Breaking: संगीतकार बप्पी लाहिड़ी का 69 साल की उम्र में निधन

मशहूर संगीतकार और म्यूजिक कंपोजर बप्पी लाहिड़ी(Baapi Lahiri) का आज 69 साल उम्र में निधन हो गया है।

Bollywood music composer-singer Baapi Lahiri passes away at 69

नई दिल्ली :बॉलिवुड से एक और दिल दुखा देने वाली खबर आ रही है। मशहूर संगीतकार और म्यूजिक कंपोजर बप्पी लाहिड़ी(Baapi Lahiri) का आज 69 साल उम्र में निधन हो गया है।

बप्पी लाहिड़ी का निधन मुंबई के अस्पताल में हुआ है।

हिंदी सिनेमा के लिए बप्पी लाहिड़ी का जाना अपूर्णीय क्षति है।

Bollywood music composer-singer Baapi Lahiri passes away at 69
बप्पी लाहिड़ी का निधन

लता मंगेशकर पंचतत्व में विलीन,पीएम मोदी,सीएम ठाकरे,शाहरुख़,तेंडुलकर सहित कई लोग अंतिम संस्कार में शामिल

जानकारी है कि वो जुहू के क्रिटी केयर अस्पताल में भर्ती थे. वह पिछले साल कोरोना से भी संक्रमित हो गए थेl 

बप्पी लाहिड़ी ने बॉलीवुड को कई हिट गाने दिए. बप्‍पी लाहिड़ी का असली नाम अलोकेश लाहिड़ी हैl 

उनका जन्‍म 27 नवंबर 1952 को पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी में हुआ था. इनके पिता का नाम अपरेश लाहिड़ी और मां का नाम बन्‍सारी लाहिड़ी हैl

लता मंगेशकर पंचतत्व में विलीन,पीएम मोदी,सीएम ठाकरे,शाहरुख़,तेंडुलकर सहित कई लोग अंतिम संस्कार में शामिल

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार, वह कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज के लिए एक महीने से अस्पताल में थे।

बप्पी लाहिड़ी एक महीने से अस्पताल में भर्ती थे और सोमवार को उन्हें छुट्टी दे दी गई।

लेकिन मंगलवार को उनकी तबीयत बिगड़ गई और उनके परिवार ने एक डॉक्टर को अपने घर बुलाने के लिए बुलाया।

उसे अस्पताल लाया गया। उन्हें स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं थीं।

आधी रात से कुछ समय पहले ओएसए (ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया) के कारण उनकी मृत्यु हो गई, ‘क्रिटिकेयर अस्पताल के निदेशक डॉ दीपक नामजोशी ने पीटीआई को बताया।

Lata Mangeshkar death Special:प्यार तो हुआ…फिर क्यों नहीं की लता मंगेशकर ने आजीवन शादी?जानें

Lata Mangeshkar death Special:प्यार तो हुआ…फिर क्यों नहीं की लता मंगेशकर ने आजीवन शादी?जानें

भारतीय फिल्म संगीत में सबसे प्रभावशाली शख्सियतों में से एक, बप्पी लाहिरी, 80 और 90 के दशक के बॉलीवुड में डिस्को के अग्रणी थे,

जिन्होंने डिस्को डांसर, डांस डांस और नमक हलाल जैसी फिल्मों के लिए सुपरहिट साउंडट्रैक की रचना की।

बंगाली सिनेमा की दुनिया में उनका व्यापक संगीत क्रेडिट भी था।

उन्होंने अपनी कई रचनाएँ गाईं, उनमें डिस्को डांसर से कोई यहा नाचे नाचे और साहेब से ओयर बिना चैन कहा शामिल हैं।

बप्पी दा, जैसा कि उन्हें प्यार से जाना जाता था, ने अपने ट्रेडमार्क सोने की चेन और धूप के चश्मे के साथ एक आकर्षक आकृति को काट दिया।

भारतीय फिल्म संगीत में सबसे प्रभावशाली शख्सियतों में से एक, बप्पी लाहिरी, 80 और 90 के दशक के बॉलीवुड में डिस्को के अग्रणी थे,

