breaking_newsअन्य ताजा खबरेंआईपीएल 13क्रिकेटखेलबिजनेसबिजनेस न्यूज

IPL 2020 title sponsorship के अधिकार Dream11 ने 222 करोड़ रुपए में खरीदें

टाइटल स्पॉन्सरशिप की रेस में टाटा ग्रुप के साथ अनएकेडमी बायजू और स्वामी रामदेव की पतंजलि भी शामिल थे...

IPL 2020 title sponsorship rights bags by Dream11

नई दिल्ली:देशभर में चाइना बायकॉट मुहिम के बाद चीनी कंपनी वीवो ने IPL 2020 में अपनी स्पॉन्सरशिप से हाथ खींचने पड़े थे। अब वीवो (ViVo) की जगह फंतासी गेम प्लेटफॉर्म ड्रीम11 (Dream11) ने IPL 2020 के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप अधिकार खरीद लिए है।

ड्रीम11 (Dream11) ने तकरीबन साढ़े चार महीने के करार के लिए 222 करोड़ रुपये की बोली के साथ इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप राइट्स हासिल कर लिए है।

गौरतलब है कि बीते कुछ वर्षों से ड्रीम11आईपीएल (IPL) के प्रायोजन से जुड़ा रहा है।

IPL 2020 title sponsorship के लिए ड्रीम11 के अलावा टाटा संस (Tata Sons) और अनएकेडमी (Unacademy) ने भी बोली लगाई थी

लेकिन फैंटसी स्पोर्ट्स लीग प्लेटफॉर्म ड्रीम11 ने आईपीएल का टाइटल स्पॉन्सरशिप (IPL 2020 title sponsorship rights bags by Dream11) अपने नाम करने में सफलता हासिल कर ली।

IPL 2020 यूएई में 19 सितंबर से शुरू होने जा रहा है और इसका फाइनल मैच 10 नवंबर 2020 को होगा।

इसके टाइटल स्पॉन्सरशिप (IPL Title sponsorship) राइट्स ड्रीम 11 ने लिए 222 करोड़ रुपयों की बोली लगाकर खरीद लिए (IPL 2020 title sponsorship rights bags by Dream11) है।

हालांकि यह बोली वीवो (VIVO) के वार्षिक 440 करोड़ रुपये से 218 करोड़ रुपये कम है।

टाइटल स्पॉन्सरशिप की रेस में टाटा ग्रुप के साथ अनएकेडमी बायजू और स्वामी रामदेव की पतंजलि भी शामिल थे

इसके लिए अनएकेडमी ने 210 करोड़ रुपये की बोली लगाई। तो वहीं, टाटा की बोली 180 करोड़ और बायजू की बोली 125 करोड़ रुपये की थी।

इस बाबत IPL के चेयरमैन ब्रजेश पटेल ने जानकारी दी कि सबसे अधिक बोली लगाने वाली ड्रीम 11 कुल 4 महीने 13 दिनों के लिए IPL की टाइटल स्पॉन्सर रहेगी।

गौरतलब है कि चीन (China) की कंपनियों के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई (BCCI) ने वीवो (VIVO) को इस साल आईपीएल से निलंबित कर दिया था और टाइटल स्पॉन्सर के लिए नए सिरे से निविदाएं जारी की थीं।

सभी यह मानकर चल रहे थे कि बाजी टाटा एंड संस के हाथ लगेगी, क्योंकि उनके पास अच्छा कॉर्पोरेट अनुभव था, लेकिन बडे ड्रामेटिक अंदाज में बाजी ड्रीम इलेवन (Dream-11) ने मार ली।

वीवो (Vivo) के हटने के बावजूद BCCI को उम्मीद थी कि उसे इस टूर्नामेंट के लिए 300 करोड़ रुपये जरूर मिलेंगे, लेकिन ड्रीम-11 सहित बाकी कंपनियों ने बहुत कम बोली लगाई।

वीवो ने वर्ष 2018 से 2022 तक पांच साल के लिए 2190 करोड़ रुपये में टाइटल स्पॉन्सरशिप अधिकार हासिल किए थे।

हालांकि, आगामी वर्ष Vivo मुख्य प्रायोजक के रूप में लौट सकता है।

BCCI के अनुसार, इस बार IPL के 10 डबल हेडर (एक दिन में दो मैच) मुकाबले खेले जाएंगे।

कोरोनावायरस(Coronavirus) के कारण इस बार आईपीएल सबसे ज्यादा टीवी पर देखा जाएगा।

ऊपर से 15 अगस्त को क्रिकेट सम्राट महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni retirement) ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया है लेकिन धोनी IPL में खेलेंगे। इसलिए क्रिकेट फैंस को उन्हें देखने का बेसब्री से इंतजार है।

इसके अतिरिक्त BCCI अब जल्द ही आईपीएल 2020 के शेड्यूल (IPL 2020 schedule) की घोषणा करने वाला है। 

 

IPL 2020 title sponsorship rights bags by Dream11

(इनपुट एजेंसी से भी)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 5 =

Back to top button