breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

चिराग की जगह,LJP के लोकसभा में नेता बने पशुपति कुमार पारस,स्पीकर ने दी मान्यता

रविवार को लोजपा के पांच सांसदों ने पार्टी अध्यक्ष और सांसद चिराग पासवान के खिलाफ बगावत कर दी...

Pashupati-Kumar-Paras-become-LJP-leader-in-Loksabha

नई दिल्ली:लोक जनशक्ति पार्टी(LJP)में बड़ी बगावत हुई,जिसके चलते अब लोकसभा में एलजेपी के नेता स्वर्गीय रामविलास पासवान(Ram Vilas Paswan)के भाई पशुपति कुमार पारस(Pashupati-Kumar-Paras)बन गए है।

चिराग पासवान(Chirag Paswan) का साथ पार्टी सांसदों ने छोड़ दिया है।

अब पशुपति कुमार पारस(Pashupati Kumar Paras)लोकसभा में लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के नेता बन गए हैं।

Pashupati-Kumar-Paras-become-LJP-leader-in-Loksabha

स्पीकर ओम बिरला (Om Birla) ने उन्हें मान्यता दे दी है।

एलजेपी सांसदों ने महबूब अली कैसर को उपनेता चुना है। चंदन सिंह को पार्टी का मुख्य सचेतक बनाया गया है। इसकी सूचना लोकसभा स्पीकर को दी गई थी।

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनावों के कुछ समय बाद से ही जनशक्ति पार्टी में खींचतान की खबरें आ रही थी।

जिसकी परिणति यह हुई कि रविवार को लोजपा के पांच सांसदों ने पार्टी अध्यक्ष और सांसद चिराग पासवान के खिलाफ बगावत कर दी

चिराग के खिलाफ बागी सुर अलापने वाले सांसदों में उनके चाचा पशुपति कुमार पारस, चंदन सिंह, प्रिंस राज, वीणा देवी और महबूब अली कैसर शामिल हैं।

अब चिराग पासवान अलग-थलग पड़ गए है।

महबूब अली कैसर ने कहा है कि बस लीडरशिप चेंज हो। उन्होंने यह भी कहा कि चिराग पासवान का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar)को बुरा-भला कहना गलत था।

सांसद कैसर ने कहा, ‘विधानसभा चुनाव के वक्त अपनाई गई रणनीति गलत थी। यह मुख्य वजह रही है। कहने के बावजूद वह (चिराग पासवान)नहीं माने।

पशुपति पारस जी को बिहार के अध्यक्ष पद से हटाना गलत था। वो अनुभवी आदमी हैं। उन पर रामविलास पासवान भी भरोसा करते थे।’

गौरतलब है कि LJP के जिन पांच सासंदों ने बगावत की है,उन्होंने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को पत्र लिखकर कहा था कि उन्हें एलजेपी से अलग दल की मान्यता दी जाए।

स्पीकर ने कानून के हिसाब से फैसला किया है। यह भी कहा जा रहा था कि ये पांचों सांसद जेडीयू के संपर्क में हैं।

बताया गया है कि बिहार विधानसभा चुनाव के समय से ही सभी सांसद असंतुष्ट थे। वे पार्टी में चिराग पासवान के तौर-तरीकों से आहत थे।

 

Pashupati-Kumar-Paras-become-LJP-leader-in-Loksabha

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × three =

Back to top button