होम > विश्व > राजनीतिक खबरें > अमेरिका को रूस का मुंहतोड़ जवाब-सब जानते है हमें अल्टीमेटम देना बेकार है, इसका असर बस उल्टा ही होगा
breaking_newsHome sliderराजनीतिक खबरेंविश्व

अमेरिका को रूस का मुंहतोड़ जवाब-सब जानते है हमें अल्टीमेटम देना बेकार है, इसका असर बस उल्टा ही होगा

मास्को, 13 अप्रैल : यूएस के राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतीन के बीच अब सबकुछ ठीक नहीं है, जैसा कि पहले दिख रहा था।अमेरिका के शीर्ष राजनयिक द्वारा सीरिया सरकार को समर्थन देना बंद करने के आग्रह पर रूस ने बुधवार को कहा कि उसे ‘अल्टीमेटम’ देना बेकार है। रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जाखरोवा ने कहा, “मुझे ऐसा लगता है कि हर कोई पहले ही समझ चुका है कि हम तक अल्टीमेटम पहुंचाना बेकार है। इसका बस, उल्टा असर ही होगा।”

समाचार एजेंसी एफे न्यूज के मुताबिक, रोम में हुए जी-7 सम्मेलन में भाग लेने के बाद मास्को पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव से मुलाकात करने वाले हैं। दोनों के बीच सीरिया के हालात पर बातचीत होने की उम्मीद है।

अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि टिलरसन रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात करेंगे या नहीं क्योंकि यह उनके एजेंडे में शामिल नहीं है, लेकिन रूस ने इस संभावना से इनकार नहीं किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सत्ता में आने के बाद टिलरसन रूस की यात्रा करने वाले पहले शीर्ष अमेरिकी राजनयिक हैं।

अमेरिकी विदेश विभाग की वेबसाइट पर जारी बयान में टिलरसन ने रूस को सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद और पश्चिमी गठबंधन में से किसी एक को चुनने की सलाह दी है।

टिलरसन ने मास्को की यात्रा से पहले कहा, “क्या यह दीर्घकालिक गठबंधन है जो रूस के हित में है या रूस, सीरिया संकट का समाधान तलाश रहे मध्य पूर्व के देशों और अमेरिका व अन्य पश्चिमी देशों के साथ फिर से जुड़ना पसंद करेगा।”

उत्तरी सीरिया के इदलिब प्रांत में चार अप्रैल को हुए रासायनिक हमले के बाद से अमेरिका ने 89 सीरियाई नागरिकों की मौत के लिए रूस पर नैतिक रूप से जिम्मेदार होने का आरोप लगाया है।

अमेरिका ने इस हमले के जवाब में पिछले हफ्ते सीरिया पर हवाई हमले किए थे।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error:
Close