breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

US भारत सरकार पर दबाव डाल कश्मीर में संचार माध्यमों को तत्काल बहाल कराये : अमेरिकी सांसद

गौरतलब है कि 11 सितंबर को पोम्पिओ को एक पत्र लिखा गया था...

वाशिंगटन : US MPs demand in Kashmir-अमेरिका के दो सांसदों ने कश्मीर में मानवाधिकार का मुद्दा उठाते हुए अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (Mike Pompeo) से अपील की(US MPs demand in Kashmir) है कि कश्मीर में संचार माध्यमों को तत्काल बहाल किया जाए।

साथ ही जिन लोगों को कश्मीर (Kashmir) में हिरासत में रखा गया है,उन्हें छोड़ा जाए। इसके लिए भारत सरकार (Government of India) पर दबाव डाला जाए।

गौरतलब है कि 11 सितंबर को पोम्पिओ को एक पत्र लिखा गया था। इस पत्र

में प्रमिला जयपाल (Pramila Jayapal) ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया और स्वतंत्र पर्यवेक्षकों को तत्काल जम्मू-कश्मीर (Jammu&Kashmir) में जाने की अनुमति मिलनी चाहिए ताकि वह मानवाधिकार उल्लंघनों की जांच कर पाएं।

प्रमिला हाउफ ऑफ रिप्रजेंटेटिव में पहली और एकमात्र भारतीय अमेरिकी सांसद (US MPs )हैं। जयपाल के अलावा सांसद जेम्प पी मैकगवर्न ने भी यह पत्र लिखा है।

पत्र में प्रशासन से अपील की गई है कि वह भारत सरकार (India govt) पर कश्मीर में लगाए गए संचार प्रतिबंध (communication ban) को तत्काल समाप्त (immediate restoration) करने और ‘एहतियात’ के रूप में हिरासत में लिए गए लोगों को छोड़ने की प्रक्रिया शुरू करने का दबाव बनाए।

वहीं भारत सरकार अस्पतालों में जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करे और एक जगह जुटने तथा प्रार्थना करने के लिए कश्मीरी लोगों के अधिकारों की रक्षा करे।

दोनों सांसदों ने पोम्पिओ से कहा कि वह कश्मीर में मानवीय और मानवाधिकारों के ‘‍संकट’ को लेकर बेहद चिंतित हैं।

उन्होंने अपने पत्र में कहा है कि उन्हें पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की ओर से विश्वसनीय रिपोर्ट भी मिली है कि भारत सरकार ने हजारों लोगों को हिरासत में लिया है

और कर्फ्यू लगा दिया है और लोगों के इंटरनेट कनेक्शन तथा टेलिफोन लाइन काट दिए गए हैं।

सांसदों ने भारत सरकार से अपील की है कि वह धार्मिक स्वतंत्रता बरकरार रखे।

जयपाल ने इस पत्र को एक ट्वीट में टैग किया है। जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को पांच अगस्त को खत्म कर दिया गया था जिसके बाद से वहां प्रतिबंध लगे हुए

 

 

(इनुपट एजेंसी से)

Web Title:US MPs demand immediate restoration of communication medium in Kashmir

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: