Trending

G7 Summit Live – गांधी की प्रतिमा के अनावरण सहित PM मोदी की हर हलचल का लाइव अपडेट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिरोशिमा में कहा कि गांधी दुनिया में शांति, सद्भाव और आदर्श के प्रतिनिधि हैं। वह लाखों लोगों को ताकत देते हैं। महात्मा गांधी की प्रतिमा भारत ने जापान को मित्रता के रूप में गिफ्ट की है।

pm-modi-g7-summit-live-in-japan all-news-updates-in-hindi

जापान/नयी दिल्ली (समयधारा) : प्रधानमंत्री मोदी अभी तीन दिनों की विदेशी यात्रा पर है l जहाँ वह जी-7 समिट (G7 Summit) में भाग ले रहे है l

आइये जानते है मोदी जी की यात्रा के लाइव अपडेट 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रसिद्ध जापानी लेखक और हिंदी, पंजाबी भाषा के जानकार पद्मश्री डॉ. तोमियो मिजोकामी के साथ बातचीत की।

प्रधानमंत्री मोदी ने जापान में भारतीय साहित्य को बढ़ावा देने और दोनों देशों को करीब लाने में उनके योगदान की सराहना की।

क्या फिर नोटबंदी..? तो मेरे 2000 के नोट का क्या होगा..? आसानी से जानें अपने सवालों के जवाब

क्या फिर नोटबंदी..? तो मेरे 2000 के नोट का क्या होगा..? आसानी से जानें अपने सवालों के जवाब

दोनों के मुलाकात की तस्वीरें विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिरोशिमा में कहा कि गांधी दुनिया में शांति, सद्भाव और आदर्श के प्रतिनिधि हैं। वह लाखों लोगों को ताकत देते हैं।
महात्मा गांधी की प्रतिमा भारत ने जापान को मित्रता के रूप में गिफ्ट की है।
जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के साथ पीएम मोदी ने बैठक की।
बाद में जी-7 समूह के वार्षिक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए यात्रा के दौरान, 
उन्होंने हिरोशिमा में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति के साथ मीटिंग की।
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने हिरोशिमा में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यून सुक येओल के साथ द्विपक्षीय बैठक की।
प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि आज की बातचीत प्रमुख रूप से विकास के क्षेत्रों में इस दोस्ती को और भी मजबूत करने के तरीकों पर केंद्रित है।
पीएम मोदी ने कहा कि आज भी हिरोशिमा का नाम सुनते ही दुनिया थरथरा जाती है।
G7 समिट में मुझे महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण करने का सौभाग्य मिला। आज दुनिया जलवायु परिवर्तन और आतंकवाद की लड़ाई लड़ रही है l
जापान के हिरोशिमा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महात्मा गांधी की आवक्ष प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा,
हिरोशिमा की यह प्रतिमा बेहद महत्वपूर्ण संदेश दे रही है। शांति और सद्भाव के गांधीवादी आदर्श विश्व स्तर पर गूंजते हैं और लाखों लोगों को ताकत देते हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिरोशिमा में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया।
प्रतिमा के अनावरण के बाद पीएम ने कहा कि हिरोशिमा नाम सुनते ही आज भी दुनिया कांप जाती है।
उन्होंने कहा कि जी7 समिट की इस यात्रा में मुझे सबसे पहले पूज्य महात्मा गांधी की प्रतीमा का अनावरण का सौभाग्य मिला है।
आज विश्व जलवायु परिवर्तन और आतंकवाद की लड़ाई से जूझ रहा है।
प्रधानमंत्री ने कहा कि पूज्य बापू के आदर्श जलवायु परिवर्तन के साथ जो लड़ाई है उसे जीतने का उत्तम से उत्तम मार्ग है।
उनकी जीवन शैली प्रकृति के प्रति सम्मान, समन्वय और समर्पन का उत्तम उदाहरण रही है। पीएम मोदी ने यहां भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात की।
pm-modi-g7-summit-live-in-japan all-news-updates-in-hindi
क्वॉड देशों की बैठक शनिवार को हिरोशिमा में होगी। बाइडन का ऑस्ट्रेलिया दौरा रद्द होने के बाद सिडनी में बैठक भी कैंसल कर दी गई थी।
वाइट हाउस ने शुक्रवार को जारी बयान में बताया कि हिरोशिमा में सभी चारों देशों (भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान) के नेता मौजूद हैं और अब बैठक वहीं होगी। PM मोदी इसमें भाग लेंगे।
रूस-यूक्रेन संघर्ष पर मोदी ने कहा कि इस मामले में भारत का रुख स्पष्ट और अटल है। भारत शांति के पक्ष में खड़ा है।

आज का समय सहयोग का है संघर्ष का नहीं। उम्मीद जताई जा रही है कि जी7 से इतर मोदी और यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की की मुलाकात हो सकती है।

‘जल्‍लीकट्टू’-‘कंबाला’-‘बैलगाड़ी दौड़’ पर नहीं लगेगा बैन, सुप्रीमकोर्ट ने सही ठहराया

इसके लिए दोनों देशों के राजनयिक इसकी संभावनाएं तलाश रहे हैं। अगर मोदी और जेलेंस्की हिरोशिमा में मिलते हैं,

