breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Jharkhand में चंपई सोरेन ने 43 विधायकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया,हेमंत सोरेन 1 दिन की न्यायिक हिरासत में

अब चंपई सोरेन(Champai Soren) ने राज्यपाल से मिलकर 43 विधायकों के समर्थन पत्र के साथ राज्य में नई सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया(Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-47-MLAs)है। इससे पहले चंपई सोरेन सहित महागठबंधन के सभी साथी(JMM, RJD, कांग्रेस) का दावा था कि झारखंड के राज्यपाल उन्हें समर्थन पत्र मिलकर दिखाने का मौका नहीं दे रहे और वहीं विपक्षी दल भाजपा झारखंड में भी महाराष्ट्र(Maharashtra)और मध्यप्रदेश(MadhyaPradesh) व गोवा(Goa)की तरह ऑपरेशन लोट्स करके विधायकों को तोड़ने की जुगत में है।

Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-43-MLAs-झारखंंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन(Jharkhand Hemant Soren in on day judicial custody)को कोर्ट ने आज एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

हालांकि ईडी(Enforcement Directorate)ने हेमंत सोरेन(Hemant Soren) के लिए 14 दिन की रिमांड मांगी थी।

पीएमएलए कोर्ट(PMLA)इस प्रवर्तन निदेशालय की मांग पर कल यानि शुक्रवार फिर से सुनवाई करेगी।

वहीं हेमंत सोरेन के न्यायिक हिरासत में जाते ही झारखंड में सियासी बवाल उफान पर (Jharkhand Political Crisis) है।

सत्तारूढ़ दल झारखंड मुक्ति मोर्चा और गठबंधन के सहयोगियों ने चंपई सोरेन को निर्वाद रूप से झारखंड का नया मुख्यमंत्री चुन(Champai Soren will be Jharkhand new CM)लिया है।

अब चंपई सोरेन(Champai Soren)ने राज्यपाल से मिलकर 43 विधायकों के समर्थन पत्र के साथ राज्य में नई सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया(Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-47-MLAs)है।

इससे पहले चंपई सोरेन सहित महागठबंधन के सभी साथी(JMM, RJD, कांग्रेस) का दावा था कि झारखंड के राज्यपाल उन्हें समर्थन पत्र मिलकर दिखाने का मौका नहीं दे रहे

और वहीं विपक्षी दल भाजपा झारखंड में भी महाराष्ट्र(Maharashtra)और मध्यप्रदेश(MadhyaPradesh) व गोवा(Goa)की तरह ऑपरेशन लोट्स करके विधायकों को तोड़ने की जुगत में है।

शाम तकरीबन साढ़े पांच बजे झारखंड के राज्यपाल ने झारखंड के चंपई सोरेन सहित सत्तारूढ महागठबंधन(JMM, RJD, कांग्रेस) के सभी विधायकों को राज्य में सरकार बनाने का न्यौता दिया।

जिसे चंपई सोरेन ने स्वीकार करके अपने 43 विधायकों के साथ राज्यपाल को झारखंड में सरकार बनाने का दावा पेश(Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-43-MLAs)किया।

बड़ी खबर-चुनाव आयोग ने झारखंड के CM हेमंत सोरेन को अयोग्य घोषित किया

चंपईसोरेन ने गुरुवार शाम साढ़े 5 बजे राजभवन जाकर राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन से मुलाकात की।

उन्होंने 43 विधायकों के समर्थन के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया, जिसके बाद राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने का न्योता(Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-43-MLAs)दिया।

चंपई सोरेन के सीएम पद पर शपथ लेने की तारीख का ऐलान शुक्रवार को किया जाएगा।

बुधवार को हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की गिरफ्तारी से ऐन वक्त पहले चंपाई सोरेन (Champai Soren) को महागठबंधन विधायक दल का नेता चुना गया था।

जिसके बाद चंपाई ने गुरुवार को राज्यपाल से मिलने का वक्त मांगा था। राज्यपाल से मिलने से पहले उन्होंने विधायकों की गिनती भी करवाई। इसके बाद 5 विधायकों के साथ राज्यपाल से मिलने गए।

चंपाई सोरेन ने राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन को लिखे पत्र में स्पष्ट किया है कि हेमंत सोरेन के इस्तीफे के बाद ही उनके नेतृत्व में सरकार बनाने का दावा पेश किया गया है।

चंपाई सोरेन ने लिखा, “हमने 47 विधायकों के समर्थन के दावे और 43 विधायकों की साइन का समर्थन पत्र आपको सौंपा(Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-43-MLAs)है।

43 विधायक बुधवार को राजभवन के गेट के बाहर भी खड़े थे। पिछले 18 घंटों से राज्य में कोई सरकार नहीं है। इससे असमंजस की स्थिति है। इसलिए आग्रह है कि सरकार बनाने के लिए हमें बुलाया जाए।”

 

भाजपा के NDA के सामने विपक्षी दलों ने बनाया नया मोर्चा ‘INDIA’, 2024 का रण INDIA बनाम NDA

 

भाजपा के निशिकांत दुबे का आरोप- चंपई सोरेन के पास नहीं है बहुमत
निशिकांत दुबे ने आरोप लगाया है कि JMM के 48-49 MLA हैं, लेकिन वो सिर्फ 42-43 का ही सिग्नेचर ले पाए हैं। सीता सोरेन, रामदास सोरेन बैठक में नहीं थे।

कांग्रेस के कई नेता बैठक में नहीं थे। मुझे लगता है कि इनके पास MLA नहीं है चंपाई सोरेन के पास बहुमत नहीं है।

 

 

 

हैदराबाद शिफ्ट किए जा सकते हैं महागठबंधन के विधायक 
झारखंड में सियासी संकट के बीच खबर है कि महागठबंधन (JMM, RJD, Congress)अपने विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट कर सकता है। विधायक दल के नेता चंपाई सोरेन समेत 5 MLA रांची में रहेंगे, जो हालात पर नजर रखेंगे।

बाकी विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट किया जाएगा। पूरे मामले पर बीजेपी ने भी शुक्रवार 2 फरवरी को अपने विधायक दल की बैठक बुलाई है।

 

शिबू सोरेन के बेहद खास माने जाते हैं चंपाई
चंपाई सोरेन को ‘झारखंड टाइगर’ के नाम से भी जाना जाता है। झारखंड की सियासी गलियारों में चंपाई को शिबू सोरेन का हनुमान कहा जाता है।

सरायकेला से इन्होंने 1991 से 2019 के बीच 6 बार विधानसभा का चुनाव जीता। 2000 में सिर्फ एक बार हारे।

हेमंत सोरेन जब पहली बार सीएम बने थे, तब इन्हें फूड सप्लाई और साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्टर बनाया गया था।

 

झारखंड रुझान/नतीजें : JMM+ शुरूआती रुझान में आगे निकली, बीजेपी भी पीछे नहीं

 

 

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

 

Jharkhand-Champai-Soren-claim-to-form-govt-with-43-MLAs

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button