breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइल
Trending

अप्रैल फूल डे : इन आसान फाडू आईडिया से घर बैठे मनाएं मुर्ख दिवस

Happy April Fools Day 2020: जानें क्यों मनाया जाता है अप्रैल फूल डे ,कहां से हुई मूर्ख बनाने की शुरूआत

april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
नई दिल्ली,(समयधारा) :  दोस्तों इस समय देश भर में कोरोना (Coronavirus) का कहर जारी है l इस समय हालात यह नहीं है कि हम अप्रैल फूल्स डे मनाएं l
पर इस महामारी के बीच अगर ख़ुशी के कई दो पल मिल जाए तो इससे हामरे दिमाग को थोड़ा आराम ही तो मिलेगा ना l 
आप सभी घर में सुरक्षित रहें यही कामना है हमारी l  आज अप्रैल फूल डे और हम में से कई लोग इस डे का बेसब्री से इन्तजार करते है l
मुझे आज भी याद है जब में छोटी थी बहुत बार मैंने यह दिन बनाया है l लोगों को बेवकूफ बनाने का मजा ही कुछ और था l
अप्रैल की पहली तारीख यानि 1 अप्रैल आते ही लोग दोस्तों और रिश्तेदारों के बीच प्रैक्टिकल प्रैंक खेलने की योजना बनाने लगते है।
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
सभी का मकसद बस इतना भर होता है कि कैसे अपने फ्रेंड्स और रेलेटिव्स को मूर्ख बनाया जाएं और वहीं सभी का लक्ष्य ये भी होता है कि,
भई आज हम तो किसी भी तरह से Fool यानि मूर्ख बनने वाले है नहीं।
वैसे अप्रैल फूल के दिन किया जाना वाला मजाक अक्सर लोगों को अच्छा ही लगता है,
क्योंकि इसके पीछे मकसद केवल सामने वाले के साथ थोड़ी सी शरारत और मस्ती करके उसे हंसी दिलाना होता है।
तभी तो आज के दिन अप्रैल फूल से जुड़े एक से बढ़कर एक जोक्स और मैसेजेस सोशल मीडिया, व्हाट्सएप और फेसबुक पर वायरल होने लगते है
लेकिन क्या आप जानते है कि पूरी दुनिया आज यानि 1 अप्रैल को अप्रैल फूल मनाती क्यो है?
हमारे देश समेत कई अन्य देशों में अप्रैल की पहली तारीख को मूर्ख दिवस भी कहते है और ऐसा कहने के पीछे भी एक नहीं कई कारण है।
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
वही बॉलीवुड की फिल्मों का एक गाना भी बहुत ही प्रसिद्द है l अप्रैल फूल बनाया… गुस्सा आया.. इसमें मेरा क्या कसूर…… जिसने यह दस्तूर बनाया…. l 
जी हाँ दस्तूर तो दोस्तों यह दस्तूर यह रिवाज किसने बनाया..? 
तो चलिए आज आपको बताते है कि आखिर अप्रैल फूल मनाया क्यों जाता है?
अप्रैल फूल मनाने से जुड़ी कई कहानियां और मान्यताएं है। जिनमें सबसे ज्यादा लोकप्रिय मान्यता है
ब्रिटेन के लेखक चॉसर की किताब कैंटरबरी टेल्स की एक कहानी पर बेस्ड है।
तो कहानी कुछ यूं है कि 13वीं सदी में इंग्लैंड के राजा रीचर्ड सेकेंड और रानी एनी जोकि बोहेमिया की रानी थी,
के बीच सगाई की तारीख 32 मार्च 1381 में आयोजित किए जाने का एलान हुआ।
जैसा कि आप सभी जानते है कि मार्च का महीना तो केवल 31 दिन का होता है और 32 मार्च तो कभी आता ही नहीं है।
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
लेकिन कैंटरबरी की आम जनता ने इसे सही मान लिया और तभी से उन्हें मूर्ख समझा जाता है क्योंकि वे इस तिथि को सही मानकर मूर्ख बन गए। उ
सी दिन से आज के दिन यानि 1 अप्रैल को मूर्ख दिवस अर्थात अप्रैल फूल डे कहा जाने लगा और इसी रूप में मनाया जाने लगा।
यूं तो अप्रैल फूल डे वेस्टर्न संस्कृति की देन है लेकिन विश्वभर समेत भारत में भी बहुत धूमधाम और चाव से मनाया जाता है
क्योंकि हंसाने और मस्ती करने का दिन भला हम भारतीय भी अपने हाथ से क्यों जाने दें।
लेकिन देखा जाएं तो भारतीय कैलेंडर में भी अप्रैल फूल डे के लिए एक मान्यता है।
कहां से हुई अप्रैल फूल डे की शुरूआत
दरअसल, कहा जाता है कि शुरूआत में संपूर्ण विश्वभर में भारतीय कैलेंडर की ही मान्यता थी,
और इसके अनुसार भी नव वर्ष चैत्र मास में शुरू होता था जिसका प्रारंभ अप्रैल महीने में होता था।
