breaking_newsअन्य ताजा खबरेंअपराधदेश
Trending

PNB Scam : ED का मेहुल चोकसी पर शिकंजा, 14 करोड़ रुपये की संपत्ति की जब्त

बहन PNB Fraud Case में सरकारी गवाह बनी नीरव मोदी की बहन और उनके पति अपने खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट को रद्द करने के लिए कोर्ट पहुंचे

pnb scam ED attaches over rs 14 crore assets of mehul choksi under money laundering act

नई दिल्ली (समयधारा) :  आपको पंजाब नेशनल बैंक घोटाले (PNB Scam) की जानकारी होगी ही l

इस घोटाले के मुख्य आरोपी भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul Choksi) पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) का शिकांजा कसता जा रहा है।

ED ने 13 हजार करोड़ रुपये से अधिक के PNB Fraud Case में गीतांजलि ग्रुप और इसके प्रमोटर मेहुल चोकसी की 14 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति जब्त कर ली है।

ED ने बताया कि पीएनबी बैंक घोटाले के मुख्य आरोपियों में से एक मेहुल चोकसी की प्रपॉपर्टी का अटैचमेंट मनी लॉन्ड्रिंग प्रिवेंशन एक्ट (PMLA) के तहत किया गया है।

 गौरतलब है कि मेहुल चोकसी तीन साल से देश से फरार हैं।

pnb scam ED attaches over rs 14 crore assets of mehul choksi under money laundering act

ईडी ने इससे पहले भी मेहुल चोकसी और इस केस के दूसरे आरोपियों की संपत्ति को जब्त किया है।

मेहुल चोकसी और गीतांजलि ग्रुप के जिन ऐसेट्स को अचैट किया गया है,

उनमें मुंबई के गोरेगांव स्थित O2 टावर में एक 1,460 वर्ग फुट आकार का फ्लैट, गोल्ड और प्लेटिनम की ज्वैलरी, हीरे, चांदी और मोतियों से बना नेकलेस, महंगी घड़ियां और एक मर्सिडीज बेंज कार शामिल है।

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक, मेहुल चोकसी भारत से भागकर एंटीगा चला गया था।

चोकसी को जनवरी 2018 में एंटीगा और बारबुडा की नागरिकता मिल गई। जबकि मेहुल चोकसी का भांजा और पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपी नीरव मोदी लंदन में है,

जहां उसे भारत प्रत्यर्पित करने का केस चल रहा है। गौरतलब है कि PNB Fraud Case 2018 में सामने आया था।

यह घोटाला 13,000 करोड़ रुपये से अधिक का है। इस घोटाले में हीरा व्यापारी नीरव मोदी के अलावा उसकी पत्नी ऐमी,

उसका भाई निशाल और मामा मेहुल चोकसी मुख्य अभियुक्त है।

pnb scam ED attaches over rs 14 crore assets of mehul choksi under money laundering act

आरोप है कि चोकसी और उसकी कंपनी गीतांजलि जेम्स और अन्य लोगों ने पंजाब नेशनल बैंक के कुछ अधिकारियों के साथ मिलकर धोखे से लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LOU) जारी करवाकर

और फॉरेन लेटर फॉर क्रेडिट (FLC) बढ़वा लिया और बैंक के पैसे लेकर फरार हो गया।

PNB Fraud Case में सरकारी गवाह बनी नीरव मोदी की बहन और उनके पति अपने खिलाफ जारी गैर जमानती वारंट को रद्द करने के लिए गुरुवार को कोर्ट पहुंचे।

नीरव की छोटी बहन पूर्वी मोदी बेल्जियम की नागरिक हैं और उनके पति मयंक मेहता के पास ब्रिटेन की नागरिकता है।

इस मामले में अदालत ने ED को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया और मामले की सुनवाई 11 फरवरी तक के लिए टाल दी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 + six =

Back to top button