breaking_newsअन्य ताजा खबरेंटेक्नोलॉजीदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंफैशनलाइफस्टाइलसोशल मीडियाहेल्थ
Trending

पेरासिटामोल(PARACETAMOL) दवाई है खतरनाक..? सच या झूठ…??

क्या आप भी पेरासिटामोल(PARACETAMOL) दवाई खाते है...? तो जरुर पढ़े यह खबर

Paracetamol medicine is dangerous ..? True or false… ??
नई दिल्ली, (समयधारा) : कभी-कभी कुछ दवाइयों की प्रसिद्धि भी ख़राब होती है l 
सोशल मीडिया ने आज इतनी तरक्की कर ली है की एक खबर चंद मिनटों में लाखों-करोड़ो तक फ़ैल जाती है l
उसकी विश्वनीयता पर सवाल उठाने वाला कोई भी नहीं l आज कल एक और पूराना वायरल मेसेज हमारे पास आया है l
इस मेसेज में दावां किया गया है की पेरासिटामोल P 500 (PARACETAMOL P-500) दवाई आपके लिए खतरनाक है
इस मेसेज में यह भी दावां किया गया है यह दवाई एक ख़ास तरह के virus के साथ आती है l
इस वायरस से आपके शरीर पर अनगिनत दाग हो जाते है और आपकी जान को ख़तरा भी होता है l
इस बात की पृष्ठी के लिए इस मेसेज के साथ उन्होंने कुछ फोटो भी लगायें है l साथ में इस दवाई के फोटो भी है l
Paracetamol medicine is dangerous ..? True or false… ??
अब सब से बड़ा सवाल यह है की  इस मेसेज में कितनी सच्चाई है ..?
क्या सच में इस दवाई के खाने से आप के जीवन को ख़तरा है …? 

पेरासिटामोल P 500 (PARACETAMOL P-500) दवाई आपके लिए खतरनाक है…?
क्या यह दवाई वाकई खतरनाक है …? 
चलिए हम आपको इस दवाई की सच्चाई के बारे में बताते है की क्या यह दवाई वाकई आपके जीवन के लिए खतरा है …? 
सबसे पहले हम इस मेसेज के तह में जाते है l यह मेसेज करिब-करीब एक से दों साल पूराना है और इस मेसेज का दावां बिल्कुल गलत है..!
जो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान पैरासीटामॉल का सेवन करती हैं, उनकी बेटियों की प्रजनन क्षमता को नुकसान पहुंच सकता है (तस्वीर,साभार-गूगल सर्च)
जी हां यह मेसेज कुछ शरारती तत्वों ने सोशल मीडिया में वायरल कर दिया है l
इस मेसेज की सच्चाई ‘बंगलोरे मिरर’ ने अपने 4 फरवरी 2017 में झूठा साबित कर दिया है l तो आप डॉक्टर के परामर्श से यह दवाई ले सकते है l
समयधारा आपको सोशल मीडिया में वायरल ख़बरों के सच और झूठ के बारे में समय-समय पर बताते रहेंगे l   
Paracetamol medicine is dangerous ..? True or false… ??

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × three =

Back to top button