Trending

अवैध खनन मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से ED ने 10 घंटे लंबी पूछताछ की

Illegal Mining Case में CM हेमंत सोरेन पर ED का धीरे-धीरे बढ़ता शिकंजा

illegal mining case ED interrogated Jharkhand Chief Minister Hemant Soren for 10 hours

झारखंड/नयी दिल्ली (समयधारा) : अवैध खनन (Illegal Mining Case) मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) से गुरुवार को ED ने करीब 10 घंटे लंबी पूछताछ की l

हेमंत सोरेन रांची में अपने आवास से पत्रकारों से बातचीत करने के बाद करीब 11.48 मिनट पर ईडी दफ्तर के लिए निकले थे।

वे करीब 12.05 बजे हिनू रोड स्थित ईडी दफ्तर पहुंचे, जहां रात 9.40 बजे तक ईडी के वरीय अधिकारी उनसे पूछताछ करते रहे। 

भारत के फाडू जोक्स – विदेश और इंडिया में दोस्तों के बर्ताव का नजरिया

इससे पहले,

सीएम हेमंत सोरेन को ईडी कार्यालय में पूछताछ के लिए बुलाने की सूचना मिलते ही

राज्य के विभिन्न हिस्सों से गुरुवार को जेएमएम कार्यकर्त्ताओं और समर्थकों के रांची पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया।

ईडी पूछताछ के दौरान बाहर जुटे समर्थकों में रांची का रातु निवासी सतीश खलको लोगों के कौतूहल का कारण बन रहा है।

वह अपने शरीर पर हेमंत सोरेन की तस्वीर पेंट करा कर पहुंचा था।

सीएम हेमंत सोरेन के प्रति अपनी दीवानगी को बताते हुए सतीश ने कहा कि वह अपने नेता से ईडी की पूछताछ को लेकर आहत है।

illegal mining case ED interrogated Jharkhand Chief Minister Hemant Soren for 10 hours

झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने गुरुवार को अवैध खनन (Illegal Mining Case) मामले में पूछताछ के लिए ED दफ्तर रवाना होने से पहले मीडिया को संबोधित किया।

श्रद्धा मर्डर केस-जानें अभी तक की सभी अपडेट, क्यों दी कोर्ट ने 5 दिन की और रिमांड

हेमंत सोरेन ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा,”मैं एक मुख्यमंत्री हूं। मैं एक संवैधानिक पद पर हूं,

लेकिन जिस तरह से मुझे बुलाया जा रहा है, ऐसा लगता है कि मैं देश छोड़कर भाग जाऊंगा।

वास्तव में, मुझे नहीं लगता कि बिजनेसमैन के अलावा, कोई नेता देश छोड़कर भागा हो।

हेमंत सोरेन ने कहा,”मैं हैरान हूं कि एक मुख्यमंत्री पर इतना बड़ा आरोप इतने हल्के में कैसे लगाया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने ED को एक पत्र भेजा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि पिछले दो सालों में पूरे राज्य में पत्थर खनन (Stone Mining) से कुल रॉयल्टी इनकम (Royalty Income) लगभग 750 करोड़ रुपये रही है।

Nitin Gadkari की तबीयत फिर बिगड़ी, अभी हालात सामान्य

मुख्यमंत्री ने कहा, “आप 1,000 करोड़ रुपए के घोटाले का दावा कैसे कर सकते हैं?”

“मुख्यमंत्री ने कहा कि अब तक सरकार को गिराने की साजिश गुपचुप तरीके से चल रही थी, लेकिन अब साजिश साफ देखी जा सकती है।”

“हेमंत ने पत्र में लिखा, “ED से उम्मीद की जाती है कि वह बिना किसी छिपे हुए एजेंडे या मकसद के निष्पक्ष और निष्पक्ष तरीके से अपनी जांच करेगी।”

“उन्होंने कहा,”मैंने संविधान और कानून के शासन को बनाए रखने की शपथ ली है,

और इस देश के एक ईमानदार नागरिक के रूप में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने के लिए,

मुझे जारी सम्मन के अनुपालन में मैं आज आपके कार्यालय में उपस्थित होऊंगा।”

“हेमंत सोरेन की पेशी से पहले रांची में ED दफ्तरी के बाहर भारी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे।

सोरेन को शुरू में 4 नवंबर को बुलाया गया था, लेकिन उन्होंने आधिकारिक कार्यक्रम का हवाला देते हुए उपस्थित नहीं हुए,

Gujarat Election – आप प्रत्याशी अपहरण… और फिर नाम वापस..? सियासत जोरदार

illegal mining case ED interrogated Jharkhand Chief Minister Hemant Soren for 10 hours

क्योंकि उन्हें छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से आयोजित एक आदिवासी उत्सव में शामिल होना था।”

“तब उन्होंने ED को चुनौती दी थी कि पूछताछ के लिए समन भेजने के बजाय, उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

सोरेन ने मामले में उन्हें जारी किए गए समन पर तीन हफ्ते की मोहलत मांगी थी।”

“झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ED ने जनप्रतिनिधित्व अधिनियम,

1951 के उल्लंघन और साहेबगंज जिले में एक अवैध खनन मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग जांच में जांच के लिए बुलाया था।

Friday Thought – परमात्मा सब जानता है, इन्सान की नियत भी और उसके दिखावे भी

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button