breaking_newsHome sliderदेशराजनीतिराज्यों की खबरें

यह भारत का संविधान है, राहुलजी। यह आपके इच्छा के अनुसार लचीला नहीं हो सकता : भाजपा

नई दिल्ली, 19 मई :  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को कांग्रेस पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले पर खुशी जाहिर करने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जो लोग भारत के प्रधान न्यायाधीश को महाभियोग द्वारा हटाना चाहते थे, वे अब कर्नाटक के लोगों द्वारा दरकिनार किए जाने के बावजूद ‘जनादेश की हत्या’ कर रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने यहां संवाददातों से कहा, “कांग्रेस ने सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया। कुछ दिन पहले उन्होंने न्यायमूर्ति लोया की मौत के मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले पर सवाल उठाए थे। उन्होंने प्रधान न्यायाधीश को हटाने की भी कोशिश की थी।”

उन्होंने कहा, “कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी न्यायालय पर हमला किया। अब वे लोग न्यायालय के फैसले का स्वागत कर रहे हैं। इस तरह की चयनवाद (सलेक्शनिज्म) लोकतंत्र में काम नहीं करता।”

पात्रा ने कहा, “यह भारत का संविधान है, राहुलजी। यह आपके इच्छा के अनुसार लचीला नहीं हो सकता।”

जनादेश की अवहेलना गोवा, मणिपुर, मेघालय और बिहार में कर चुकी भाजपा के नेता ने कहा कि कांग्रेस कर्नाटक के लोगों द्वारा दरकिनार किए जाने के बावजूद अदालत के फैसले पर खुशी जाहिर कर रही है।

उन्होंने कहा, “वे लोग 122 से सिमटकर 78 पर आ गए। वे लोग जनादेश का अपमान कर रहे हैं। लोकतंत्र में, लोगों के जनादेश से बढ़कर कुछ नहीं होता और कांग्रेस जनादेश की हत्या करने की कोशिश कर रही है।”

पात्रा ने राहुल गांधी पर देश की न्यायपालिका की तुलना पाकिस्तान के न्यायपालिका से करने पर निशाना साधा।

राहुल ने गुरुवार को छत्तीसगढ़ के रायपुर में कांग्रेस के कार्यक्रम में सर्वोच्च न्यायालय की गिरती साख पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा था कि जो पहले पाकिस्तान, जोर्डन जैसे देशों में देखा जाता था, वैसी हालत भारतीय सर्वोच्च न्यायालय की कर दी गई है, जो बेहद चिंता की बात है। उन्होंने जस्टिस लोया की मौत की जांच के लिए दायर याचिका खारिज किए जाने का संदर्भ भी दिया था और कहा था कि भाजपा ऐसी पार्टी है, जिसका अध्यक्ष ‘मर्डर एक्यूज्ड’ है और उसे बचाने के लिए पूरी ताकत लगाई जा रही है।

पात्रा ने राहुल से सवाल किया कि क्या उनकी तुलना पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के बिलावल भुट्टो से हो सकती है, क्योंकि दोनों राजनीति में वंशवाद के वाहक हैं।

उन्होंने कहा, “आप बिलावट भुट्टो नहीं हैं और कांग्रेस पीपीपी नहीं है और आप भारतीय न्यायपालिका की तुलना पाकिस्तान से करते हैं। आप ऐसा इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि आपकी पार्टी केवल पीपीपी (पंजाब, पुद्दुचेरी और परिवार) में सिमट कर रह गई है। और इसी फ्रस्टेशन में आप, पाकिस्तान की न्यायपालिका की तुलना भारत की न्यायपालिका से कर रहे हैं।”

पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष पर यह हमला तब किया, जब राहुल ने कनार्टक प्रकरण पर सर्वोच्च न्यायालय की दीपक मिश्रा रहित खंडपीठ के निर्णय की सराहना की।

सर्वोच्च न्यायालय ने राज्यपाल विजूभाई वाला के फैसले पर रोक लगाते हुए मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा को 15 दिन के बजाय 26 घंटे के अंदर यानी शनिवार शाम 4 बजे तक बहुमत साबित करने का आदेश दिया।

कांग्रेस के एक विधायक के अपहरण के बारे में पूछे जाने पर पात्रा ने कहा, “हम किसी का अपहरण नहीं करते, कांग्रेस ने हमेशा भारत के लोकतंत्र का अपहरण करने की कोशिश की है।”

–आईएएनएस

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button