होम > विश्व > राजनीतिक खबरें > वर्ल्ड ब्रेकिंग : सिर्फ एक क्लिक में जाने विश्व की सभी प्रमुख ख़बरें
breaking_newsराजनीतिक खबरेंविभिन्न खबरेंविश्व

वर्ल्ड ब्रेकिंग : सिर्फ एक क्लिक में जाने विश्व की सभी प्रमुख ख़बरें

फिलीपींस, अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र ,पाकिस्तान, ईरान और चीन की प्रमुख ख़बरें बस एक क्लिक में

world-breaking-just-oneclick-allthe-major-news-inthe-world

(a) फिलिपींस में हमला, 6 की मौत l 

(b) फिलीस्तीनी शरणार्थियों की अमेरिका ने आर्थिक मदद रोकी l 

(c) यूनाइटेड नेशन के गुटेरेस ने इराक के लिए  जिनीन हेनिस विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किया l 
(d) ईरान के परमाणु सम्झोतें को पाक का समर्थन l 

(e) चीन-अफ्रीका सहयोग के तहत शी ने सेशेल्स के राष्ट्रपति से मुलाकात की l 

(a) फिलिपींस में हमला, 6 की मौत 

मनीला :  फिलीपींस में बंदूकधारियों के हमले में 6 की मौत, दंपति को बंधक बनाया

फिलीपींस में अज्ञात बंदूकधारियों ने छह ग्रामीणों की हत्या कर दी।

इन्होंने एक जोड़े को भी अगवा कर लिया।

सिन्हुआ ने पुलिस अधिकारी एडविन डी ओकाम्पो के हवाले से बताया कि बंदूकधारी तटीय

शहर सिरावई में शुक्रवार को शाम पांच बजे इस जोड़े के घर में घुस आए और उन्हें बंधक बना लिया। 

इस जोड़े के एक पड़ोसी ने इन्हें छुड़ाने का प्रयास किया लेकिन वह मारा गया।

डी ओकाम्पो ने बताया कि हमलावरों के हमले से बचने का प्रयास कर रहे

पांच और ग्रामीण मारे गए। इस घटना में एक बच्चा भी घायल हुआ है। बचाव कार्य जारी है।

(b) अमेरिका ने फिलीस्तीनी शरणार्थियों के लिए आर्थिक मदद रोकी

वाशिंगटन : अमेरिका ने फिलीस्तीनी शरणार्थियों के लिए काम करने वाली

संयुक्त राष्ट्र एजेंसी को दी जाने वाली आर्थिक मदद समाप्त कर दी है।

संयुक्त राष्ट्र राहत एवं कार्य एजेंसी (यूएनआरडब्ल्यूए) ने इस कदम को दोषपूर्ण बताया है।

बीबीसी ने विदेश विभाग की प्रवक्ता हीथर नॉअर्ट के हवाले से बताया कि

अमेरिकी प्रशासन ने इसकी सावधानी से समीक्षा की और यह तय किया कि

यूएनआरडब्ल्यूए को दी जाने वाली आर्थिक मदद खत्म करेंगे।

फिलीस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास के प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिका के

इस कदम को फिलीस्तीन के लोगों के खिलाफ हमला बताया है।

प्रवक्ता नाबिल अबू रूदेना ने कहा, “इस तरह के दंड इस तथ्य को नहीं बदलेंगे कि

अमेरिका की अब इस क्षेत्र में भूमिका नहीं रही।” उन्होंने कहा कि यह फैसला संयुक्त राष्ट्र प्रस्तावना का उल्लंघन है।

यूएनआरडब्ल्यूए के प्रवक्ता क्रिस गुनेस ने ट्वीट कर कहा,

“हम इसे कड़े शब्दों में नकारते हैं कि यूएनआरडब्ल्यूए के स्कूल,

स्वास्थ्य केंद्र और आपात सहायता कार्यक्रम त्रुटिपूर्ण हैं।”

world-breaking-just-oneclick-allthe-major-news-inthe-world

(c) जिनीन हेनिस इराक के लिए गुटेरेस की विशेष प्रतिनिधि नियुक्त

संयुक्त राष्ट्र :  संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने नीदरलैंड्स की जिनीन हेनिस प्लासचर्ट

को इराक के लिए उनकी विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किया।

वह स्लोवाकिया के जेन क्यूबिस का स्थान लेंगी।

वह इराक के लिए संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन (यूएनएएमआई) का भी नेतृत्व करेंगी।

साल 2017 तक नीदरलैंड्स की रक्षा मंत्री रह चुकीं हेनिस को 20 से

अधिक वर्षो का राजनीतिक एवं राजनयिक अनुभव है।

उन्होंने माली, अफगानिस्तान और इराक में नीदरलैंड्स की सैन्य भूमिका की निगरानी की है।

world-breaking-just-oneclick-allthe-major-news-inthe-world

(d) पाकिस्तान ने ईरान परमाणु समझौते का समर्थन किया

इस्लामाबाद :  पाकिस्तान ने शुक्रवार को ईरान अंतर्राष्ट्रीय समझौते का समर्थन किया।

पाकिस्तान और ईरान के विदेश मंत्रियों की वार्ता के दौरान इस्लामाबाद ने

परमाणु समझौते के प्रति समर्थन जताया।

ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री

शाह महमूद कुरैशी के साथ विस्तृत वार्ता की। जवाद पाकिस्तान के दो दिवसीय दौरे पर हैं

इस दौरान अफगानिस्तान में स्थिति सहित विभिन्न क्षेत्रीय एवं वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की घई।

इसमें ईरान परमाणु समझौते से अमेरिका से बाहर निकलने पर भी चर्चा हुई। 

ईरान परमाणु समझौते पर 2015 में हस्ताक्षर हुए थे।

world-breaking-just-oneclick-allthe-major-news-inthe-world

(e) शी जिनपिंग ने सेशेल्स के राष्ट्रपति से मुलाकात की

बीजिंग ;  चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शनिवार को सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फॉर से मुलाकात की।

दोनों के बीच यह मुलाकात चीन-अफ्रीका सहयोग पर 2018 बीजिंग शिखर सम्मेलन के ठीक पहले हुई है। 

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, चीन तीन सितंबर से शुरू हो रहे चीनी-अफ्रीकी फोरम में

600 से अधिक उद्यमों, व्यापार समूहों और अनुसंधान संस्थानों से

1,000 से अधिक अफ्रीकी प्रतिनिधियों की मेजबानी करेगा।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error:
Close