breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशफैशनलाइफस्टाइल
Trending

friendship day date: जानें 2021 में कब है फ्रेंडशिप डे?,कैसे हुई थी इसकी शुरुआत

दोस्ती का महत्व सिर्फ टीवी-फिल्मों में ही नहीं बल्कि हमारे पुराणों में भी देखने को मिला है। जैसे-कृष्ण-सुदामा की दोस्ती, दुर्योधन और करण की दोस्ती ,श्री कृष्ण व अर्जुन की दोस्ती और प्रभु राम व हनुमान की दोस्ती।

friendship-day-date-2021friendship-day-kab-hai-indian-friendship-day

नई दिल्ली:हर रिश्ता हमें जन्म से मिलता है लेकिन दोस्ती एक ऐसा रिश्ता है जो पूरी तरह हम अपनी मर्जी,अपनी खुशी और अपने दिल के एहसासों से बनाते है और इसी के सम्मान में सभी फ्रेंडशिप डे(friendship-day) सेलिब्रेट करते है।

दोस्ती यानि फ्रेंडशिप(Friendship)का महत्व सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विश्वभर में है।

यही कारण है कि इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे(International Friendship Day)दुनियाभर में मनाया जाता है और इसी तर्ज पर भारत में भी फ्रेंडशिप डे(indian-friendship-day) प्रतिवर्ष अगस्त के पहले रविवार को बड़े धूमधाम से मनाया जाता है।

वर्ष 2021 में फ्रेंडशिप डे कब है?-friendship-day-kab-hai

आपको बता दें कि इस वर्ष 2021 में फ्रेंडशिप डे(friendship-day-date-2021)यानि दोस्ती दिवस, रविवार 1अगस्त 2021(1August 2021) को है।

फ्रेंडशिप डे का दिन प्रमुख रुप से अपनी दोस्ती को सेलिब्रेट करने के लिए मनाया जाता है।

अपने दोस्तों और यारों के साथ लोग पार्टी करते है,इंज्यॉय करते है और एक-दूसरे को फ्रेंडशिप बैंड,कार्ड्स व चॉकलेट्स देते है

इतना ही नहीं, फ्रेंडशिप डे शायरी(friendship day shayari)व दोस्ती शायरी(dosti shayari) दोस्त एक-दूसरे को भेजकर स्पेशल फील करवाते है।

फ्रेंड्स के बीच यह दिन किसी त्यौहार से कम नहीं। फ्रेंडशिप डे का क्रेज सिर्फ यूथ के बीच ही नहीं होता,बल्कि उम्र के किसी भी पड़ाव में हर इंसान को दोस्त की जरुरत पड़ती ही है

और फ्रेंडशिप डे,वह दिन होता है जब आप अपने दोस्त या फ्रेंड को बता सकते है कि उनकी दोस्ती यानि फ्रेंडशिप आपके लिए कितनी अनमोल है।

दोस्ती का महत्व सिर्फ टीवी-फिल्मों में ही नहीं बल्कि हमारे पुराणों में भी देखने को मिला है।

जैसे-कृष्ण-सुदामा की दोस्ती, दुर्योधन और करण की दोस्ती ,श्री कृष्ण व अर्जुन की दोस्ती और प्रभु राम व हनुमान की दोस्ती।

दिल के जज्बातों से बना रिश्ता फ्रेंडशिप किसी भी शख्स के लिए सबसे कीमती होती है। चूंकि दोस्ती ही एक ऐसा रिश्ता होता है जिसमें आपको कोई जज नहीं करता।

दो दोस्त बिना किसी शर्त के भी ताउम्र साथ रह सकते है। इसलिए सभी रिश्तों में दोस्ती को सबसे प्रमुख माना गया है।

यही कारण है कि इस रिश्ते को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ‘इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे’ के रुप में सेलिब्रेट किया जाता है और हमारे देश में भी हर वर्ष अगस्त महीने के पहले  रविवार को फ्रेंडशिप डे के रुप में धूमधाम से मनाया जाता(friendship-day-date-2021friendship-day-kab-hai-indian-friendship-day)है।

इस साल 1 अगस्त 2021,रविवार को फ्रेंडशिप डे(friendship-day-kab-hai)देशभर के लोग मनाएंगे।

पहली बार फ्रेंडशिप डे मनाने की शुरुआत कैसे हुई थी?

friendship-day-date-2021friendship-day-kab-hai-indian-friendship-day

दोस्ती दिवस यानि फ्रेंडशिप डे(Friendshipday)दुनियाभर में धूमधाम से मनाया जाता है। पहली बार 1958 में पराग्वे में इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे को प्रस्तावित किया गया था।

वैसे,1930 में जॉयस हॉल द्वारा हॉलमार्क कार्ड से फ्रेंडशिप डे को उत्पन्न किया गया था। इसके बाद अंतत: संयुक्त राष्ट्र ने 30 जुलाई को आधिकारिक रूप से इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे के रूप में घोषित किया गया था। 

हालांकि, देश में यह आमतौर पर अगस्त महीने के पहले रविवार को ही हमेशा सेलिब्रेट किया जाता रहा है।

वर्ष 1998 में संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान की पत्नी, नैन अन्नान ने UN में विनी द पूह को फ्रेंडशिप के वैश्विक राजदूत के रूप में घोषित किया।

विश्वभर में फ्रेंडशिप डे अलग-अलग दिन मनाया जाता है

friendship-day-date-2021friendship-day-kab-hai-indian-friendship-day

विश्वभर में मित्रता दिवस विभिन्न देशों में अलग-अलग दिन मनाया जाता है।

दरअसल, 27 अप्रैल 2011 को संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा ने 30 जुलाई के दिन को आधिकारिक तौर पर इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे घोषित किया था।

लेकिन, भारत समेत कई दक्षिण एशियाई देशों में अगस्त महीने के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है।

हालांकि, ओहायो के ओर्बलिन में 8 अप्रैल को फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है।

friendship-day-date-2021friendship-day-kab-hai-indian-friendship-day

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 + 5 =

Back to top button