breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें
Trending

अम्फान का कहर : ओडिशा में बारिश शुरू, 21 सालों के बाद आया ऐसा Super Cyclone

21 सालों के बाद कोई सुपर साइक्लोन भारत के तटीय इलाके से टकराने जा रहा है। इसको देखते हुए आर्मी, एयर फोर्स के साथ एनडीआरएफ को अलर्ट किया गया है।

amphan cyclone live updates

भुवनेश्वर/कोलकाता/नई दिल्ली : कोरोना वायरस के कहर के बीच l

भारत के तटीय इलाको में एक और बड़ा ख़तरा सुपर साइक्लोन ‘अम्फान’ भी कहर बरपाने को तैयार है l 

सुपर साइक्लोन ‘अम्फान’ (super cyclone amphan) भारतीय तटों की तरफ दस्तक देने वाला है।

इससे पहले ही ओडिशा और पश्चिम बंगाल के कई इलाकों में जमकर बारिश हो रही है l

गौरतलब है कि 21 सालों के बाद कोई सुपर साइक्लोन भारत के तटीय इलाके से टकराने जा रहा है।

इसको देखते हुए आर्मी, एयर फोर्स के साथ एनडीआरएफ को अलर्ट किया गया है।

1999 में ओडिशा तट पर आए प्रचंड चक्रवातीय तूफान के बाद यह उस श्रेणी का दूसरा तूफान है।

अम्फान की वजह से पश्चिम बंगाल और ओडिशा के इलाकों में भारी बारिश के साथ ही नुकसान की आशंका जताई जा रही है।

बिजली सप्लाई के आधारभूत ढांचे को किसी भी प्रकार का नुकसान होने की स्थिति में केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय ने ओडिशा में इमर्जेंसी रेस्टोरेशन सिस्टम बनाया है।

इसके अलावा बड़े स्तर पर कर्मचारियों को किसी आपात स्थिति में ऊर्जा व्यवस्था को बहाल करने के लिए रिजर्व रखा गया है।

चाय पीने वालों के लिए खुशखबरी, कोरोना संक्रमण से बचाने में है ये लाभकारी 

ओडिशा में एनडीआरएफ की टीम लगातार तटीय इलाकों से लोगों को रेस्क्यू करने में जुटी हुई है।

एनडीआरएफ के अधिकारियों ने मंगलवार शाम भद्रक जिले के धामरा इलाके में तमाम लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।

amphan cyclone live updates

ओडिशा में भारतीय तटरक्षक बल के जवान रिमोट ऑपरेटिंग स्टेशनों के जरिए लोगों को अलर्ट जारी कर रहे हैं।

कोस्ट गार्ड के अधिकारियों ने मछुआरों और मर्चेंट शिप को किसी भी समुद्री क्षेत्र में ना जाने का आदेश दिया है।

इससे पहले,  महाचक्रवात अम्फान के ओडिशा तटों के करीब पहुंचने के साथ ही कुछ हिस्सों में बारिश हुई

जबकि राज्य सरकार ने संवेदनशील और निचले इलाकों को खाली कराने के प्रयास तेज कर दिए हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र, भुवनेश्वर के निदेशक एच आर विश्वास ने कहा कि सुबह ‘अम्फान’ का केंद्र पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर था,

जो पारादीप (ओडिशा) से करीब 520 किलोमीटर दक्षिण, दीघा से 670 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम

और बांग्लादेश के खेपुपारा से 800 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपश्चिम में है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि इसके असर से ओडिशा के पुरी, केंद्रपाड़ा,

जगतसिंहपुर और खुर्दा जिलों के कई इलाकों में हल्की बारिश हुई है और धीरे-धीरे हवा की गति और बारिश बढ़ सकती है।

amphan cyclone live updates

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + eighteen =

Back to top button