breaking_newsHome sliderदेशराज्यों की खबरें

AAP और LG ने अंशु प्रकाश मामले को लेकर एक-दूसरे पर निशाना साधा

नई दिल्ली,1 मार्च : दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ मारपीट मामले में आम आदमी पार्टी(आप) और उप राज्यपाल अनिल बैजल ने एक-दूसरे पर निशाना साधा। पिछले दिनों हुई इस घटना के बाद आईएएस एसोसिएशन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से माफी मांगने तक किसी भी सरकारी बैठक में हिस्सा नहीं लेने की घोषणा की थी। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को बैजल के मंगलवार को केजरीवाल को लिखे पत्र का जवाब दिया। इससे पहले सिसोदिया ने बैजल को पत्र लिखा था। 

सिसोदिया ने अपने में पत्र में, मंत्रियों द्वारा बुलाई गई बैठकों में नौकरशाहों के भाग नहीं लेने पर उपराज्यपाल से हस्तक्षेप करने की मांग की थी। 

इसके बाद बैजल ने मंगलवार को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारी ‘लोकतंत्र और कानून का शासन बनाए रखने के लिए चुने गए प्रतिनिधियों की उपस्थिति में शारीरिक रूप से असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।’

सिसोदिया ने बुधवार को पत्र लिखकर आईएएस एसोसिएशन के ‘फतवा’ को ‘पूर्ण समर्थन’ देने के लिए उप राज्यपाल की निंदा की।

उन्होंने कहा कि उप राज्यपाल के पत्र से उनको ‘मजबूती’ मिलेगी जो अपना काम ठीक से नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, “तीन महीनों के लिए, 10 हजार आंगनवाड़ी कर्मचारियों, 10 हजार आंगनवाड़ी हेल्पर, 10 हजार आंगनवाड़ी मकान मालिकों को आईएएस अधिकारियों की वजह से वेतन नहीं मिला है। इससे आंगनवाड़ी से लाभ ले रहे पांच लाख बच्चे प्रभावित हो रहे हैं।”

सिसोदिया ने कहा, “अगर एक आईएएस अधिकारी मंत्रियों की शिकायत लेकर आपके पास आता है, आप उनकी गलती को नजरअंदाज करके, उसके आंसुओं को पोंछना शुरू कर देते हैं। आप मंत्रियों के द्वारा बुलाए गए बैठक का बहिष्कार करने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करते हैं।”

उन्होंने कहा कि आईएएस एसोसिएशन को उप राज्यपाल का समर्थन प्राप्त है और वह हमेशा उन्हें उपलब्ध होते हैं। 

सिसोदिया ने कहा, “अगर आंगनवाड़ी का एक समूह आपसे मिलना चाहता है तो आपके कार्यालय से 2 किलोमीटर दूर उनपर लाठी चलाई जाती है।”

उन्होंने पत्र में लिखा, “आप खुद एक नौकरशाह रहे हैं, कृपया अब एक आंख से देखना बंद कीजिए और कृपया कर आंगनवाड़ी जाने वाले तीन वर्ष के बच्चे से जोड़कर स्थिति को देखिए।”

उन्होंने कहा, “कृपया राजनिवास और सचिवालय के व्यवस्था को समझने की कोशिश कीजिए। मेरी लड़ाई व्यवस्था के खिलाफ है, न कि इन आईएएस कर्मचारियों के खिलाफ।”

सिसोदिया ने उप राज्यपाल से उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया जिनकी गलती से आंगनवाड़ी कर्मचारियों को समय से वेतन नहीं मिला।

उन्होंने कहा, “कृपया उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करें।”

पिछले हफ्ते आईएएस एसोसिएशन ने मुख्य सचिव से कथित मारपीट मामले में मंत्रियों के साथ बैठकों का बहिष्कार करने का फैसला किया था।

अधिकारियों ने हालांकि मंगलवार को बजट से संबंधित बैठक में हिस्सा लिया था।

–आईएएनएस

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 + seventeen =

Back to top button