breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

टाइम मैगजीन के कवर पेज पर पीएम मोदी के लिए हेडलाइन-‘भारत को बांटने वाला प्रधान’ मचा बवाल

यह आर्टिकल इस वाक्य के साथ शुरू होता है: “महान लोकतंत्रों में लोकप्रिय भारत में लोकतंत्र का पतन सबसे पहले शुरू हो गया”

नई दिल्ली,10 मई :  TIME magazine cover page publish PM Modi – अमेरिकी न्यूज मैगजीन टाइम (TIME magazine) ने अपने 20 मई 2019 के एडिशन के लिए कवर पेज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर को (TIME magazine cover page publish PM Modi) छापा है।

टाइम मैगजीन ने पीएम मोदी के कैरिकेचर के साथ कवर पेज पर एक हेडलाइन (controversial headline) दी है- ‘भारत को बांटने वाला प्रधान‘ (India’s divider in chief). बस सारा बवाल यहीं से शुरू हो गया है। टाइम मैगजीन ने अपनी कवर स्टोरी में पूछा है कि “क्या मोदी सरकार के एक और पांच साल से दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र खत्म हो सकता है?” पत्रकार आतिश तासीर तुर्की, ब्राजील, ब्रिटेन, अमेरिका और भारत जैसे लोकतंत्रों में बढ़ती आबादी के बारे में बात करते है।

यह आर्टिकल इस वाक्य के साथ शुरू होता है: “महान लोकतंत्रों में लोकप्रिय भारत में लोकतंत्र का पतन सबसे पहले शुरू हो गया”। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तहत, कहानी पढ़ी गई,”राष्ट्र के सबसे बुनियादी मानदंड, जैसे कि भारतीय राज्य का चरित्र, इसके संस्थापक पिता। विश्वविद्यालयों से लेकर कॉरपोरेट घरानों से लेकर मीडिया तक अल्पसंख्यकों और उसके संस्थानों की जगह को गंभीर रूप से अविश्वासित दिखाया गया। ”

इसमें लिखा है। “… मोदी शासन के तहत, हर तबके के अल्पसंख्यक – उदारवादी और निचली जातियों से मुस्लिम और ईसाई तक पर हमले हुए हैं। ” 2014 के चुनावों में मोदी द्वारा किए गए आर्थिक वादों के बारे में बात करते हुए, लेखक कहते हैं, “न केवल मोदी का आर्थिक चमत्कार भौतिक रूप से विफल रहा है, उन्होंने भारत में जहरीले धार्मिक राष्ट्रवाद का माहौल बनाने में भी मदद की है।”

लेखक यह भी जोड़ता है कि मोदी खुशकिस्मत है कि उनके सामने कमजोर विपक्ष है जिसके पास कांग्रेस के नेतृत्व में उन्हें हराने के अलावा कोई एजेंडा नहीं है।“

“मोदी अब 2014 की तरह कभी भी असंख्य सपनों और आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे। तब वह एक मसीहा था, उज्ज्वल भविष्य का सपना दिखाने वाला संचालक था, जिसके एक हिस्से में हिंदू पुनर्जागरण और एक हिस्से में दक्षिण कोरिया का आर्थिक कार्यक्रम दिख रहा था लेकिन अब वह केवल एक राजनेता है जो फिर से चुनाव की मांग करने में विफल रहा है।” चुनाव के बारे में और कुछ भी कहा जा सकता है, उम्मीद है कि मेनू बंद हो जाएगा, ”राइट-अप में इसे पढ़ा जा सकता है।

2015 में मोदी टाइम मैगजीन के कवर पेज पर दिखाई दिए थे जब मैगजीन ने प्रधानमंत्री बनने के बाद उनका इंटरव्यू लिया था। मोदी इस मैगजीन के कवर पर 2012 में भी दिखाई दिए थे जब वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे।

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: