breaking_newsअन्य ताजा खबरेंराजनीतिक खबरेंविभिन्न खबरेंविश्व
Trending

ट्रंप ने चीनी छात्रों के आने पर लगाया बैन, यह छात्र कुछ चुनिंदा क्षेत्रों से संबंधित है

प्रतिबंध सूची में वो विद्यार्थियों और शोधार्थी शामिल है जिनका संबंध चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी से है।

trump-bans-entry-of-certain-groups-of-chinese-students in america

अमेरिका : पूरे विश्व में कोरोना का कहर जारी है l अमेरिका में कोरोना का कहर कम होने का नाम ही नहीं ले रहा l 

Corona के लिए अमेरिका लगातार चीन को निशाने पर ले रहा है l

वह कोरोना वायरस को लेकर चीन को कटघरे में खड़े करने से कही भी नहीं चुक रहा l

इसलिए उसने WHO को भी नहीं छोड़ा और WHO से नाता भी तोड़ लिया l

अब यूएस(US) प्रेसिडेंट ट्रंप ने चाइना से कुछ खास क्षेत्रों से संबंधित  विद्यार्थियों और शोधार्थियों पर अमेरिका आने से प्रतिबंध लगा दिया है।

इस प्रतिबंध सूची में वो विद्यार्थियों और शोधार्थी शामिल है जिनका संबंध चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी से है।

बड़ी खबर : अमेरिका ने WHO से नाता तोड़ा, कहा WHO चीन की कठपुतली 

इस फैसले का ऐलान करते हुए ट्रंप ने कहा कि अमेरिका से इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट और टेक्नोलॉजी हासिल करने के लिए ग्रेजुएट छात्रों का इस्तेमाल करने की चीन की कोशिशों को खत्म करने के लिए यह कदम उठाया गया है।

दूसरी तरफ, चीन ने अमेरिका में उसके छात्रों पर प्रतिबंध लगाने की ट्रंप की धमकी को शुक्रवार को नस्लवादी बताया था।

डॉनल्ड ट्रंप का यह एलान कोरोना और हॉगकॉग के मुद्दे पर चीन और अमेरिका के बीच लगातार बढ़ते तनाव के बीच में आया है।

trump-bans-entry-of-certain-groups-of-chinese-students in america

शुक्रवार को  यह एलान करते हुए ट्रंप ने कहा कि चीन अपनी विशाल पीपुल्स लेब्रेरशन आर्मी के आधुनिकीकरण के लिए लगातार संवेदनशील अमेरिकी टेक्नोलॉजी को किसी ना किसी तरीके से हासिल करने में लगा रहा है।

उन्होंने आगे कहा कि चाइना का ये कार्य अमेरिका के दीर्घकालिक आर्थिक हितों और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन गए हैं।

ट्रंप ने आरोप लगाया है कि चीन अपने कुछ विद्यार्थी जिनमें ज्यादातर पोस्ट ग्रेजुएट और रिसर्चर शामिल है,

का इस्तेमाल इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट हासिल करने के लिए करता है।

इसको देखते हुए पीपुल्स लेब्रेरशन आर्मी से जुड़े चाइनाज विद्यार्थियों

और शोधकतार्ओ के चीनी सैन्य अधिकारियों के हाथों इस्तेमाल होने का खतरा ज्यादा है और यह अमेरिका के लिए चिंता का विषय़ है।

प्रेसिडेंट ट्र्ंप ने आगे कहा कि इस खतरे को देखते हुए अमेरिकी सरकार ने फैसला लिया है कि

अमेरिका में पढ़ाई या रिसर्च करने के लिए F या J वीजा मांगने वाले कुछ चाइनीस नागरिकों का अमेरिका में प्रवेश अमेरिकी हितों के खिलाफ होगा।

trump-bans-entry-of-certain-groups-of-chinese-students in america

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + nine =

Back to top button