Trending

मोदी की दोगुनी-ट्रिपल कूटनीति, एक तरफ ट्रंप-आबे-मोदी तो दूसरी तरफ शी-पुतिन मोदी

चीन, रूस और भारत व जापान, अमेरिका और इंडिया में आपसी सहयोग पर बातचीत

ब्यूनस आयर्स, 1 दिसम्बर : मोदी की दोगुनी-ट्रिपल कूटनीति, एक तरफ ट्रंप-आबे-मोदी तो दूसरी तरफ शी-पुतिन मोदी l 

चीन, रूस और भारत के नेताओं के बीच एक त्रिपक्षीय बैठक में अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर

आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए गहन चर्चा हुई। विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ

शुक्रवार को विश्व के लिए लाभकारी सुधारों और बहुपक्षीय संस्थानों को मजबूत करने के महत्व पर सहमति बनाई। 

तीनों नेताओं ने बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली के लाभ और वैश्विक विकास एवं समृद्धि के लिए खुली वैश्विक अर्थव्यवस्था पर चर्चा की।

मोदी ने इसे बेहतरीन बैठक बताते हुए कहा कि इस दौरान कई विषयों पर चर्चा हुई,

जिनसे तीनों देशों के बीच दोस्ती मजबूत होगी और वैश्विक शांति बढ़ेगी।

तीनों नेताओं ने संयुक्त रूप से अंतर्राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता के लिए

सभी स्तरों पर नियमित चर्चा पर सहमति बनाई। ब्रिक्स, शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ)

और पूर्व एशिया सम्मेलन (ईएएस) के जरिए सहयोग बढ़ाने पर भी सहमति जताई गई।

तीनों नेताओं ने आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन जैसे वैश्विक चुनौतियों के समाधान के लिए

और सभी मतभेदों को भुलाकर शांतिपूर्ण समाधान के लिए भी पर नियमित चर्चा पर सहमति जताई।

नेताओं ने रूस, भारत और चीन के संबंधों में सहयोग के महत्व को भी स्वीकार किया

और बहुपक्षीय अवसरों पर त्रिपक्षीय बैठक आयोजित करने पर सहमति बनाई।

जी20 सम्मेलन से इतर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप,

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार त्रिपक्षीय वार्ता की।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close