breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविश्व
Trending

World News : सीनेटर मर्फी का ट्रंप पर हमला कहा उनके हाथ खून से सने है ..!!

अमेरिका के राष्ट्रपति पर अमेरिकी सेनेटर क्रिस मर्फी का 7 ट्वीट से सीरिया को लेकर बड़ा हमला

us-senator-from-connecticut-chris-murphy-attack-president-trump

नई दिल्ली, (समयधारा) : कनेक्टिकट से अमेरिकी सीनेटर क्रिस मर्फी ने एक के बाद एक सात ट्वीट कर,

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर जोरदार हमला बोला l उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि….

ट्रंप द्वारा कुर्दों को छोड़ना सीरिया में इस लंबित आपदा का प्रमुख कारण है,

लेकिन हमें सीरिया में वर्षों से चली आ रही खराब नीति और खराब नीति के कारण विदेश नीति की स्थापना पर आंच,

नहीं आने देना चाहिए (जिससे इस पल की रचना हुई) और हम वास्तविक स्थिति से बचते हैं कि क्या गलत हुआ है।

 

सबसे पहले, सीरिया स्थापना के बहुत से विश्वास के विपरीत, 2011/12 में कोई जादू का क्षण नहीं था,

जब असद को पछाड़ने के लिए विद्रोहियों के पीछे  अमेरिका ने अपनी ताकत लगा दी।

शुरू से ही, ईरान व रूस के पास हमसे ज्यादा हिस्सेदारी थी, और वे हमेशा जीतने के लिए हमसे ज्यादा काम करने वाले थे।

 

लेकिन हमारे हबीस(hubris) ने हमें विश्वास दिलाया कि विद्रोही, विद्रोहियों का ज्यादातर गुप्त समर्थन काम कर सकते हैं।

यह सब युद्ध को लम्बा करने के लिए किया गया था, कभी भी उन्हें जीतने में मदद करने के लिए पर्याप्त नहीं था।

हमने युद्ध को बेकार में खींच लिया, और विद्रोहियों को गुमराह किया कि हम क्या करने के लिए तैयार थे।

हमारा असली मकसद ISIS को हराना  रहा था,  वही तुर्क को बिना इच्छा के हमारे साथ और सीरिया में हजारों

अमेरिकी सैनिकों को भेजने के लिए हमारी न्यायोचित अनिच्छा के साथ (एक और इराक जैसी आपदा का निर्माण) हुआ,

हमने ऐसा करने के लिए कुर्दों(KURDS) और एसडीएफ(SDF) को इसमें लगा दिया।

us-senator-from-connecticut-chris-murphy-attack-president-trump

लेकिन हम जानते थे कि इससे तुर्क  भड़केगा और ऐसा हुआ भी, लेकिन हमने आने वाली राजनीतिक दुःस्वप्न के लिए अपनी आँखें बंद कर

हमारे पास कम Hubris थे इस लिए हमने ISIS की हार पर ध्यान केंद्रित किया और आईएसआईएस की शासन

संरचना के बाद की स्थिति को तैयार करने के लिए कुर्द / अरब / तुर्क के साथ शुरू से काम किया l 

हम कम से कम  नागरिक युद्ध के लंबे दुःस्वप्न से बच सकते थे और कुर्दों का कत्लेआम भी रोका जा सकता था l 

लेकिन इराक का सबक सीखने के बावाजूद बहुत से डीसी ने  इस पर अमल से मना कर दिया।

इस क्षेत्र में अमेरिकी हस्तक्षेप चीजों को बदतर बनाने के लिए जाता है, खासकर जब हम बहुत से सैन्य उपकरण

और पर्याप्त राजनयिक उपकरण नहीं रखते हैं। हां, ट्रम्प के हाथ खून से सने है l लेकिन इस आपदा को बनाने को वर्षों लग गए।

अब सीरिया पर ट्रंप के रुख को लेकर एक के बाद एक विपक्ष उन पर हमला कर रहा है l

जैसे-जैसे राष्ट्रपति चुनाव नजदीक आ रहे है वैसे-वैसे अमेरिका में राजनीतिक तूफ़ान अपने उफान पर है l 

(इनपुट क्रिस मर्फी के  ट्विटर हैंडल से) 

us-senator-from-connecticut-chris-murphy-attack-president-trump

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: