breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति
Trending

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती पर राष्ट्रपति कोविंद,PM मोदी,राहुल गांधी,ममता, अमित शाह सहित कई लोगों ने किया नमन

पीएम मोदी आज शाम 6 बजे नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण करेंगे, आज 23 जनवरी 2022 को देश नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती (Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary-as Parakram diwas)मना रहा है

Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary hologram-statue indiagate – amarjyoti 

नयी दिल्ली (समयधारा) : देश को आजादी दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले स्वतंत्रता सेनानियों में से एक

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 126वीं जयंती (Subhash Chandra Bose Jayanti) है l 

आजादी की लड़ाई में अहम भूमिका निभाने वाले स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस(Netaji Subhash Chandra Bose Jayanti) का जन्म 23जनवरी 1897 को हुआ था।

Netaji Subash Chandra bose Jayanti: आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती,पीएम मोदी मनाएंगे पराक्रम दिवस

Netaji Subash Chandra bose Jayanti: आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती,पीएम मोदी मनाएंगे पराक्रम दिवस

ब्रिटिश सेना के खिलाफ आजादी की लड़ाई लड़ते हुए सुभाष चंद्र बोस(Subhas Chandra Bose) नेताजी ने युवाओं की हिंद सेना बनाकर आव्हान किया था कि ‘तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा’।

आज 23 जनवरी 2022 को देश नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती (Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary-as Parakram diwas)मना रहा है l 

और इस अवसर को केंद्र सरकार एक बार फिर ‘पराक्रम दिवस'(Parakram Diwas) के रूप में मना रही है।

Netaji Subhash Chandra Bose bose 125th birth anniversary-PM Modi visit Kolkata to celebrate Netaji Jayanti as Parakram diwas
नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती आज

देश के प्रति नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अदम्य भावना और निस्वार्थ सेवा का सम्मान करने

और उन्हें याद करने के लिए सरकार ने देश की जनता विशेषकर युवाओं को प्रेरणा देने के लिए,

हर साल 23 जनवरी को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया है।

Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary hologram-statue indiagate – amarjyoti 

इस मौके पर इंडिया गेट पर उनकी होलोग्राम प्रतिमा लगाई जाएगी, जिसका अनावरण देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) करेंगे।

पीएम मोदी आज शाम 6 बजे नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण करेंगे।

नेताजी की यह प्रतिमा देश के महान सपूत के प्रति आभार के प्रतीक के तौर पर लगाई जा रही है।

यहां नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा लगाई जानी है, लेकिन जब तक यह तैयार नहीं हो जाती, यहां होलोग्राम प्रतिमा लगाई जा रही है।

पीएम मोदी ऐलान कर चुके हैं कि इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की ग्रेनाइट से बनी प्रतिमा लगाई जाएगी।

नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा 28 फुट ऊंची और छह फुट चौड़ी होगी

और यह उस मंडप में स्थापित की जाएगी, जहां कभी किंग जॉर्ज पंचम की प्रतिमा थी और जिसे 1968 में हटा दिया गया था।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा था, ऐसे समय में जब देश नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती मना रहा है,

मुझे आपसे यह साझा करते हुए खुशी हो रही है कि ग्रेनाइट की बनी उनकी एक भव्य प्रतिमा इंडिया गेट पर स्थापित की जाएगी।

Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary hologram-statue indiagate – amarjyoti 

यह उनके प्रति देश के आभार का प्रतीक होगी। जब तक नेताजी की ग्रेनाइट की प्रतिमा बनकर तैयार नहीं हो जाती, तब तक वहां होलोग्राम प्रतिमा लगाई जाएगी।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि बोस की 125वीं जयंती को आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी साल 2019, 2020, 2021 और 2023 के लिए सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार देंगे।

इस समारोह में कुल 7 पुरस्कार दिए जाएंगे।

सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर भारत कृतज्ञतापूर्वक श्रद्धांजलि देता है।

स्वतंत्र भारत के विचार के प्रति अपनी उग्र प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए उन्होंने जो साहसी कदम उठाए – आजाद हिंद – उन्हें एक राष्ट्रीय प्रतीक बनाते हैं।

वहीं पीएम मोदी ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि सभी देशवासियों को पराक्रम दिवस की ढेरों शुभकामनाएं।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर उन्हें मेरी आदरपूर्ण श्रद्धांजलि। इसे साथ ही केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी नेता जी को श्रद्धांजलि दी है।

Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary hologram-statue indiagate – amarjyoti 

शाह ने कहा कि आजादी के महानायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर उन्हें कोटिश: नमन करता हूं।

उन्होंने अपने असाधारण देश प्रेम, अदम्य साहस और तेजस्वी वाणी से युवाओं को संगठित कर विदेशी शासन की नींव हिला दी।

मातृभूमि के लिए उनका अद्वितीय त्याग, तप और संघर्ष सदैव देश का मार्गदर्शन करता रहेगा।

वही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक के बाद एक कई ट्वीट डाले और कहा 

इस बात का गहरा दुख है कि दिग्गज फुटबॉलर, कोच सुभाष भौमिक नहीं रहे।

1970 एशियाई खेलों के पदक विजेता, मोहन बागान, पूर्वी बंगाल में प्रसिद्ध फुटबॉलर,

Netaji Subhash Chandra Bose 126th birth anniversary hologram-statue indiagate – amarjyoti 

अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में देश का प्रतिनिधित्व करते हुए और कोलकाता के तीन बड़े क्लबों को सफलतापूर्वक कोचिंग दी, वह एक किंवदंती थे। 

हमारी सरकार ने उन्हें 2013 में कृरागुरु पुरस्कार से सम्मानित किया था। उनका निधन खेल की दुनिया में एक बड़ा शून्य पैदा करेगा।

उनके परिवार, दोस्तों, अनुयायियों और फुटबॉल उत्साही लोगों के प्रति मेरी गहरी संवेदना। 

हम फिर से केंद्र सरकार से अपील करते हैं कि नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया जाए

ताकि पूरा देश राष्ट्रीय नेता को श्रद्धांजलि दे सके और #देशनायक दिवस को सबसे उपयुक्त तरीके से मना सके।

इस वर्ष ‘नेताजी’ पर गणतंत्र दिवस परेड में एक झांकी प्रदर्शित की जाएगी

और इसमें हमारे देश की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में बंगाल के अन्य प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानियों को भी शामिल किया जाएगा। 

देशनायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर कोटि-कोटि नमन।

एक राष्ट्रीय और वैश्विक प्रतीक, बंगाल से नेताजी का उदय भारतीय इतिहास के इतिहास में बेजोड़ है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button