breaking_newsअन्य ताजा खबरेंटेक न्यूजटेक्नोलॉजीदेशदेश की अन्य ताजा खबरें

SC on Pegasus : केंद्र को नोटिस दिया जाए, …तो आरोप गंभीर, अगली सुनवाई 10 अगस्त को

supreme court ने कहा की अगर इसके बारे में मीडिया रिपोर्टें सही हैं तो जासूसी के आरोप गंभीर हैं.

supreme court on pegasus next hearing on 10th august 

नई दिल्ली (समयधारा) : आखिरकार पेगासस मामले में सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई हुई l

सुप्रीम कोर्ट ने पेगासस जासूसी कांड पर गुरुवार को सुनवाई करते हुए कहा कि अगर इसके बारे में मीडिया रिपोर्टें सही हैं तो जासूसी के आरोप गंभीर हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कथित पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच के अनुरोध वाली याचिकाओं पर गुरुवार को सुनवाई शुरू करते हुए यह बात कही l 

वहीं, कपिल सिब्बल ने मामले को गंभीर बताते हुए सीजेआई से गुहार लगाई कि केंद्र को नोटिस जारी किया जाए।

फिलहाल, सुप्रीम कोर्ट अब इस मामले की सुनवाई 10 अगस्त को करेगा।

जानियें Pegasus कैसे कर लेता है बिना बताएं आपके फ़ोन पर कब्जा

जानियें Pegasus कैसे कर लेता है बिना बताएं आपके फ़ोन पर कब्जा

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) एन वी रमण और जस्टिस सूर्यकांत की पीठ ने शुरू में एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया

और वरिष्ठ पत्रकार एन राम और शशि कुमार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल से कुछ सवाल पूछे।

सीजेआई ने कहा कि इस सब में जाने से पहले, हमारे कुछ सवाल हैं। इसमें कोई शक नहीं, अगर रिपोर्ट सही है तो आरोप गंभीर हैं।

उन्होंने यह कहते हुए देरी का मुद्दा उठाया कि मामला 2019 में सामने आया था। सीजेआई ने कहा कि जासूसी की रिपोर्ट 2019 में सामने आई थी।

जानियें Pegasus कैसे कर लेता है बिना बताएं आपके फ़ोन पर कब्जा

supreme court on pegasus next hearing on 10th august 

मुझे नहीं पता कि क्या अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए कोई प्रयास किए गए थे। उन्होंने कहा कि वह यह नहीं कहना चाहते थे कि यह एक बाधा थी।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह प्रत्येक मामले के तथ्यों में नहीं जा रही है और अगर कुछ लोगों का दावा है कि

उनके फोन को इंटरसेप्ट किया गया था तो टेलीग्राफ अधिनियम है जिसके तहत शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।

कपिल सिब्बल ने कहा कि मैं समझा सकता हूं। हमारे पास कई सामग्री तक पहुंच नहीं है।

याचिकाओं में फोन में सीधी घुसपैठ के 10 मामलों की जानकारी है।

सुप्रीम कोर्ट ने सभी याचिकाकर्ताओं से कहा कि वे अपनी याचिका की प्रति केंद्र को दें। अब इस मामले की सुनवाई मंगलवार को होगी।

Pegasus Report : जासूसी कांड की गाज- राहुल गांधी, प्रशांत किशोर सहित इनका है नाम

कथित पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच के अनुरोध वाली एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया

और वरिष्ठ पत्रकारों द्वारा दायर याचिकाओं सहित नौ याचिकाओं पर फिलहाल सुनवाई चल रही है।

सुप्रीम कोर्ट में पेगासस जासूसी मामले को लेकर कई याचिकाएं दायर की गई हैं

supreme court on pegasus next hearing on 10th august 

और इन याचिकाओं में पेगासस जासूसी कांड की कोर्ट कि निगरानी में एसआईटी जांच की मांग की गई है।

ये याचिकाएं इजराइली कंपनी एनएसओ के स्पाइवेयर पेगासस का उपयोग करके प्रमुख नागरिकों,

नेताओं और पत्रकारों पर सरकारी एजेंसियों द्वारा कथित तौर पर जासूसी की रिपोर्ट से संबंधित हैं।

एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया संघ ने बताया है कि 300 से अधिक सत्यापित भारतीय मोबाइल फोन नंबर पेगासस स्पाइवेयर का उपयोग करके निगरानी के संभावित लक्ष्यों की सूची में थे।

Tokyo Olympic 2020 : रवि दहिया की फाइनल में हार, Silver से करना पड़ा संतोष

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 1 =

Back to top button