breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

बिना लक्षण के महज 24 घंटे में ही दिल्ली के कांस्टेबल की कोरोना संक्रमण से मौत

दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल अमित की मौत दहशत भरी इसलिए लग रही है चूंकि अब यह दिखा रही है कि कैसे बिना लक्षण के कोरोनावायरस अचानक से मानव शरीर पर अटैक कर रहा है

नई दिल्ली: Delhi Police constable Amit Rana die due to COVID-19- कोरोनावायरस के कारण दिल्ली पुलिस के एक 31 वर्षीय कांस्टेबल अमित राणा की मौत हो गई है।

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) में कोरोना से यह पहली मौत है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल(Arvind Kejriwal) ने अमित राणा की कर्मठ जज्बें को सलाम करते हुए उनके परिवार को एक करोड़ की सम्मान राशि देने की घोषणा की (Kejriwal announces 1 cr honor money)है।

भारत नगर थाने में तैनात जवान की कोरोना से मौत बहुत डरावने तरीके से हुई है चूंकि मौत से पहले तक उनमें कोरोना के लक्षण नहीं दिख रहे थे

और फिर अचानक से उनकी तबियत सोमवार को खराब हुई और मंगलवार को दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल अमित राणा की कोरोना संक्रमण से मौत हो (Delhi Police constable Amit Rana die due to COVID-19) गई।

दिल्ली पुलिस के 80 जवान कोरोना संक्रमित हो चुके है।

गौरतलब है कि भरत नगर थाने में अमित राणा तैनात थे। सोमवार को जब वह शाम को ड्यूटी करके अपने कमरे में वापस लौटे तो उन्हें हल्का सा बुखार आया था और वे दवा लेकर सो गए।

लेकिन फिर तकरीबन रात 2 बजे उन्हें अचानक से सांस लेने में दिक्कत हुई। उन्होंने अपने रूम पार्टनर को बताया। उन्होंने अमित को गर्म पानी और चाय दी लेकिन हालत में कोई सुधार नहीं हुआ।

फिर मंगलवार की सुबह तड़के ही रूम पार्टनर अमित को अशोक विहार इलाके पुलिस कर्मियों के कोरोना टेस्ट सेंटर लेकर गया,लेकिन यहां उन्हें भर्ती नहीं किया गया।

उन्हें बताया गया कि यहां केवल टेस्ट होता है भर्ती नहीं। फिर इसके बाद बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल उन्हें लेकर गए। उन्होंने भी कहा कि वे अमित को भर्ती नहीं कर सकते।

कांस्टेबल की मौत के मामले में कथित लापरवाही की बात भी खुलकर सामने आ (Delhi Police constable Amit Rana die due to COVID-19) रही है।

कोरोना वॉरियर के नाम पर भी पुलिस के कांस्टेबल तक की भी समय रहते भर्ती नहीं हुई और अंतत: महज 31 वर्ष की आयु में अचानक से उनकी कोरोना संक्रमण से मौत हो गई।

आरोप है कि एक अस्पताल ने उन्हें कथित तौर पर एडमिट करने से इनकार कर दिया। लेकिन फिर एक अन्य अस्पताल ने एडमिट तो किया लेकिन COVID-19 के लक्षण दिखने और हालत खराब होने पर भी उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया।

उत्तरी पश्चिमी जिले की डीसीपी विजयंता आर्या के अनुसार, बाद में अमित का अशोक विहार कोरोनो टेस्ट सेंटर में टेस्ट हुआ और फिर उन्हें आराम करने की सलाह  दी गई।

यहां पर डॉक्टरों ने उनसे कहा कि वह अपने कमरे में ही क्वॉरंटाइन रहे। अमित टेस्ट कराने के बाद अपने कमरे में वापस लौट आए।

लेकिन फिर मंगलवार शाम तक उनकी हालत और ज्यादा बिगड़ गई और फिर उन्हें  RML अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन अस्पताल में अमित की मौत हो (Delhi Police constable Amit Rana die due to COVID-19) गई।

DelhiPoliceconstableAmitRanadieduetoCOVID-19-2_optimized

दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल अमित की मौत दहशत भरी इसलिए लग रही है चूंकि अब यह दिखा रही है कि कैसे बिना लक्षण के कोरोनावायरस (Coronavirus) अचानक से मानव शरीर पर अटैक कर रहा है और एकदम से लक्षण सामने आते ही मौत हो रही है।

हालांकि अब अमित के सैंपल आने के बाद पता चला है कि उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव (CoronaPositive) आई है। कोरोना से दिल्ली पुलिस के अभी तक 9 जवान ठीक हो गए है।

अब दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा दिल्ली में 5,104 हो गया है। 11 दिन के गैप पर कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण के दोगुने केस सामने आ रहे हैं।

हालांकि दिल्ली पुलिस के जवान अमित की कोरोना संक्रमण से जिस प्रकार अचानक मौत हुई है उससे सिर्फ कोरोनावायरस के कातिलाना रूप का ही पता नहीं चलता बल्कि कहीं न कहीं दिल्ली के अस्पतालों पर जो कोरोना संक्रमितों के साथ

लापरवाही के आरोप लग रहे है, उनमें भी कुछ बल मिलता दिखता है। इससे पहले दिल्ली के ही जहांगीरपुरी की एक बेटी ने अपने कोरोना संक्रमित पिता के साथ दिल्ली के अस्पतालों में बदसलूकी के खिलाफ सोशल मीडिया पर आवाज उठाई थी

और गंभीर आरोप लगाए थे कि उन्हें शुगर पेशेंट होने के बावजूद भी अच्छे से खाना-पीना नहीं दिया जा रहा।

Delhi Police constable Amit Rana die due to COVID-19

 

नीचे देखिएं दिल्ली की उसी बेटी का वीडियो:

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × three =

Back to top button