breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशबीमारियां व इलाजराज्यों की खबरेंहेल्थ
Trending

Delta Plus Variant पर केंद्र का Alert! 8 राज्यों को चिट्ठी लिख दिए ये निर्देश

श में अभी तक डेल्टा प्लस वेरिएंट के कुल 48 केस आ चुके है। इनमें से तीन की मौत हो चुकी है,जिनमें दो मध्यप्रदेश से है और एक महाराष्ट्र से है...

Delta-Plus-Variant-centre-govt-alert-8-states

नई दिल्ली:कोरोना(Coronavirus)का बदला रुप नया डेल्टा प्लस वेरिएंट(Delta Plus Variant) इन दिनों देश में तेजी से पैर पसार रहा है।

जहां एक ओर,एक्सपर्ट्स पहले ही आशंका जता चुके है कि देश में तीसरी लहर डेल्टा प्लस वेरिएंट के कारण आ सकती है

वहीं देश में अभी तक डेल्टा प्लस वेरिएंट के कुल 48 केस आ चुके है। इनमें से तीन की मौत हो चुकी है,जिनमें दो मध्यप्रदेश से है और एक महाराष्ट्र से है।

इस बात से चिंतित होकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 8 राज्यों को पत्र लिखकर जीनोम सिक्वेंसिंग (Genome Sequencing) के लिए सैंपल भेजने को कहा है।

केंद्र सरकार ने डेल्टा प्लस वेरियंट (Delta plus variant) पर अलर्ट करते हुए आठ राज्यों को चिट्ठी लिखकर अहम निर्देश दिए(Delta-Plus-Variant-centre-govt-alert-8-states) हैं।

मोदी सरकार की तरफ, से आंध्र प्रदेश, गुजरात, हरियाणा,जम्मू-कश्मीर, पंजाब, कर्नाटक, राजस्थान और तमिलनाडु को यह चिट्ठी लिखी गई है,

इसमें इन राज्यों को कहा गया है कि जिलों और समूहों में तत्काल रोकथाम के उपाय करें, जिसमें भीड़ और लोगों का आपस में मिलने जुलने पर रोक,

बड़े स्तर पर टेस्टिंग, तत्काल ट्रेसिंग और साथ ही प्राथमिकता के आधार पर वैक्सीन कवरेज शामिल है।

केंद्र ने कहा है कि टेस्ट में पॉजिटिव लोगों के पर्याप्त नमूने इंसाकोग की नामित प्रयोगशालाओं को तत्काल भेजे जाएं।

इन आठ राज्यों के इन ज़िलों में डेल्टा प्लस वेरियंट(Delta plus variant)की मौजूदगी है।

तमिलनाडु (मदुरई, कांचीपुरम और चेन्नई जिले), राजस्थान (बीकानेर), कर्नाटक (मैसूरु), पंजाब (पटियाला,लुधियाना), जम्मू कश्मीर (कटरा), हरियाणा (फरीदाबाद), गुजरात (सूरत) और आंध्रप्रदेश (तिरुपति)।

गौरतलब है कि इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के डीजी डॉ। बलराम भार्गव ने शुक्रवार को कहा, ’10 दिनों में पता लग जायेगा कि डेल्टा प्लस पर वैक्सीन कितनी कारगर है।

उन्‍होंने कहा कि डेल्टा वैरिएंट(delta variant) में म्युटेशन प्रेशर से भी होता है और उसे ज्यादा बेहतर माहौल मिलने से होता है।

क्लस्टर में वायरस फैलने से ज्यादा फैलेगा, इसका खतरा रहता है।’ उन्‍होंने कहा कि डेल्टा वैरिएंट 80 देशों में है इसके 3 subtype हैं। 16 देशों में 25% से ज्यादा मामले डेल्टा वैरिएंट के हैं।

 

 

Delta-Plus-Variant-centre-govt-alert-8-states

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six + 2 =

Back to top button