जिन्होंने डिस्को डांसर, डांस डांस और नमक हलाल जैसी फिल्मों के लिए सुपरहिट साउंडट्रैक की रचना की।

बंगाली सिनेमा की दुनिया में उनका व्यापक संगीत क्रेडिट भी था। उन्होंने अपनी कई रचनाएँ गाईं,

उनमें डिस्को डांसर से कोई यहा नाचे नाचे और साहेब से ओयर बिना चैन कहा शामिल हैं।

बप्पी दा, जैसा कि उन्हें प्यार से जाना जाता था, ने अपने ट्रेडमार्क सोने की चेन और धूप के चश्मे के साथ एक आकर्षक आकृति को काट दिया।

इससे कुछ दिन पहले, (Breaking News – ‘भारत रत्न’ से सम्‍मानिता लता मंगेशकर का 93 उम्र में निधन)

एक कुशल रंगमंचीय गायक दीनानाथ मंगेशकर की पुत्री लता मंगेशकर का आज निधन हो गयाl

कोरोना से लम्बी लड़ाई के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में उनका निधन हो गयाl

बॉलीवुड के तमाम नेता सहित देश के प्रधानमंत्री मोदी ने भी उनके मौत पर शोक जताया l 

उनका जन्म 28 सितम्बर 1929 को मध्य प्रदेश में हुआ था l उन्होंने बहुत ही छोटी उम्र में गायन के क्षेत्र में कदम रख दिया था l

एक इंटरव्यू में लता मंगेशकर ने बताया था कि उन्होंने अपनी जिम्मेदारियों के चलते कभी शादी नहीं की।

उन्होंने कहा था कि, मेरे पिता के निधन के बाद मुझ पर परिवार की जिम्मेदारी आ गईं।

लता मंगेशकर फिर वेंटीलेटर पर, जानियें त़ाजा अपडेट

लता मंगेशकर फिर वेंटीलेटर पर, जानियें त़ाजा अपडेट

मुझे 5 छोटे बहन भाई को संभालना था।  मैंने छोटी ही उम्र में काम शुरू कर दिया था।

13 साल की छोटी उम्र में अपने पिता के देहांत के बाद उन्होंने पहला गाना गाया l  यूँ तो उनको कई ढेर सारे अवार्ड मिले हुए है l

8 जनवरी से अस्पताल में भर्ती सुरों की मल्लिका/स्वर कोकिला लता मंगेशकर हमारे बीच नहीं रही.
8 जनवरी से अस्पताल में भर्ती सुरों की मल्लिका/स्वर कोकिला लता मंगेशकर हमारे बीच नहीं रहीl

पर जो अवार्ड सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है वह है : 

  • भारत रत्न (2021)
  • पद्मविभूषण (1999)
  • दादा साहेब फालके अवार्ड (1989)
  • पद्म भूषण (1969)
  • महाराष्ट्र भूषण (1997)
  • Legion of Honour (2007)

लता जी ने बॉलीवुड की फिल्मो में एक से बढ़कर एक सुपरहिट गाने दिए है l 

उनके द्वारा कई फिल्मो में गाने गाये गए है, जिनमे मुगले आजम, अनारकली, अमर प्रेम, आशा, गाइड,

प्रेमरोग, सत्यम् शिवम् सुन्दरम्, रामलखन, हिना, बरसात, पाकीजा, नागिन जैसी कई सुपरहिट फिल्मे भी है

Bollywood music composer-singer Baapi Lahiri passes away at 69

Show More

Sonal

सोनल कोठारी एक उभरती हुई जुझारू लेखिका है l विभिन्न विषयों पर अपनी कलम की लेखनी से पाठकों को सटीक जानकारी देना उनका उद्देश्य है l समयधारा के साथ सोनल कोठारी ने अपना लेखन सफ़र शुरू किया है l विभिन्न मीडिया हाउस के साथ सोनल कोठारी का वर्क एक्सपीरियंस 5 साल से ज्यादा का है l

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button