breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें
Trending

Breaking News : सरकार का रेल चलाने का फैसला

फंसे पर्यटक, छात्र मजदुर आदि लोगों के लिए सरकार ने ट्रेन चलाने का बड़ा फैसला लिया है l

breaking-news governments-decision-to-run-rail

नई दिल्ली (समयधारा) : देश में लॉक डाउन के चलते कई दिनों से ट्रेन-बस-हवाई जहाज सभी तरह के ट्रांसपोर्ट पर बैन लगा हुआ है l 

पर अभी-अभी खबर आई है की सरकार ने फंसे पर्यटक, छात्र मजदुर आदि लोगों के लिए सरकार ने ट्रेन चलाने का बड़ा फैसला लिया हैl

लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से अलग-अलग राज्‍यों में फंसे लोगों के लिए बेहद अच्‍छी खबर है।

केंद्र सरकार ने उनके लिए स्‍पेशल ट्रेन्‍स चलाने की परमिशन दे दी है।

शुक्रवार को प्रधानमंत्री आवास पर हुई बैठक में इस बारे में फैसला हुआ। इस मीटिंग में पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा,

गृह मंत्री अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और पीएम के प्रधान सचिव पीके मिश्रा शामिल रहे।

गौरतलब है कि  अलग-अलग राज्य सरकारों की तरफ से प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक जाने देने के लिए की जा रही अपील को देखते हुए lसरकार ने यह फैसला लिया है l 

इसके लिए ट्रेनों को चलाने की मांग को मद्दे नजर रख कर भारतीय रेलवे ने आज यानी 1 मई की सुबह 4.50 बजे 24 कोचों वाली एक स्पेशल ट्रेन भी रवाना की।

इस ट्रेन पर 1200 प्रवासी सवार हैं। ये ट्रेन आंध्रप्रदेश के लिंगमपल्ली से झारखंड के हटिया जा रही है। ये नॉन स्टॉप ट्रेन है।

breaking-news governments-decision-to-run-rail

इंडियन रेलवे ने आज जारी किए गए अपने एक स्टेटमेंट में कहा है कि रेल मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक आज सुबह पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लिंगमपल्ली से हटिया तक के लिए ट्रेन चलाई गई है।

इसके लिए सभी तरह की सावधानियां बरती गई है जिसमें पैसेजरों की स्क्रीनिंग, ट्रेनों और स्टेशनों पर सोशल डेस्टेसिंग का पालन शामिल है।

इससे पहले देश में कोरोना की स्थिति इस प्रकार है l 

देश भर में कोरोना से हालात ख़राब है करीब 40 दिनों के लॉकडाउन की वजह से आर्थिक हालात और बुरे हुए है l 

अकेले महाराष्ट्र में कोरोना के मरीजों की संख्या में बेतहाशा बढ़ोत्तरी हुई है l

मुंबई में तो कोरोना का कहर किसी भी सदमे से कम नहीं है l  कोरोना के बीच बॉलीवुड को पिछले दो दिनों में काफी बड़े झटके लगे l

पहले 29 अप्रैल को इरफ़ान खान का इंतकाल और उसके बाद 30 अप्रैल को ऋषि कपूर का दुनिया से अचानक अलविदा कह जाना  सभी देशवासियों को चौका गया l

इन बेहतरीन कलाकारों के जाने से देश-दुनिया के सभी लोग स्तब्ध रह गए है l

breaking-news governments-decision-to-run-rail

कोरोना से  पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1993 मामले आये है l इसी के साथ अभी तक कोरोना के कुल 35,043 मामले सामने आये है l 

वही इनसे मरने वालों की संख्या बढ़कर 1147 हो गयी है l पिछले 24 घंटे में 73 लोगों की मौत हो चुकी है l

अभी तक करीब 8889 मरीज ठीक हो चुके है l पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 564 मरीज ठीक हुए है l 

पर अभी भी देश में करीब-करीब 25,007मरीज कोरोना से संक्रमित है l

बात करें राज्यों की तो महाराष्ट्र-10498मरीजों के साथ अभी भी देश में नंबर एक की पोजीशन पर बना हुआ है l

इसके पीछे गुजरात-4395, दिल्ली-3515,मध्यप्रदेश-2660, राजस्थान-2584 और  उत्तर प्रदेश-2203 है l 

राज्यों के अनुसार कोरोना के कुल मरीजों की संख्या व मौतों का आंकड़ा इस प्रकार है l 

