breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबॉलिवुड-हॉलिवुडमनोरंजन

सुशांत मौत मामला : NCB की रिया-शोविक के घर पर छापेमारी

आज सुबह 6.40 को 8 सदस्यी टीम ने रिया-शोविक के घर छापेमारी की, उन्होंने उनकी कार की भी तलाशी ली,

sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house

मुंबई (समयधारा) : आज सुबह 6.40 को NCB की 8 सदस्यी टीम ने रिया-शौविक के घर छापेमारी की, उन्होंने उनकी कार की भी तलाशी ली l 

अभी भी NCB की पूरी टीम की छापेमारी जारी है l मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार यह छापेमारी जल्द ही पूरी हो जायेगी l 

सूत्रों की माने तो रिया-सोविक के मोबाइल-लैपटॉप की जांच कर रही है NCB की टीम l 

इससे पहले इस मामले में कल  बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay high court) ने गुरुवार को कहा है कि,

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले (Sushant Singh Rajput death case) में मीडिया संगठनों से अपेक्षा है

कि वे प्रकाशन या रिपोर्टिंग करते समय संयम बरतें।

जस्टिस Justices AA Sayed और SP Tavade की खंडपीठ ने कहा कि मीडिया को इस तरह से रिपोर्ट करना चाहिए कि इससे जांच में बाधा न आए।

अदालत में दो याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान दावा किया गया कि सुशांत की मौत के मामले में मीडिया ट्रायल चल रहा है,

इसे रोकने की मांग की गई है।

आज सुबह 6.40 को 8 सदस्यी टीम ने रिया-शोविक के घर छापेमारी की, उन्होंने उनकी कार की भी तलाशी ली,
आज सुबह 6.40 को 8 सदस्यी टीम ने रिया-शोविक के घर छापेमारी की, उन्होंने उनकी कार की भी तलाशी ली,

sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house

मुंबई पुलिस के खिलाफ अनुचित, दुर्भावनापूर्ण और गलत मीडिया अभियान के खिलाफ 8 पूर्व IPS अधिकारियों ने याचिका दायर की है।

याचिकाकर्ताओं में पूर्व Director General of police एम एन सिंह, पी एस पसरीचा, के सुब्रमण्यम, डी शिवानंदन,

संजीव दयाल और सतीश माथुर, पूर्व अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के पी रघुवंशी और मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त डी एन जाधव शामिल हैं।

एक अन्य याचिका फिल्म निर्माता नीलेश नवलखा और दो अन्य ने दायर की है,

जिन्होंने मामले में सनसनीखेज रिपोर्टिंग नहीं करने के लिए मीडिया संस्थानों को निर्देश दिए जाने का अनुरोध किया है।

कोर्ट ने कहा कि हम आग्रह और उम्मीद करते हैं कि, (sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house)

सुशांत मौत मामला : NCB की रिया-शोविक के घर पर छापेमारी
सुशांत मौत मामला : NCB की रिया-शोविक के घर पर छापेमारी

मीडिया संस्थान राजपूत की मौत के मामले में जांच के बारे में कोई भी विवरण प्रकाशित या रिपोर्टिंग करते समय

संयम बरतेंगे और मीडिया को इस तरह से रिपोर्ट करनी चाहिए कि यह जांच में बाधा न बने।

पीठ ने कहा कि मामले में आगे की सुनवाई से पहले वह यह देखना चाहेगी कि,

केंद्र सरकार और मामले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) का इन याचिकाओं के जवाब में क्या कहना है।

हाई कोर्ट ने याचिकाओं की अगली सुनवाई की तिथि 10 सितंबर तय की है।

गौरतलब है कि 34 वर्षीय सुशांत सिंह राजपूत इस साल 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में फांसी के फंदे पर लटके मिले थे।

अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद CBI इस मामले की जांच में जुटी हुई है। (sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house)

