breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

लोकतंत्र बचाने में मीडिया अपनी जिम्मेदारी समझें,BJP खरीद-फरोख्त के सबूत:गहलोत

अशोक गहतोल ने बचा ली राजस्थान की सरकार, सचिन पायलट जाएंगे राष्ट्रीय राजनीति में: सूत्र

Rajasthan CM Ashok Gehlot accuse Media for not protecting democracy

जयपुर: राजस्थान के सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot)  ने आज मीडिया को संबोधित करते हुए उस पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र खत्म करने वाले दिल्ली में है। भाजपा कर्नाटक और मध्यप्रदेश जैसा खेल राजस्थान में खेलना चाहती है। 

भाजपा राजस्थान की सरकार गिराने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त कर रही है, इसके सबूत हमारे पास है (evidence of BJP’s horse-trading) और मीडिया का एक वर्ग इसका समर्थन कर रहा है। 

हालांकि मीडिया में आएं कुछ युवा एंकर इसपर अपना पक्ष भी रख रहे है। हमारे कुछ साथी बीजेपी के झांसे में आ गए। उन्हें समझना होगा कि वह युवा है और उनके लिए पार्टी में अभी बहुत कुछ करना बाकी है।

इसी तरह मीडिया में आएं युवा एंकर्स को भी इस बात को समझना होगा कि वह लोकतंत्र को बचाने में अहम भूमिका निभा सकते है। उन्हें अभी काफी कुछ देखना है। लंबा भविष्य सामने है।

हमारी सरकार गिराने की बीजेपी की साजिश रच रही है। हमारे विधायकों को लालच दिया गया। भाजपा पैसे के बल पर लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रही है, जिसे मीडिया का एक वर्ग भी समर्थन कर रहा है।

गलत खबरें चलाकर खरीद-फरोख्त करने वालों को सपोर्ट किया जा रहा है। राजनीति में खरीद-फरोख्त ठीक नहीं।

अशोक गहलोत ने मीडिया को उसकी भूमिका याद दिलाई और आरोप लगाया कि पैसों के बल पर राजस्थान में भाजपा सरकार गिराने की साजिश रच रही है।जानें और क्या कहा अशोक गहलोत ने:

Rajasthan CM Ashok Gehlot accuse Media for not protecting democracy:

विधायकों की खरीद-फरोख्त पर मीडिया आवाज उठाएं। लोकतंत्र बचाने में मीडिया भी अपनी जिम्मेदारी निभाएं। होर्स ट्रेंडिंग का वह समर्थन नहीं करें। 

-नई पीढ़ी के लोग होर्स ट्रेंडिंक का  सपोर्ट करेंगे तो देश कैसे बचेगा। सोने की छुरी प्लेट में खाने के लिए नहीं होती।

मैं, सोनिया गांधी और राहुल गांधी सभी नई पीढ़ी को पसंद करते है उन्हें आगे लाने को तैयार रहते है,लेकिन राष्ट्रीय मीडिया में कुछ लोग इसे बता रहे है कि हम उन्हें रोक रहे है और भाजपा जो विधायकों की खरीद-फरोख्त कर रही है उसे जायज़ ठहरा रहे है।

जबकि कांग्रेस ने 70 सालों से देश में लोकतंत्र को बनाएं रखा है जिसे आज खत्म किया जा रहा है।

इसके बाद सूत्रों से भी पता चला है कि चूंकि सचिन पायलट ने स्पष्ट कर दिया है कि वह कभी भी BJP में नहीं जाएंगे।

इसलिए आलाकमान ने कहा है कि अगर सचिन पायलट कांग्रेस में रहने को गंभीर है तो वह आलाकमान को थोड़ा वक्त दें।

सचिन पायलट के बगावती तेवर के चलते राजस्थान में उनकी वापसी मुश्किल है लेकिन कांग्रेस उन्हें राष्ट्रीय राजनीति में ला सकती है।

चूंकि पार्टी चाहती है कि युवा नेता पार्टी में बने रहें। अपनी महत्वकांक्षाओं पर थोड़ा संयम रखें। बीजेपी के हाथ का खिलौना नहीं बनें।

इससे पूर्व, एक चैनल को इंटरव्यू देते हुए आज सचिन पायलट(Sachin Pilot) ने स्पष्ट कर दिया कि वह कभी भी भाजपा में शामिल नहीं होंगे।

कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि फिलहाल राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार (Rajasthan Ashok Gehlot govt) पर कोई संकट दिख नहीं रहा। लेकिन राजनीति में कुछ भी कभी भी स्थायी नहीं होता।
 
Rajasthan CM Ashok Gehlot accuse Media for not protecting democracy

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × 3 =

Back to top button