breaking_newsअन्य ताजा खबरेंविभिन्न खबरेंविश्वहेल्थ
Trending

Coronavirus: ब्रिटेन में एक हफ्ते के अंदर ही मिला और ‘ज्यादा संक्रामक’ दूसरा नया COVID-19 स्ट्रेन

जहां अभी तक कोरोना वैक्सीन(Corona vaccine) का सभी को बेसब्री से इंतजार है तो वहीं, कोविड-19 संक्रमण अब नए रूप बदलकर लोगों को संक्रमित कर रहा है...

Coronavirus another new strain found in UK more infectious

लंदन: वर्ष 2020 की शुरुआत जहां कोरोनावायरस(Coronavirus) जैसी महामारी से हुई तो वहीं इस वर्ष का अंत भी इस भयानक महामारी के नए-नए स्ट्रेन के रूप में हो रहा है।

जहां अभी तक कोरोना वैक्सीन(Corona vaccine) का सभी को बेसब्री से इंतजार है तो वहीं, कोविड-19 संक्रमण अब नए रूप बदलकर लोगों को संक्रमित कर रहा है।

इसी कड़ी में जहां अभी एक हफ्ता पहले ही खबर आई है कि ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन(new corona strain found in UK more infectious) मिला है जोकि पुराने कोरोनावायरस (Coronavirus) से 70 फीसदी खतरनाक है

तो वहीं अब एक हफ्ते के अंदर ही ब्रिटेन में तेजी से एक और दूसरे नए कोरोनावायरस स्ट्रेन का पता लगने से हड़कंप मच गया है।

कोरोना का यह दूसरा नया स्ट्रेन पहले वाले से भी ज्यादा संक्रामक करने की क्षमता रखता है।

दरअसल,बुधवार को ब्रिटेन(UK) ने घोषणा की है कि उसे COVID-19 का और भी ज्यादा संक्रामक नया दूसरा स्ट्रेन मिला है।

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनक ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग में बताया कि UK में इस नए स्ट्रेन के 2 मामले सामने आए हैं।

उन्होंने पिछले दो हफ्ते में दक्षिण अफ्रीका से आने वाले सभी लोगों से तत्काल खुद को आइसोलेट करने की अपील की।

हैनक ने बताया कि ब्रिटेन में कोरोना के इस नए स्ट्रेन के दो मामले सामने आए हैं। दोनों मरीज दक्षिण अफ्रीका से आने वाले लोगों के संपर्क में रहे थे और अभी क्वारंटीन में हैं।

उन्होंने कहा कि साउथ अफ्रीका से ब्रिटेन आने वाले यात्रियों और उनके कॉन्टैक्ट्स पर नई पाबंदियां लगाई जाएं।

Coronavirus another new strain found in UK more infectious

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 17 =

Back to top button