breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

युद्ध जैसे हालात होने पर हमने सरकार की आलोचना नहीं की लेकिन मोदी तब भी विपक्ष पर हमले,प्रचार करते रहे: राहुल गांधी

मोदी ने पांच मिनट भी प्रचार बंद नहीं किया जबकि हमने तय किया था राष्ट्रीय संकट खत्म होने पर राजनीति करेंगे: राहुल गांधी

धुले (महाराष्ट्र), 2 मार्च : Rahul Gandhi in Maharashtra- सीमा पर तनाव कम होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को रक्षा सौदों, किसानों के मुद्दों और बेरोजगारी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर से हमला शुरू कर दिया।

राहुल ने यहां शाम को एक विशाल रैली में पार्टी के 2019 लोकसभा चुनाव अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा कि जब से मोदी और भारतीय जनता पार्टी भाजपा ने 2014 में सत्ता संभाली है, प्रधानमंत्री वादे करते जा रहे हैं, लेकिन उसे पूरा करने के लिए उन्होंने कुछ नहीं किया।

उन्होंने कहा, “सीआरपीएफ जवानों के शहीद होने और युद्ध जैसे हालात पैदा होने के बाद मैंने कांग्रेस के सभी लोगों को निर्देश दिया और देशवासियों से अपील की कि इस नाजुक समय में कोई भी सरकार की आलोचना नहीं करेगा और भारत को एकजुट होकर खड़ा होना होगा।”

मोदी ने पांच मिनट भी प्रचार बंद नहीं किया जबकि हमने तय किया था राष्ट्रीय संकट खत्म होने पर राजनीति करेंगे: राहुल गांधी

मोदी ने कहा कि भारत एकजुट है, मगर उन्होंने कांग्रेस और विपक्ष पर हमले करने का कोई मौका नहीं छोड़ा, यहां तक कि राष्ट्रीय युद्ध संग्रहालय के उद्घाटन में भी उन्होंने ऐसा किया।

राहुल ने कहा, “उन्होंने पांच मिनट भी अपना प्रचार बंद नहीं किया, जबकि हमने तय किया था कि राष्ट्रीय संकट समाप्त हो जाने के बाद ही हम राजनीति शुरू करेंगे।”

 हाई प्रोफाइल रक्षा सौदों की चर्चा करते हुए राहुल ने जानना चाहा कि आखिर हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने क्या गलती की थी, जिसने मिराज, सुखोई, जीनाट्स, जगुआर और अन्य विमान बनाए हैं।

बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार प्रत्येक 24 घंटे में 450 युवाओं को नौकरी देती है, जबकि चीन हर दिन 50,000 नौकरियां पैदा कर रहा है। “और हमें चीन को पछाड़ना है, जो कांग्रेस ही कर सकती है।”

 कांग्रेस प्रमुख ने किसानों की समस्याओं पर कहा कि मोदी ने भूमि अधिग्रहण विधेयक को तीन बार कमजोर करने की कोशिश की, और हर बार कांग्रेस ने संसद में कम संख्या के बावजूद उनकी कोशिश को सफलतापूर्वक विफल कर दिया।

उन्होंने कहा कि सरकार ने किसान परिवार को रोजाना 17 रुपये दिए, लेकिन 12-25 बड़े उद्योगपतियों के 3.50 लाख करोड़ रुपये के कर्ज माफ कर दिए।

राहुल ने कहा, “मोदी कहते हैं कि वह रोजगार देंगे, लेकिन जो रोजगार पैदा कर सकते थे, वे नोटबंदी में खत्म हो गए। सिर्फ गरीब लोग बैंकों की कतारों में खड़ा रहे, जबकि नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और अन्य आलीशान घरों में बैठे रहे और अपने रुपये बदल लिए।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी गठबंधन के जरिए चुनाव लड़ रही हैं। “महाराष्ट्र के लोग मोदी और भाजपा को मिलकर सबक सिखाएंगे।”

–आईएएनएस

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × two =

Back to top button