breaking_newsHome sliderअपराधदेश

कोयला घोटाला: कांग्रेस के पूर्व सांसद नवीन जिंदल समेत पांच के खिलाफ समन जारी

नई दिल्ली, 25 मार्च : कांग्रेस के पूर्व सांसद नवीन जिंदल के खिलाफ कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में एक अदालत ने यहां शुक्रवार को जिंदल स्टील के सलाहकार आनंद गोयल सहित पांच लोगों के खिलाफ समन जारी किया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने इन पांचों के खिलाफ नया अनुपूरक आरोप-पत्र दाखिल किया है।

विशेष न्यायाधीश भरत पाराशर ने आरोपपत्र पर विचार करते हुए गोयल, गुरुग्राम स्थित ग्रीन इन्फ्रा के उपाध्यक्ष सिद्धार्थ माद्रा, मुंबई स्थित केई इंटरनेशनल के मुख्य वित्तीय अधिकारी राजीव अग्रवाल, निहार स्टॉक्स लिमिटेड के निदेशक बी.एस.एन. सूर्यनारायण और मुंबई स्थित एस्सार पॉवर लिमिटेड के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुशील कुमार मारू के खिलाफ समन जारी किया।

इन पांचों को 10 अप्रैल तक अदालत में पेश होने के निर्देश दिए गए हैं।

इसके पहले सीबीआई ने अदालत में एक नया अनुपूरक आरोप-पत्र दाखिल किया, जिसमें इन पांचों का नाम शामिल है।

अदालत के सूत्रों के मुताबिक, सीबीआई ने कहा कि पांचों व्यक्ति जिंदल रियल्टी नई दिल्ली एक्जिम से सौभाग्य मीडिया लिमिटेड (एसएमएल)में 2 करोड़ रुपये के स्थानांतरण में शामिल थे।

यह भी पढ़े:25 चप्पलों का ऐसा किया वार, अब नहीं हो पाएंगे कभी किसी भी प्लेन में सवार

सीबीआई ने यह भी कहा कि रकम पूर्व कोयला राज्य मंत्री दसारी नरायण राव की कंपनी सौभाग्य मीडिया में स्थानांतरित कर दी गई। इसका मकसद झारखंड के अमरकोंडा मुर्गदांगल कोयला ब्लॉक का आवंटन जिंदल स्टील और गगन स्पांज को करना था।

इस मामले में अंतिम जांच रपट अभियोजन पक्ष के एक गवाह, चार्टर्ड अकाउंटेंट और नई दिल्ली एक्जिम प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक सुरेश सिंघल के बयान के आधार पर दाखिल की गई है।

अदालत झारखंड के अमरकोंडा मुर्गादंगल कोयला ब्लॉक को जिंदल स्टील और गगन स्पॉन्ज को आवंटित करने से संबंधित मामले की सुनवाई कर रही थी।

इस मामले में कांग्रेस सांसद और उद्योगपति जिंदल के अतिरिक्त पूर्व केंद्रीय कोयला राज्य मंत्री दासारि नारायण राव, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा और पूर्व कोयला सचिव एस.सी. गुप्ता तथा अन्य आरोपी हैं।

यह भी पढ़े: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ है अखिलेश यादव के साले!

सबीआई ने अप्रैल 2015 में जिंदल, कोड़ा, राव तथा गुप्ता के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल किए थे।

मामले में के अन्य आरोपियों में जिंदल रियलिटी के निदेशक राजीव जैन, गगन स्पॉन्ज के निदेशक गिरीश कुमार जुनेजा और आर. के. सर्राफ तथा सौभाग्य मीडिया के प्रबंध निदेशक के. रामकृष्ण हैं।

आरोप-पत्र में जिन पांच निजी कंपनियों के नाम शामिल किए गए हैं, उनमें से चार दिल्ली और एक हैदराबाद में स्थित है। आरोपियों ने सभी आरोपों से इनकार किया है।

–आईएएनएस

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 − 12 =

Back to top button