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मौत मामले में एक नया खुलासा हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत सिंह राजपूत बाइपोलर डिसऑर्डर (Bipolar Disorder) से जूझ रहे थे। CNN-News18 के मुताबिक,

डॉक्‍टर ने मुंबई पुलिस (Mumbai Police) से पूछताछ में खुलासा किया था कि सुशांत को Bipolar Disorder था।

डॉक्‍टर के मुताबिक सुशांत पिछले 13 साल से अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर यानी ADHD (Attention Deficit Hyperactivity Disorder) से भी जूझ रहे थे।
डॉक्‍टर के मुताबिक सुशांत पिछले 13 साल से अटेंशन डेफिसिट हाइपरएक्टिविटी डिसऑर्डर यानी ADHD (Attention Deficit Hyperactivity Disorder) से भी जूझ रहे थे।

 

डॉक्टरों का कहना इसके लिए उनका इलाज भी चल रहा था और वो दवाइयां भी ले रहे थे।(sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house)

मुंबई पुलिस को दिए एक बयान में सुशांत की बहन (Sushant sisters) ने भी कहा था कि साल 2013 में सुशांत की तबीयत ज्यादा खराब हो गई थी।

बता दें कि सुशांत केस (Sushant Singh Rajput death case ) को CBI के अलावा ED (Enforcement Directorate) और Narcotics Control Bureau की टीमें जांच कर रही है।

Bipolar Disorder को पहले मैनिक डिप्रेशन भी कहा जाता था। Bipolar Disorder एक मानसिक बीमारी है,

जिसकी वजह से (इससे पीड़ित व्यक्ति में) एक्सट्रीम मूड स्विंग्स (चरम मानसिक बदलाव) होते हैं।

इसकी वजह से कोई व्यक्ति कभी बहुत ज्यादा ऊर्जा, प्रसन्नता या मेनिया की स्थिति में होता है और कभी बिलकुल निराशा या डिप्रेशन की स्थिति में चला जाता है।

इसके अलावा इसकी वजह से  लोगों की नींद, ऊर्जा, कार्यक्षमता, साफ-साफ सोचने-समझने की क्षमता और उनके व्यवहार पर असर पड़ सकता है।

(sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house)

इस बीमारी के बढ़ जाने पर शख्स खुदकुशी करने का भी कोशिश कर सकता है। कहा जाता है कि बाइपोलर डिसऑर्डर ड्रिप्रेशन का हाई लेवल है।

बता दें कि अभिनेता की मौत के बाद से उन्हें Bipolar Disorder होने का दावा अक्सर सामने आता रहा है।

पिछले दिनों एक वायरल ऑडियो टेप के हवाले से दावा किया जा रहा था कि सुशांत ने खुद यह बात स्वीकार की थी कि वे Bipolar Disorder से जूझ रहे थे।

यह ऑडियो टेप जनवरी 2020 का बताया जा रहा है, जिसमें कई आवाजें सुनाई दे रही हैं।

इनमें से एक आवाज सुशांत और बाकी रिया चक्रवर्ती और अभिनेता के स्टाफ की बताई जा रही हैं।

सुशांत सिंह राजपूत का शव इसी साल 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित उनके फ्लैट में मिला था। (sushants-death-case ncb-raids-riya-shoviks-house)

पिछले महीने उनके पिता केके सिंह ने बिहार की राजधानी पटना के राजीवनगर थाने में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ केस दर्ज करवाया था।

अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद CBI इस मामले की जांच में जुटी हुई है।

वहीं, ED ने 31 जुलाई को केके सिंह की शिकायत पर बिहार पुलिस की FIR के आधार पर एक मामला दर्ज किया था।

सिंह का कहना था कि कोटक महिंद्रा बैंक में उनके बेटे के खाते से 15 करोड़ रुपये या निकाले गए थे या ट्रांसफर किए गए हैं।

ED ने रिया और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ Prevention of Money Laundering Act (PMLA) के तहत मामला दर्ज किया।

sushants-death-case ncb-raids-riya-showik-house

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 18 =

Back to top button