breaking_newsविभिन्न खबरेंविश्व
Trending

जापान में शक्तिशाली तूफान जेबी(JEBI)से 8 लोगों की मौत,कई घायल

जेबी(JEBI) तूफान से 1.26 मिलियन घरों में बिजली नहीं

टोक्यो, 5 सितम्बर :  इस समय का सबसे शक्रिशाली तूफ़ान से 8 लोगों की मौत l 

7:30 बजे तक देश भर में बिजली के बिना 1.26 मिलियन घर l  लेकिन बिजली संयंत्रों को कोई नुकसान नहीं l 

जापान के तोकुशिमा में मंगलवार अपराह्न् 25 साल में सबसे शक्तिशाली तूफान

जेबी ने दस्तक दी और तूफान में सात लोगों की मौत हो गई

और लगभग 200 लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, तूफान के चलते बड़े पैमाने पर कारें,

इमारतें नष्ट होने के अलावा परिवहन सेवाएं प्रभावति हुई हैं,

जिसके कारण उड़ानों और रेल सेवाओं को रद्द करना पड़ा है।

जापान मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने कहा कि तोकुशिमा प्रांत में

आने के बाद तूफान कोबे से गुजरने के बाद जापान सागर की ओर चला गया।

किंकी प्रांत और इससे बाहर कई उड़ानें, रेल सेवाएं और राजमार्ग बंद हो गए हैं

और दुकानें, फैक्ट्रियां और अन्य सेवाएं, विशेष रूप से पश्चिमी जापान में बंद हो गई हैं।

इसके अलावा ओसाका प्रांत में यूनीवर्सल स्टूडियो भी बंद हो गया है।

जेएमए ने कहा है कि तूफान जेबी के चलते हवा 216 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चल रही है।

सबसे ज्यादा घायल पश्चिमी और मध्य जापान में हुए हैं।

शक्तिशाली तूफान के आगे पश्चिमी जापान में स्थित कंसाई अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा को भी बंद करना पड़ा।

अधिकारियों ने कहा कि हवाईअड्डे पर मंगलवार दोपहर 209 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से

हवा चल रही थी, और बाढ़ के कारण वहां लगभग 3,000 लोग फंसे हुए हैं।

अधिकारियों ने कहा कि कंसाई प्रांत में लगभग 16.1 लाख घरों

और शिकोकू प्रांत में लगभग 95,000 घरों की बिजली ठप हो गई है।

मंगलवार को एजेंसी ने पूर्वी और पश्चिमी जापान दोनों क्षेत्रों में भारी बारिश होने

और शक्तिशाली तेज हवाओं के चलने की चेतावनी दी है

और लोगों से बाढ़ संभावित जगहों और भूस्खलन संभावित जगहों पर सावधानी बरतने का आग्रह किया है।

एजेंसी ने कहा है कि तूफान के जापान सागर से गुजरने और उत्तर दिशा में आगे बढ़ने की संभावना है।

आपातकालीन प्रेस ब्रीफिंग में सोमवार को जापान मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) के

एक अधिकारी के हवाले से कहा गया है कि एजेंसी ने तूफान को बेहद शक्तिशाली माना है।

1993 के बाद से जापान में दस्तक देने वाला यह सबसे शक्तिशाली तूफान होगा।

परिवहन मंत्रालय ने कहा कि टोकाइडो शिंकनसेन और सान्यो शिंकनसेन बुलेट ट्रेन लाइनों को रेलवे

ऑपरेटरों द्वारा बंद कर दिया गया है और प्रमुख राजमार्गो के कुछ हिस्सों को भी बंद कर दिया गया है।

जेएमए के मुताबिक, 24 घंटों की अवधि में बुधवार सुबह छह बजे तक (जापानी समयानुसार)

मध्य जापान में 500 मिलीमीटर और पश्चिमी जापान में 400 मिलीमीटर बारिश होने की आशंका है।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे मंगलवार को दक्षिण-पश्चिमी प्रांतों का दौरा करने वाले थे, लेकिन तूफान के कारण यह दौरा रद्द कर दिया गया।

आपदा प्रतिक्रिया बैठक में आबे ने तूफान के प्रभाव से निपटने में सतर्क रहने का वादा किया।

उन्होंने जनता से निकासी आदेश, चेतावनी और दिशा-निर्देश सुनने

और जरूरत पड़ने पर जल्द से जल्द सुरक्षित स्थानों की ओर निकलने का आग्रह किया।

जेएमए के एक अधिकारी के हवाले से कहा गया कि यह तूफान बहुत शक्तिशाली की श्रेणी में आता है

और यह अपनी शीर्ष हवाओं की शक्ति के आधार पर 1993 के बाद से यह सबसे शक्तिशाली तूफान है।

जेएमए ने कहा कि बुधवार तक तूफान एक अतिरिक्त ऊष्ण-कटिबंधीय चक्रवात के स्तर तक गिर सकता है।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: