतिदिन COVID-19 नए-नए रूप बदल रहा है और घातक होता जा रहा है। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) ने पहली बार कोरोना काल में फूट सेफ्टी को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है और साथ ही यह भी बताया है कि इनका ध्यान रखना जरूरी क्यों है।

तो चलिए आपको बताते है कि डब्ल्यूएचओ (WHO) की ओर से जारी की गई खाने को सुरक्षित रखने के लिए गाइडलाइन्स:

WHO release COVID-19 food safety guidelines:

1.साफ-सफाई- कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचाव का सबसे महत्पूर्ण कवच साफ-सफाई ही है।

खाना पकाते समय या खाद्द पदार्थों को छूने से पहले या बनाने से पहले आप अपने हाथों को अच्छी प्रकार से साबुन-पानी की सहायता से साफ कर लें।

WHO release COVID-19 food safety guidelines first time

शौच के बाद भी हाथों को साबुन-पानी से जरूर धोएं। खाना बनाने से पहले और खाना बनाते समय खाद्द पदार्थों के काटने के बाद और खाना बनाने के बाद भी अपने हाथों को अच्छे तरीके से धो लें।

साथ ही खाना बनाने के लिए प्रयोग होने वाली किचन की सभी सतह को अच्छी तरह से धोएं और सैनिटाइज कर लें। आपकी रसोई में किसी भी तरह के कीड़े-मकोड़े, चूहे और अन्य जीव-जन्तुओं से दूर रखें।

Kichencleaning_optimized

 

ये करना है क्यों है जरूरी ?

दरअसल, अधिकतर सूक्ष्मजीव बीमारी का कारण नहीं बनते लेकिन गंदगी, गंदी जगहों और पानी व जानवरों में घातक सूक्ष्मजीव व्यापक रूप से पाये जाते है।

सूक्ष्मजीव बर्तन पोंछने, रसोई के अन्य कपड़ो और कटिंग बोर्ड में आसानी से प्रवेश कर जाते है और आपके हाथों के द्ववारा खानों में पहुंच सकते है। नतीजतन, खाद्य जनित रोग हो सकते हैं।

 

2.अलग रखें कच्चे और पके हुए खाने को- कच्चे खाद्द पदार्थों और पके खाने को अलग-अलग रखें। कच्चे मीट, चिकन या फिर सी फूड्स को खाने के अन्य पदार्थों से दूर रखें।

rawmuttonandchicken_optimized (1)

कच्चे खाद्द पदार्थों के लिए सामग्री- बर्तन अलग रखें। कच्चे भोजन में प्रयोग होने वाले कटिंग बोर्ड्स और चाकू का प्रयोग दोबारा से किसी दूसरे खाने को बनाने में न करें।

कच्चा और पका खाना अलग-अलग रखने के लिए किसी बंद बर्तन का इस्तेमाल करें।

 

WHO release COVID-19 food safety guidelines

 

ये करना है क्यों है जरूरी ?- 

कच्चे खाद्द पदार्थों विशेष रूप से मांस, पोल्ट्री और सी फूड्स व उनके रस या जूस में खतरनाक सूक्ष्मजीव हो सकते है।  जब आप खाना बनाते है तो संभव है कि यह एक से दूसरे भोजन में पहुंच जाएं। इसलिए कच्चे और पके खाने को अलग-अलग रखना जरूरी है।

 

3.अच्छी तरह से पकाएं खाना- खाने को अच्छी तरह से पकाकर बनाएं। विशेषरूप से मीट, अंडे, पोल्ट्री और सी-फूड्स को अच्छी प्रकार 70 डिग्री सेल्सियस पर धीरे-धीरे उबालकर अच्छी प्रकार से पकाएं।

cookingfood_optimized

जब इनका सूप का बनाएं तो ध्यान दें कि यह गुलाबी रंग का न दिखें। सूप पकने के बाद एकदम साफ दिखना चाहिए।

आप थर्मामीटर का भी उपयोग तापमान चेक करने के लिए कर सकते है। पके भोजन को खाने से पहले फिर से दोबारा गर्म करके ही खाएं।

 

ये करना है क्यों है जरूरी ?

खाने को अगर अच्छी तरह से पकाया जाता है तो उसके सारे कीटाणु मर जाते है। स्टडी से पता चलता है कि 70 डिग्री सेल्सियस तापमान पर पका खाना खाने में सुरक्षित रहता है।

खाना पकाने में जिन पर खास ध्यान देने की जरूरत है वो हैं कीमा, मीट और पोल्ट्री फूड।

 

4.खाने को सेफ टेंपरेचर पर रखें – कटे फल या पके खाने को भी कमरे के तापमान पर 2 घंटे से ज्यादा न छोड़े। फ्रिज में भी खाने को ज्यादा देर तक न रखें। फ्रिज में पके खाने को उचित टेंपरेचर या तापमान पर रखें। भोजन को परोसने से पहले खाने को कम से कम 60 डिग्री सेल्सियस तापमान पर अच्छी तरह से गर्म करके ही परोसे।

foodinFridge_optimized

 

ये करना है क्यों है जरूरी ?

ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि कमरे के टेंपरेचर या तापमान पर रखे खाने में सूक्ष्मजीव काफी तेजी से बढ़ते है।

5 डिग्री से कम और 60 डिग्री से अधिक तापमान में यह सूक्ष्मजीव पनपने बंद हो जाते हैं। वैसे कुछ खतरनाक कीटाणु पांच डिग्री से भी कम तापमान पर बढ़ते है।

 

WHO release COVID-19 food safety guidelines

 

5.साफ-सुथरे पानी का प्रयोग करें-  खाना बनाने और पानी पीने के लिए हमेशा साफ-सुथरे पानी का ही प्रयोग करें। संभव हो तो पीने के पानी को उबालकर ही पीएं।

COVID19 -Tips to wash fruits and vegetables to protect yourself from Corona-main
तस्वीर,साभार-गूगल सर्च

फल और सब्जियों को भी पकाने व खाने से पहले अच्छी तरह से धो लें। फ्रेश और पौष्टिक खाद्द पदार्थों को भी इस्तेमाल करें। सुरक्षा के मानकों के हिसाब से  पाश्चराइज्ड मिल्क बेहतर होते हैं।

जिन खाद्द पदार्थों की  एक्सपायरी डेट निकल गई है उनका इस्तेमाल बिल्कुल न करें।

 

ये करना है क्यों है जरूरी ?- 

पानी और बर्फ व कच्चे सामग्री में भी कई बार खतरनाक सूक्ष्मजीव पाये जाते है जोकि पानी को भी जहरीला बना देते है।

WHO release COVID-19 food safety guidelines first time

जब आप फल-सब्जियां या अन्य कच्चे खाद्द पदार्थ खरीदें तो उन्हें अच्छी तरह से धोकर ही काटे या छीलें। ताकि यह कीटाणुरहित हो जाए।

WHO release COVID-19 food safety guidelines

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve − 11 =

Back to top button