breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरें
Trending

कोरोना पे मार, दीपों के साथ पटाखों से वार,इस बार भी मोदी के संदेशों को किया दागदार

कोरोना पीड़ितों की मौत और हमारे जवानों की शहादत को दरकिनार करते हुए इस दुख और करुणा की घड़ी में कोरोना के नाम पर पटाखे जलाकर दिवाली भी मनाई

नई दिल्ली: 9 baje 9 minute Deep-lamps light up India against coronavirus- पीएम मोदी (PM Modi) की अपील पर रविवार 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए पूरे देश ने कोरोनावायरस (Coronavirus) के खिलाफ एकजुटता दिखाने के लिए दीये,मोबाइल की फ्लैश लाइट्स और टॉर्च जलाई। 
लेकिन इसी दौरान कुछ लोगों ने मोदी की न केवल सोशल डिस्टेंसिंग वाली अपील का खुलेआम उल्लंघन किया बल्कि कोरोना पीड़ितों की मौत और हमारे जवानों की शहादत को दरकिनार करते हुए इस दुख और करुणा की घड़ी में कोरोना के नाम पर पटाखे जलाकर दिवाली भी (firecrackers mislead PM Modi message)मनाई।
एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का देश के कुछ लोगों ने गलत मतलब निकाला और सारे अर्थ का अनर्थ कर दिया।
देश में कोरोना (Corona) के खिलाफ एकजुटता दिखाने के लिए न केवल आम जनता बल्कि बॉलिवुड, बिजनेस वर्ल्ड और राजनीतिज्ञों ने भी दीये (9 baje 9 minute Deep-lamps light up India against coronavirus)जलाएं।
हालांकि इन हालातों में जब देश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है और हमारे डॉक्टर्स व स्वास्थ्यकर्मचारी सुरक्षात्मक चीजों की कमी से जूझकर खुद कोरोना पीड़ित हो रहे है, ऐसे में मोदी द्वारा दीप प्रज्जवलित आव्हान काफी लोगों को आपत्तिजनक भी लगा है।
विपक्ष ने तो इसे सीधे-सीधे कोरोनावायरस (Coronavirus) के दौरान भी सियासी स्टंट करार दिया है। विपक्ष के इन दावों पर उस समय मुहर भी लग गई जब लोगों ने दीये जलाने के साथ पटाखे भी फोड़े जबकि पीएम मोदी ने दीये जलाकर मौन रहकर मां भारती का स्मरण करने को कहा था।
इतना ही नहीं, कई लोगों ने रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीये एकसाथ मिलकर जलाएं और खुलेआम सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किया।
9 baje 9 minute deep festival fire at solahpur
इतना ही नहीं, कई इलाकों से यह भी खबर आई कि कुछ लोगों ने दीये जलाने के अति उत्साह में सोलहपुर एयरपोर्ट के पास पटाखों के कारण आग लगा दी। सोशल मीडिया में इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है।
रविवार रात 9 बजे लोगों ने प्रधानमंत्री मोदी की कोरोना के खिलाफ एकजुटता की जंग में 5 अप्रैल को घरों की लाइटें बंद करके दीप प्रज्जवलित (9 baje 9 minute Deep-lamps light up India against coronavirus)किए।
इस दौरान आम जनता सहित रात 9 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह,

तेलंगाना के सीएम केसीआर, बाबा रामदेव, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पीएम मोदी की मां ने भी दीये जलाकर कोरोना के खिलाफ एकजुटता दिखाई।

रतन टाटा, मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी, बॉलिवुड एक्टर अक्षय कुमार, रजनीकांत, अनिल कपूर सहित कई अन्य कलाकारों ने भी दीये (9 baje 9 minute Deep-lamps light up India against coronavirus)जलाएं।

लेकिन इस दौरान लोगों ने पटाखे जलाकर पीएम मोदी के शांत आव्हान को बेवक्त की दीवाली में बदल दिया और इस मुहिम का असर धूमिल कर दिया।
इसका अंदाजा पहले से ही लगाया जा रहा था। पिछली बार जनता कर्फ्यू के समय भी कई लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करते हुए उस मुहिम को भी कोरोना के खिलाफ न बनाकर मौज-मस्ती का जरिया बना दिया था।
इस बार भी कुछ लोगों ने दीयों के साथ पटाखे जलाकर न केवल वायु प्रदूषण को बढ़ावा दिया बल्कि कोरोना के खिलाफ मौन जंग को मजा-मस्ती बना दिया।
नतीजा कई जगह से आगजनी की खबरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। कई बॉलिवुड सेलेब्स ने पटाखे जलाने पर गुस्सा भी किया।
9 baje 9 minute Deep-lamps light up India against coronavirus
Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 + 14 =

Back to top button