breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

योगी सरकार ने भी इस वर्ष UP में रद्द की कांवड़ यात्रा, कांवड़ संघ ने भी दिया समर्थन

उत्तर प्रदेश के पड़ोसी राज्य उत्तराखंड ने मंगलवार को ही कांवड़ यात्रा रद्द कर दी थी।

Yogi-govt-also-cancelled-Kanwar-Yatra-in-UP-this-year

नई दिल्ली:उत्तराखंड की ही तरह यूपी में भी इस वर्ष कांवड़ यात्रा नहीं होगी।

राज्य की योगी सरकार ने शनिवार को कांवड़ संघ(Kanwar Sangh also supported)के फैसले का हवाला देते हुए एलान किया कि इस वर्ष उत्तर प्रदेश में भी कांवड़ यात्रा रद्द की जा (Kanwar-Yatra cancelled in UP)रही है। 

बता दें कि शुक्रवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने यूपी की योगी सरकार(Yogi Govt) को बढ़ते कोरोना केसों के मद्देनजर कांवड़ यात्रा(Kanwar Yatra) की अनुमति देने के फैसले पर सवाल खड़े किए थे और कहा था कि उत्तर प्रदेश सरकार को कोर्ट पुनर्विचार के लिए एक और मौका दे रहा है।

कांवड़ यात्रा 2021 गाइडलाइंस : हरिद्वार के सभी बॉर्डर सील, क्वारंटीन अनिवार्य

सोमवार तक योगी सरकार यूपी में कांवड़ यात्रा(Kanwar Yatra)रद्द करने के फैसले पर विचार करें अन्यथा हम आदेश देंगे।

इसी बीच शनिवार को उत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि ‘यूपी सरकार के निवेदन के बाद कांवड संघ ने यूपी में कांवड़ यात्रा रद्द करने का फैसला(Yogi-govt-also-cancelled-Kanwar-Yatra-in-UP-this-year)किया है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को कहा था कि वह कोविड की स्थिति को ध्यान में रखते हुए ‘‘कांवड़ संघों’‘ से बात कर रही है और कांवड़ यात्रा को लेकर सरकार का प्रयास है कि धार्मिक भावनाएं भी आहत न हों और महामारी से बचाव भी हो जाए।

उत्तर प्रदेश के पड़ोसी राज्य उत्तराखंड(Uttrakhand cancelled Kanwar Yatra) ने मंगलवार को ही कांवड़ यात्रा रद्द कर दी थी।

इसके साथ ही 24 जुलाई से कांवड़ियों के लिए राज्य की सीमा बंद करने का फैसला भी किया गया है।

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने यह बताया। उत्तराखंड सरकार ने राज्यों को हरिद्वार से टैंकरों के जरिए गंगा जल(Ganga Jal) ले जाने की मंजूरी दी है।

कोरोना मृतकों के लिए दें मुआवजा,NDMA 6 हफ्ते में जारी करें गाइडलाइन:सुप्रीम कोर्ट

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने कांवड़ यात्रा(Kawad Yatra) मामले पर स्वत: संज्ञान लेते हुए यूपी सरकार और केंद्र से जवाब मांगा था।

यूपी सरकार ने कोर्ट को बताया था कि प्रतिकात्मक यात्रा का आयोजन किया जाएगा, और जिन श्रद्धालुओँ को कोरोना वैक्सीन(Corona Vaccine) लग चुकी है, उन्हें ही इसमें हिस्सा लिया जाएगा।

केंद्र सरकार ने धार्मिक आस्था बताते हुए कांवड़ यात्रा का विरोध नहीं किया था।

हर साल करीब 30 लाख कांवड़िए उत्तर भारत की अलग-अलग जगह से चलकर हरिद्वार से गंगाजल लाकर अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित शिव मंदिरों में चढ़ाते हैं।

बता दें कि हिंदू कैलेंडर के अनुसार श्रावण के महीने की शुरुआत के साथ शुरू होने वाली पखवाड़े की यात्रा अगस्त के पहले सप्ताह तक चलती है और उत्तर प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली सहित पड़ोसी राज्यों से हरिद्वार में कांवड़ियों का एक बड़ा जमावड़ा होता है।

बीते वर्ष कांवड़ संघों ने सरकार के साथ बातचीत के बाद खुद ही यात्रा स्थगित कर दी थी।

Yogi-govt-also-cancelled-Kanwar-Yatra-in-UP-this-year

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 8 =

Back to top button