कोरोना बड़ी खबर : देश में कोरोना के मामले 30,000 के पार,मौत का आंकड़ा 937
देश में कोरोना के कुल 31,332 मामले, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1897 मामले आये,अभी तक करीब 7696 मरीज ठीक

breaking-news governments-decision-to-run-rail

  1. महाराष्ट्र – 10498 मौतें – 459
  2. गुजरात – 4395, मौतें – 214
  3. दिल्ली – 3515, मौतें – 69
  4. मध्य प्रदेश – 2660, मौतें – 137
  5. राजस्थान – 25584 मौतें – 58
  6. उत्तर प्रदेश – 2203, मौतें – 39
  7. तमिलनाडू – 2323, मौतें – 27
  8. आंध्रप्रदेश – 1403, मौतें – 31
  9. तेलंगाना – 1038, मौतें – 26
  10. वेस्ट बंगाल – 795, मौतें – 33
  11. जम्मू कश्मीर – 614, मौतें – 8
  12. कर्नाटक – 565, मौतें – 21
  13. केरल – 497, मौतें – 4
  14. पंजाब – 357, मौतें – 19
  15. हरियाणा – 313, मौतें – 3
  16. बिहार – 418, मौतें – 2 
  17. ओडिशा – 142, मौतें – 1
  18. झारखंड – 107, मौतें – 3
  19. उत्तराखंड – 57, मौतें – 0
  20. हिमाचल प्रदेश – 40, मौतें – 1
  21. छतीसगढ़ – 40, मौतें – 0
  22. असम – 42, मौतें – 1 
  23. चंडीगढ़ – 56, मौतें – 0
  24. अंडमान निकोबार – 33, मौतें – 0
  25. लद्दाख – 22, मौतें – 0
  26. मेघालय – 12 , मौते – 1
  27. गोवा – 7, मौत – 00
  28. पांडेचेरी – 8, मौत – 00
  29. त्रिपुरा – 2, मौत – 00
  30. मणिपुर – 2, मौत – 00
  31. अरुणाचल प्रदेश – 1,मौत – 00
  32. मिजोरम – 1, मौत – 00

breaking-news governments-decision-to-run-rail

कोरोना बड़ी खबर : देश में कोरोना के मामले 30,000 के पार,मौत का आंकड़ा 937
Covid19 news-updates-in-hindi corona-Total-Cases-31332-mark death-toll-1007

अब बात करते है देश के राज्यों के हालात : 

महाराष्ट्र : देश में सबसे बुरे हालात अगर किसी राज्य के है तो वो है महाराष्ट्र के इस राज्य में कोरोना के कुल मामले 10000 को पार कर गए है l

अकेले मुंबई का योगदान इसमें सबसे ज्यादा है l पूरे देश में मायानगरी मुंबई के हालात काफी बुरे है l

इस बीच 29 अप्रैल को इरफ़ान खान और फिर 30 अप्रैल को ऋषि कपूर के गुजर जाने के बाद हालात काफी बदतर हो गए है l

महाराष्ट्र में मरने वाले मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है l कल 27 नई मौतों के साथ मरने वालों का आंकडा 459 लोगों की मौत हो चुकी है l 

दिल्ली :देशं की राजधानी दिल्ली में भी हालात कम ख़राब नहीं है l

breaking-news governments-decision-to-run-rail

राजधानी दिल्ली के आजादपुर मंडी में 11 मौतों से हडकंप मच गया है l 

वही राजधानी दिल्ली में रेड हॉट स्पॉट इलाकों में काफी बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है l

दिल्ली में कुल मरीजो की संख्या 3515 के आसपास हो गयी है l दिल्ली से सटी सभी सीमाओं को बंद कर दिया गया है l 

गृह मंत्रालय ने बताया है कि सरकार कोरोनावायरस महामारी को लेकर नए गाइडलाइंस पेश करेगी।

नई गाइडलाइंस 4 मई को जारी की जा सकती हैं।  4 मई को ही लॉकडाउन का दूसरा चरण खत्म हो रहा है।

सरकार के मुताबिक, इन गाइडलाइंस के तहत कुछ राहत मिल सकती है। गृह मंत्रालय ने कहा, “इस मामले से जुड़ी जानकारी अगले कुछ दिन में दी जाएगी।”

breaking-news governments-decision-to-run-rail

इससे पहले सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए खास योजना का ऐलान किया था।

सरकार प्रवासी मजदूरों, तीर्थ यात्रियों, छात्रों को राज्यों के बॉर्डर क्रॉस करके उन्हें घर पहुंचाने की योजना है।

यूनियन होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने राज्यों को लिखे अपने लेटर में कहा है,

“लॉकडाउन की वजह से मजदूर, तीर्थयात्री, छात्र और पर्यटक सहित कई दूसरे लोग अलग-अलग जगहों पर फंस गए हैं। “

 पूर्व आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने राहुल गांधी से कहा, “हमारी क्षमताएं सीमित हैं लिहाजा हमें प्रायोरिटी के हिसाब से काम करना चाहिए।

हमारे पास पश्चिमी देशों के मुकाबले कम फंड है। तो जब हम इकोनॉमी खोलेंगे तो धीरे-धीरे हालात सुधरेंगे।

सबके लिए खाने का इंतजाम करना बहुत जरूरी है। सरकार  को अभूतपूर्व तरीके से इस समस्या से निपटना चाहिए।”breaking-news governments-decision-to-run-rail

 

 

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − four =

Back to top button