वेनेजुएला : मदुरो की हत्या की साजिश से US का इनकार, अब तक 6 लोग गिरफ्तार

राष्ट्रपति मदुरो ने चरमपंथी गुटों और कोलंबिया के राष्ट्रपति जुआन मैनुअल को जिम्मेदार ठहराया

वाशिंगटन/कराकस, 6 अगस्त : अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने वेनेजुएला के

राष्ट्रपति निकोलस मदुरो के हत्या के प्रयास में अमेरिकी सरकार का हाथ होने से इनकार किया है।

बोल्टन ने फॉक्स न्यूज संडे को बताया,

“मैं दावे से कह सकता हूं कि इसमें अमेरिकी सरकार की बिल्कुल भी भागीदारी नहीं है।”

बोल्टन ने रविवार को कहा कि उन्होंने कराकस में अमेरिकी प्रभारी से बात की है

और बताया है कि अमेरिकी इसके लिए जिम्मेदार है।

गौरतलब है कि शनिवार रात को देश के नेशनल गार्ड की 81वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित कार्यक्रम

को संबोधित करने के दौरान एक ड्रोन हमला हुआ था, जिसमें मदुरो बाल-बाल बच गए थे।

मदुरो ने बाद में इस हमले को उनकी हत्या की साजिश करार दिया और

इसके लिए वेनेजुएला के दक्षिणपंथी धड़े, कोलंबिया सरकार और अमेरिका के साजिशकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया।

बोल्टन ने कहा, “यदि वेनेजुएला की सरकार के पास इस तरह की कोई जानकारी है

तो उन्हें हमारे साथ साक्षा करनी चाहिए और हम गंभीरता से इस पर कार्रवाई करेंगे।”

गौरतलब है कि मदुरो के दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने के बाद अमेरिकी

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर अमेरिका के किसी भी शख्स

और कंपनी के वेनेजएला सरकार और वहां की कंपनी के साथ व्यापार पर प्रतिबंध लगा दिया था।

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मदुरो की कथित रूप से हत्या की साजिश रचने के आरोप में यहां छह लोगों को गिरफ्तार किया गया।

सीएनएन के मुताबिक, मदुरो पर शनिवार को हमला उस वक्त हुआ जब वह

वेनेजुएला के नेशनल गार्ड की 81वीं वर्षगांठ के मौके पर खुले मैदान में

आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। विस्फोटकों से लैस ड्रोन समारोह स्थल के समीप ही फटा। 

जिस पोडियम पर खड़े होकर मदुरो भाषण दे रहे थे, उसके पास ही

विस्फोटकों से भरा एक ड्रोन विस्फोटित हुआ जबकि दूसरा एक बिल्डिंग की पहली मंजिल पर विस्फोटित हुआ। 

राष्ट्रपति ने चरमपंथी गुटों और कोलंबिया के निर्वतमान राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को जिम्मेदार ठहराया था। 

आंतरकि मंत्री नेस्टर रेवरोल ने रविवार को सरकारी टेलीविजन पर कहा कि जो गिरफ्तार हुए हैं

उन पर आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने और हत्या की साजिश रचने का आरोप है। 

मंत्री ने कहा कि हमलावरों ने दो डीजेआई एम600 ड्रोन का इस्तेमाल किया। हर ड्रोन एक किलो सी-4 विस्फोटक से लैस था। 

आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close