तो यह पिछले साल फरवरी में यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के बाद दोनों नेताओं की पहली मुलाकात होगी।
pm-modi-g7-summit-live-in-japan all-news-updates-in-hindi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के हिरोशिमा में जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा से मुलाकात की।
दोनों नेताओं ने व्यापार, अर्थव्यवस्था और संस्कृति सहित विभिन्न क्षेत्रों में भारत-जापान की मित्रता को बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की।

 

इससे पहले,

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जी-7 समूह (G7 Summit) सहित कुछ प्रमुख बहुपक्षीय शिखर सम्मेलनों में भाग लेने के लिए शुक्रवार को जापान, पापुआ न्यू गिनी और ऑस्ट्रेलिया की छह दिवसीय यात्रा पर रवाना हो गए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार 19 मई की सुबह अपनी यात्रा के पहले चरण में जापान के शहर हिरोशिमा के लिए रवाना हुए,

जहां वह दुनिया की विकसित अर्थव्यवस्था वाले देशों के समूह जी-7 के वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

पीएम मोदी जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के न्योते पर वहां जा रहे हैं।

जापान, जी-7 समूह के मौजूदा अध्यक्ष के रूप में इसके शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है और भारत को इसमें अतिथि देश के रूप में आमंत्रित किया गया है।

Nothing Phone (2)में होगा दमदार स्नैपड्रैगन 8+ जेन 1 प्रोसेसर,खुद CEO कार्ल पेई ने दिया अपडेट

pm-modi-g7-summit-live-in-japan all-news-updates-in-hindi

जी-7 समूह की बैठक में प्राथमिकताओं से जुड़े कई विषयों पर चर्चा होगी, जिसमें संपर्क बढ़ाने, सुरक्षा, परमाणु निरस्त्रीकरण,

आर्थिक सुरक्षा, क्षेत्रीय मुद्दे, जलवायु परिवर्तन, खाद्य एवं स्वास्थ्य तथा विकास के अलावा डिजिटलीकरण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी जैसे मुद्दे शामिल हैं।

विदेश मंत्रालय के एक बयान में बताया गया है कि भारत तीन औपचारिक सत्र में हिस्सा लेगा,

जिसमें प्रथम दो सत्र 20 मई को और तीसरा सत्र 21 मई को आयोजित किया जाएगा।

प्रथम दो सत्र के विषय खाद्य एवं स्वास्थ्य और लैंगिक समानता तथा जलवायु परिवर्तन व पर्यावरण होंगे।

वहीं, शांतिपूर्ण, टिकाऊ एवं प्रगतिशील विश्व जैसे विषयों को तीसरे सत्र में शामिल किया गया है।

विदेश सचिव ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन से इतर जापान के प्रधानमंत्री और कुछ अन्य देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे।

उन्होंने बताया कि जापान के प्रधानमंत्री किशिदा के साथ प्रधानमंत्री मोदी की द्विपक्षीय वार्ता में आर्थिक मामलों सहित अन्य विषयों पर चर्चा होगी।

विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी, जापान से पोर्ट मोरेस्बी की यात्रा करेंगे,

जहां वह 22 मई को पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री जेम्स मारपे के साथ फोरम फॉर इंडिया-पैसिफिक आइलैंड्स को-ऑपरेशन (एफआईपीआईसी) के तीसरे शिखर सम्मेलन की संयुक्त रूप से मेजबानी करेंगे।

कर्नाटक में होगी आज ताजपोशी, विपक्षी एकता का दिखेगा दम, ममता रहेगी नदारद..!

बता दें कि किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पापुआ न्यू गिनी की यह पहली यात्रा होगी।

साल 2014 में स्थापित किए गए एफआईपीआईसी में भारत और 14 प्रशांत द्वीप देश शामिल हैं।

जिनमें फिजी, पापुआ न्यू गिनी, टोंगा, तुवालु, किरिबाती, समोआ, वानुअतु, नीयू, फेडरेटेड स्टेट्स ऑफ माइक्रोनेशिया,

रिपब्लिक ऑफ मार्शल आइलैंड्स, कुक आइलैंड्स, पलाऊ, नाउरू और सोलोमन द्वीप सम्मिलित हैं।

क्वात्रा ने बताया कि मोरेस्बी में प्रधानमंत्री मोदी पापुआ न्यू गिनी के नेतृत्व के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे।

साथ ही, उनका फिजी के प्रधानमंत्री रोबुका से मिलने का भी कार्यक्रम है।

विदेश सचिव ने बताया कि अपनी यात्रा के तीसरे और अंतिम चरण में पीएम मोदी क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए 22 से 24 मई तक सिडनी जाएंगे।

Share Market Live – शेयर बाजार ऊपर, बैंक के शेयरों में पिटाई

उन्होंने बताया कि ऑस्ट्रेलिया की अपनी यात्रा के दौरान मोदी 24 मई को वहां (आस्ट्रेलिया) के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी 23 मई को सिडनी में एक सामुदायिक कार्यक्रम में ऑस्ट्रेलियाई कंपनियों के मुख्य कार्यकारी

अधिकारियों और प्रमुख कारोबारियों के साथ बातचीत करेंगे तथा भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित भी करेंगे।

pm-modi-g7-summit-live-in-japan all-news-updates-in-hindi

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button