कहा जाता है कि 1582 में पोप ग्रेगोरी ने एक नया कैलेंडर लागू किया और उसके अनुसार,
नया साल अप्रैल की जगह 1 जनवरी से मनाया जाने लगा और काफी लोगों ने ग्रेगोरी के इस नए कैलेंडर को मान भी लिया जोकि आज तक माना जाता है,
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
लेकिन वहीं कुछ लोग तब भी पुराने कैलेंडर के हिसाब से ही नया साल मनाते रहे और उन्होंने नए कैलेंडर को मानने से इंकार कर दिया।
इसी कारण इन लोगों को मूर्ख कहा जाने लगा और 1 अप्रैल को अप्रैल फूल डे भारत समेत विश्वभर में अप्रैल फूल डे मनाया जाने लगा।
एक अन्य मान्यता ये भी
एक कहानी ये भी है कि वर्ष 1564 से पूर्व यूरोप के ज्यादातर देशों में एक समान कैलेंडर था
और उसके अनुसार अप्रैल से ही नया साल शुरू होता था लेकिन 1564 में राजा चार्ल्स9 ने एक नवीन कैलेंडर प्रयोग मे लाने का आदेश दिया,
जिसके अनुसार, 1 जनवरी से नया साल मनाया जाने लगा था।
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
राजा के इस आदेश को कुछ लोगों ने नहीं माना और वे तब भी पुराने कैलेंडर के हिसाब से यानि 1 अप्रैल को ही नया साल मनाते रहे।
तभी से इन लोगों को मूर्ख समझकर नया कैलेंडर मानने वाले लोग 1 अप्रैल को अप्रैल फूल डे मनाने लगे।
तो दोस्तों ये थी अप्रैल फूड डे मनाने से जुड़ी कुछ रोचक कहानियां।
हम आपको बताते है, कुछ टिप्स देते है जिसे अपना कर आप कैसे घर बैठें-बैठें लोगों को अप्रैल फूल मना सकते है l
1) मोबाइल तो सबके पास होगा ही… आप अपने पापा-भाई -बहन या किसी का भी मोबाइल चुपके से उठा लें, 
अपने नंबर को जिस नाम से आपके घर के किसी भी सदस्य ने सेव किया है उसे बदल दे l 
जिसका मोबाइल है उसी के नंबर से अपना नंबर सेव कर ले ..
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
जैसे कि  अगर आपके भाई का नंबर 1234567890 है और उसने आपका नंबर आपके नाम से सेव किया है
जैसे राधा सीमा आदि उस नंबर को एडिट कर वहां आपके नाम की जगह आपके भाई के ही नंबर से सेव कर ले l 
जैसे राधा सीमा की जगह आपको आपके भाई का नंबर 1234567890 से सेव करना है
इससे यह होगा की जब आप उसे फ़ोन करेगी तो आपके भाई के मोबाइल में उसका खुद का नंबर शो होगा जिससे वह कंफ्यूज हो जाएगा और परेशान होगा की उसी के नंबर से उसे कौन फोन कर रहा है l …..हाहाहा
2) अगर आपकी मम्मी-पापा को गहरी नींद आती है और वह सोते समय घोड़ा बेचकर सोते है
तो आप उनका चेहरे पर कुछ लगाकर भी उन्हें घर में सबके सामने ला सकती है l
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
3) आप अपनी दोस्त से कह कर अपने भाई या बहन को फोन या मैसेज करके परेशान कर सकते है l (पर ध्यान रहें यह करने से पहले अपने दोस्त की पहचान को सोशल मीडिया से उस दिन छुपाने को कहना न भूलें)
4) आप कोई ऐसे अनसुलझी पहेली भी देकर अपने किसी भी चाहने वाले को या दोस्तों को मुर्ख बना सकती है l
5) आप कोई बोरिंग सी कहानी को इतना लंबा खीचें और अंत में उसका एंड इतना बकवास करें की जो आपकी कहानी सुनेगा वह बोर हो जाए और आप पर गुस्सा करने लगे तब आप अप्रैल फूल कहकर खुद भी हंस सकते हो और उसे भी हंसा सकते हो l 
ऐसे ही न जानें कितनी ही छोटी-छोटी आईडिया से आप अपना दिन ख़ुशी से बिता सकते है l 
आज आप भी अपने फ्रेंड्स और रिश्तेदारों के साथ थोड़ा सा मस्ती-मजाक करके अप्रैल फूल डे मना लें
लेकिन ध्यान रहें कि मजाक किसी की भावनाओं के साथ खिलवाड़ का नहीं होना चाहिए।
समयधारा की ओर से पाठकों को मूर्ख दिवस उर्फ अप्रैल फूल डे की शुभकामनाएं!
april-fools-day-2020-ideas-original-story-reason-behind-celebrating-fools-day
COVID19: दिल्ली के निजामुद्दीन में मरकज से लौटे 10 लोगों की कोरोना से मौत, मौलाना के खिलाफ FIR के आदेश

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × two =

Back to top button